यहां बढ़ी छेड़छाड़ की घटनाएं, पीडि़ताओं को नहीं मिल रही मदद

harinath dwivedi

Publish: Feb, 15 2018 05:49:59 PM (IST)

Ratlam, Madhya Pradesh, India
यहां बढ़ी छेड़छाड़ की घटनाएं, पीडि़ताओं को नहीं मिल रही मदद

निर्भया सेल का निकला दम, पुलिस नहीं उठा रही इस दिशा में कोई ठोस कदम

रतलाम। शहर में इन दिनों एक बार फिर छेड़छाड़ और ईव टिजिंग जैसी घटनाओं की पुनर्रावृत्ति होने लगी है। जहां स्कूल और कॉलेजों के समय पर निर्भया वेन खड़ी होकर छात्राओं को संबल देती है। वह अब शहर में काफी अरसे पुलिस लाइन में खड़ी है। वहीं सुरक्षित बालिका और सुरक्षित रतलाम का अभियान भी कुछ ही दिनों कार्य कर थम गया। अब फिर से छेड़छाड़ की घटनाओं को लेकर पुनर्रावृत्ति होने लगी है लेकिन पुलिस इस दिशा में कोई ठोस कदम नहीं उठा रही है। वहीं पुलिस विभाग द्वारा महिलाओं और युवतियों के लिए निर्भया और वी केयर फॉर यू यूनिट शुरू की गई थी। यूनिट का प्रचार-प्रसार थमते ही इसका दम निकल गया। वह अब शहर में काफी अरसे पुलिस लाइन में खड़ी है। वहीं सुरक्षित बालिका और सुरक्षित रतलाम का अभियान भी कुछ ही दिनों कार्य कर थम गया।

छेड़छाड़ के मामले
६ फरवरी को रावटी थाना क्षेत्र के मलवासी गांव में एक महिला को रास्ते से बहादुर भाभर और जीवान ने दुष्कर्म किया था।
५ फरवरी को माणक चौक पुलिस ने युवती के घर से बाहर निकलने पर छेड़छाड़ के मामले में आरोपी इमरान के खिलाफ प्रकरण दर्ज करवाया था।
२० जनवरी को दीनदयाल नगर थाना क्षेत्र के आबकारी चौराहा पर १५ वर्षीय किशोरी का रास्ता रोकर कर युवक ने छेड़छाड़ की। जिस पर प्रकरण दर्ज करवाया था।

 

ये हैं हेल्पलाइंस
फोन नंबर : १०९०, १०९१
वी केयर फॉर यू : ९४७९९९७१००
एसमएस हेल्पलाइन नंबर : ९४७९९९७००३

निर्भया सेल को किया जाएगा पुन: एक्टिव
पुलिस मुख्यालय से महिला हेल्पलाइन को १०९१ भोपाल मुख्यालय से नंबर चल रहा है। जिले में भी पुन: निर्भया सेल को शुरू किया जाएगा। महिला बल की कमी और कुछ दिक्कतों के कारण शिथिलता आई है। पुलिस लेकिन सजग है, उनकी मोबाइल टीम लगातार स्कूल और कॉलेजों का भम्रण करती है।
- विवेक सिंह चौहान, सीएसपी रतलाम

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned