scriptSmart Policing will redress public grievances Gravity Redressal Cell | स्मार्ट पुलिसिंग: जन शिकायतों के त्वरित निराकण के लिए गठित की ग्रेविएंस रेड्रेसेल सेल | Patrika News

स्मार्ट पुलिसिंग: जन शिकायतों के त्वरित निराकण के लिए गठित की ग्रेविएंस रेड्रेसेल सेल

थानों पर आने वाली शिकायतों का त्वरित निराकरण करने के लिए उठाया पुलिस विभाग ने कदम

रतलाम

Published: January 28, 2022 12:16:37 pm

रतलाम।
आम जनता की शिकायतों का थाना स्तर पर त्वरित व संतुष्टीपूर्ण निराकरण के लिए पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी ने स्मार्ट पुलिसिंग के तहत ग्रेविएंस रेड्रेसल सेल का गठन किया है। यह सेल थाना स्तर पर भी मिलने वाली शिकायतों के निराकरण के लिए त्वरित कार्रवाई करेगी। जिलास्तर पर यह सेल एसपी कार्यालय में काम करेगी। एसपी तिवारी ने बताया इस सेल के गठन से आम जनता को जल्द न्याय दिलाने का प्रयास किया जाएगा। पहले चरण में यह व्यवस्था जिले के थाना स्टेशन रोड, माणकचौक, दीनदयाल नगर, औधोगिक क्षेत्र रतलाम एवं थाना बिलपांक में ट्रायल के रूप में प्रारम्भ की गई है। भविष्य में सम्पूर्ण जिले में लागू किया जाएगी।
स्मार्ट पुलिसिंग: जन शिकायतों के त्वरित निराकण के लिए गठित की ग्रेविएंस रेड्रेसेल सेल
स्मार्ट पुलिसिंग: जन शिकायतों के त्वरित निराकण के लिए गठित की ग्रेविएंस रेड्रेसेल सेल
ऐसे काम करेगी यह सेल
थाना प्रभारी प्रतिदिन स्वयं इन शिकायतों को सुनेंगे व उनकी गैर मौजूदगी में थाने पर इसके लिए एक अधिकारी नियुक्त होगा। यह अधिकारी शिकायतकर्ता की शिकायत को सुनेगा व रजिस्टर में जानकारी इंद्राज कर तत्काल वैधानिक कार्रवाई करना सुनिश्चित करेगा। अधिकारी कार्य के दौरान थाने के सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में रहेगा। शिकायत संज्ञेय प्रकृति की है तो तत्काल एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी और यदि असंज्ञेय प्रकृित की है तो प्रतिबंधात्मक कार्रवाई, मौका मुआयना, शिकायतकर्ता को जरुरी समझाइश देना आदि कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी।

यह भी होगा इस व्यवस्था में
- इस व्यवस्था में थानों पर आने वाले शिकायतकर्ता के बैठने की उचित व्यवस्था के साथ-साथ थाना स्तर पर एक प्रथक आगंतुक रजिस्टर का संधारण किया जाएगा।
- शिकायतों की मानिटरिंग के लिए जिला स्तर पर एक ग्रेविएंस रेड्रेसल सेल का गठन किया गया है जो प्रतिदिन शिकायतों के निराकरण व पेंडिंसी आदि कार्यो की समीक्षा करेगा।
-शिकायतकर्ता को व्यक्तिगत रूप से संपर्क कर उनकी समस्या का संतुष्टिपूर्वक निराकरण हुआ अथवा नहीं, पुलिस द्वारा की गई कार्रवाई का फीडबैक प्राप्त करेगा। आपेक्षित वैधानिक कार्यवाही नहीं की जाती है तो संबन्धित को दंडित किए जाने की कार्रवाई की जाएगा।
--------------
थाना स्तर पर शिकायतों का उचित निराकरण नहीं होने से आम जनता को सीएम हेल्प लाइन, जन सुनवाई व अधिकरियों को शिकायत करना पड़ती है। इस व्यवस्था का मुख्य उदेश्य स्मार्ट पुलिसिंग कर जनता की शिकायतों का प्रथम विजिट में ही संतुष्टिपूर्वक निराकारण किया जाना है, ताकि जनता को थाने के बार-बार चक्कर नहीं लगाने पड़े व थाने के अतिरिक्त अन्य माध्यमों की आवश्यकता न महसूस हो।
गौरव तिवारी, पुलिस अधीक्षक, रतलाम

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

द्वारकाधीश मंदिर में पूजा के साथ आज शुरू होगा BJP का मिशन गुजरात, मोदी के साथ-साथ अमित शाह भी पहुंच रहेRajasthan: एंटी करप्शन ब्यूरो की सक्रियता से टेंशन में Gehlot Govt, अब केंद्र की तरह जांच से पहले लेनी होगी अनुमतिVIP कल्चर पर पंजाब की मान सरकार का एक और वार, 424 वीआईपी को दी रही सुरक्षा व्यवस्था की खत्ममां की खराब तबीयत के बावजूद बल्लेबाजों पर कहर बनकर टूटे ओबेड मैकॉय, संगकारा ने जमकर की तारीफदिल्ली में डबल मर्डर से सनसनी! एक की चाकू से गोदकर हत्या, दूसरे को गोली मारीRenault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चEncounter In Ghaziabad: बदमाशों पर कहर बनकर टूटी पुलिस, एक रात में दो इनामी अभियुक्तों को किया ढेरपाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने अलापा कश्मीर राग कहा- शांति सुनिश्चित करने के लिए धारा 370 को करें बहाल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.