सहकार भारती राष्ट्रीय और जिला स्तर पर सम्मेलन आयोजित करेगी

सहकारी आंदोलन को मजबूत बनाने के लिए सहकार भारती राष्ट्रीय और जिला स्तर पर सम्मेलन आयोजित करे

By: Ashish Pathak

Published: 24 Sep 2021, 04:50 PM IST

रतलाम. सहकार भारती के राष्ट्रीय संगठन को अधिक प्रभावी बनाने के लिए दिसंबर में लखनऊ में राष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित किया जा रहा है, जिसमें प्रदेश से लगाकार ब्लाक स्तर तक इकाईयों को संगठित करने की दृष्टि से अनेक निर्णय लिए जाएंगे। इसके पूर्व 15 नवंबर तक प्रदेश के सभी जिलों में जिला सम्मेलन आयोजित किए जाएंगे ताकि सहकारिता आंदोलन को मजबूत बनाने के लिए संगठित रुप से कार्य किया जा सके। वर्तमान में प्रदेश के सभी जिलों में जिला इकाईयां कार्य कर रही है, जहां इकाईयों को पुनर्गठित करना है वहां नई इकाईयां गठित की जाएगी। प्रधानमंत्री ने भी हाल ही में सहकारिता का पृथक से विभाग बनाकर उनके सहयोगी को महत्वपूर्ण जिम्मेदारी सौंपी है।

यह बात प्रदेश के सहसंगठन मंत्री कृष्णकांत द्विवेदी ने यहां आयोजित सहकार भारती की जिला बैठक में कही। बैठक में प्रदेश महामंत्री योगेन्द्रसिंह सिसौदिया भी उपस्थित थे। द्विवेदी ने कहा कि सहकारिता जियो और जीने दो का मूल मंत्र है। यदि सहकारिता मजबूत हुई तो समाज और देश मजबूत होगा, क्योंकि यही ऐसा माध्यम है जो समाज को एक-दूसर को सूत्र में बांधता है। सहकारिता के माध्यम से ही अनेक योजना संचालित हो रही है। प्रधानमंत्री ने भी हाल ही में सहकारिता का पृथक से विभाग बनाकर उनके सहयोगी को महत्वपूर्ण जिम्मेदारी सौंपी है। इसके पीछे उद्देश्य यही है कि हम सहकारिता के माध्यम से देश में कैसा नेटवर्क तैयार कर सकते है जो समाज के कमजोर, दुर्बल और जरूरतमंद लोगों के लिए सहायक सिद्ध हो सके। द्विवेदी ने सहकार भारती के विस्तार की अनेक योजनाओं पर प्रकाश डाला और कहा कि युवा वर्ग को सहकारिता से जोड़ा जाए और ऐसी समितियां बनाई जाएं जो लोगों को आत्मनिर्भर बनाने में मददगार हो सके।

सहकार भारती
IMAGE CREDIT: patrika

प्रस्तावों की जानकारी दी

प्रदेश संगठन मंत्री योगेन्द्रसिंह सिसौदिया ने पिछले दिनों भोपाल में आयोजित हुए प्रांतीय सम्मेलन में पारित प्रस्तावों की जानकारी दी और कहां कि प्रांतीय सह संगठन मंत्री के साथ वे प्रदेशव्यापी दौरा कर रहे है, ताकि संगठन को सक्रिय किया जा सके और अधिक से अधिक लोगों को सहकार भारती से जोडऩे के प्रयत्न किया जा सके। उन्होंने रतलाम जिला इकाई की प्रशंसा की और कहा कि यहां पर सहकार भारती के राष्ट्रीय स्तर तक के कार्यक्रम सफलतापूर्वक आयोजित हुए। हम चाहेंगे कि सहकारी क्षेत्र केे कार्यकर्ताओं की सुनवाई हर स्तर पर हो ताकि सहकारी संस्थाएं भी मजबूत हो और उनसे अधिक से अधिक लोग जुड़ सके। सहकारिता नेता शरद जोशी, दुग्ध डेयरी प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक देवेन्द्र शर्मा ने भी संबोधित किया। स्वागत भाषण जिलाध्यक्ष सुभाष मंडवारिया ने देते हुए जिले में चल रही संगठन की गतिविधियों की जानकारी दी। आभार महामंत्री सुनील पोरवाल ने व्यक्त किया। अतिथियों का साफा और शाल से सम्मान किया गया। इस अवसर पर जिला संगठन प्रमुख योगेन्द्र कोठारी, पूर्व जिलाध्यक्ष छोगालाल पाटीदार, महिला प्रकोष्ठ की जिलाध्यक्ष अर्चना अग्रवाल, उषा भार्गव, उमा भारद्वाज, दीपाली बुचके, सरोज गुप्ता, लक्ष्मी कुमावत, इंदु यादव,गोवर्धन सेन, नीरज सेन, माणक राठौर, राकेश सेन, सुनील बैरागी सहित कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Ashish Pathak Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned