scriptSeeing the danger of Omicron looming in the district, the collector to | जिले में ओमीक्रोन के खतरे को मंडराता देख कलेक्टर ने लिया तैयारियों का जायजा | Patrika News

जिले में ओमीक्रोन के खतरे को मंडराता देख कलेक्टर ने लिया तैयारियों का जायजा

- मेडिकल कॉलेज में जाकर तीसरी लहर से निपटने के लिए अब तक की तैयारियों को देखा और अधिकारियों को दिए निर्देश

रतलाम

Updated: December 22, 2021 05:29:17 pm

रतलाम। जिले में कोरोना के ओमीक्रोन वेरिएंट के खतरे को मंडराता देख प्रशासन अब अलर्ट मोड पर आ गया है। करीब डेढ़ माह के लंबे अंतराल के बाद कोरोना का नया मामला सामने आने के बाद प्रशासन के साथ स्वास्थ्य विभाग की सांसे फूल गई है। दरअसल देश के साथ प्रदेश में कोरोना मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा होने लगा है। एेसे में रतलाम में तीसरी लहर से निपटने के लिए प्रशासन ने अभी तैयारियां शुरू कर दी है।
जिले में ओमीक्रोन के खतरे को मंडराता देख कलेक्टर ने लिया तैयारियों का जायजा
जिले में ओमीक्रोन के खतरे को मंडराता देख कलेक्टर ने लिया तैयारियों का जायजा
इसी के चलते बुधवार को कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम मेडिकल कॉलेज पहुंचे और यहां स्वास्थ्य विभाग के अमले की बैठक लेकर तैयारियों का जायजा लिया। कलेक्टर ने कोरोना की तीसरी लहर से निपटने के लिए बैठक ली और व्यवस्थाओं की समीक्षा की। मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ. जितेंद्र गुप्ता और मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ प्रभाकर ननावरे ने भी जिले की स्वास्थ्य संस्थाओं में तीसरी लहर से निपटने की तैयारियों की जानकारी दी। इस दौरान पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी, जिला मलेरिया अधिकारी डॉ प्रमोद प्रजापति, डॉ गौरव बोरिवाल भी मौजूद रहे।
दूसरी लहर से बेहतर तैयारी
बैठक में बताया कि कोरोना की तीसरी लहर से निपटने की पुख्ता तैयारी है, पूर्व में जो कमियां थी उनकी पूर्ति लगभग कर ली गई है। जिले में अब 4 ऑक्सीजन प्लांट है जिनमें दो जावरा, एक मेडिकल कॉलेज और एक जिला चिकित्सालय में है। सभी प्लांट बेहतर स्थिति में है, उनकी मॉक ड्रिल भी कर ली गई है। मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन क्षमता वृद्धि के लिए दो टैंक अब उपलब्ध हैं। मेडिकल उपकरण, मेडिसिन स्टॉफ आदि उपलब्ध है।
हर बिंदु पर ली जानकारी
कलेक्टर ने निर्देश दिए कि जावरा के निर्माणाधीन मातृ शिशु अस्पताल में भी तीसरी लेने से निपटने की तैयारी रखें। वहां आलोट तक के मरीज कवर किए जा सकते हैं। साथ ही तैयारियों में कोई भी कमी न रहने की बात कही। डीन डॉ. जितेंद्र गुप्ता ने कॉलेज की तैयारियों के संबंध में बताया कि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान कॉलेज में 550 बेड थे, अब 654 बेड है। मेडिकल कॉलेज में 172 एचडीयू बेड थे, अब 180 बेड है। १७९ ऑक्सीजन कंसंटे्रटर है, जिनसे शत-प्रतिशत बेड ऑक्सीजनयुक्त रहेंगे। 327 कुल नर्सिंग स्टाफ है और जरूरत पड़ी तो राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन से अतिरिक्त स्टाफ मिल जाएगा।
जिले में 943 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर
सीएमएचओ ने बताया कि जिले में विभिन्न चिकित्सा संस्थाओं में 943 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर उपलब्ध है। जिला चिकित्सालय में 7 वेंटिलेटर है, जिनमें से छह चालू है। कलेक्टर ने सभी वेंटिलेटर चालू हालत में रखने के निर्देश दिए। 2 बाई पेप मशीन है। आगामी 25 दिसंबर तक मेडिकल कॉलेज और जिला चिकित्सालय के लिए सीटी स्कैन मशीनें उपलब्ध हो जाएगी।
नवीन कन्या परिसर में कोविड केयर सेंटर
कोविड- केयर सेंटर अभी एक तैयार है जो रतलाम स्थित नवीन कन्या परिसर में बनाया गया है। कलेक्टर ने जिला चिकित्सालय में एक वार्ड बनाने के निर्देश दिए। साथ ही मेडिकल कॉलेज में एक वार्ड संदेहास्पद मरीजों के लिए तैयार करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने मरीज, उनके परिजनों और मेडिकल स्टाफ के लिए कैंटीन की व्यवस्था के साथ लॉन्ड्री व्यवस्था भी मेडिकल कॉलेज में करने के निर्देश दिए।
--------------------

एेसी है बेड की स्थिति
बेड संख्या - वार्ड
180 ------ एचडीयू
72 ------ आईसीयू
28 ------ पीडियाट्रिक आईसीयू बेड
450 ------ ऑक्सीजन बेड
654 ------ कुल बेड
179 ------ ऑक्सीजन कंसंटे्रटर मेडिकल कॉलेज में
----------------


मेडिकल कॉलेज में व्यवस्था
48 घंटे का ऑक्सीजन बेकअप रहेगा
96 प्रतिशत मरीज रिकवर किए प्रथम लहर में
91 प्रतिशत मरीज दूसरी लहर में रिकवर हुए
307 नया नर्सिंग स्टाफ आया
327 कुल नर्सिंग स्टाफ
76 वेंटीलेटर
19 बायपेप मशीन
176 बेड साइड मॉनिटर
--------------------

मेडिकल कॉलेज को इसकी है जरूरत
- पीडियाट्रिक्स के लिए और वेंटिलेटर चाहिए।
- छोटे ऑक्सीजन सिलेंडर की अतिरिक्त आवश्यकता
- वर्तमान में 30 सिलेंडर उपलब्ध है
- दो डायलिसिस यूनिट और चाहिए
- मरीज बढऩे पर तीन से चार एंबुलेंस की जरूरत, अभी एक है
--------------------

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Republic Day 2022: 939 वीरों को मिलेंगे गैलेंट्री अवॉर्ड, सबसे ज्यादा मेडल जम्मू-कश्मीर पुलिस कोRepublic Day 2022 LIVE :गणतंत्र दिवस की पूर्व संख्या पर जवानों की बहादुरी को सलाम, ITBP के 18 जवानों को पुलिस सेवा पदकBudget 2022: कोरोना काल में दूसरी बार बजट पेश करेंगी निर्मला सीतारमण, जानिए तारीख और समयशरीयत पर हाईकोर्ट का अहम आदेश, काजी के फैसलों पर कही ये बातUP Assembly Elections 2022 : हेमा, जया, स्मृति और राजबब्बर रिझाएंगें मतदाताओं को, स्टार प्रचारकों की लिस्ट में हैं शामिलस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाUttar Pradesh Assembly Elections 2022: सपा का महा गठबंधन अखिलेश के लिए बड़ी चुनौतीबजट से पहले 1 फरवरी को बुलाई गई विधायक दल की बैठक, यह है अहम कारण
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.