विद्यार्थी बनकर शिक्षक देंगे परीक्षा

विद्यार्थी बनकर शिक्षक देंगे परीक्षा
विद्यार्थी बनकर शिक्षक देंगे परीक्षा

kamal jadhav | Updated: 12 Oct 2019, 11:01:55 AM (IST) Ratlam, Ratlam, Madhya Pradesh, India

विद्यार्थी बनकर शिक्षक देंगे परीक्षा

रतलाम। हाईस्कूल कक्षा में 30 फीसदी से कम परीक्षा परिणाम देने वाले स्कूलों और इनसे जुड़े शिक्षक-शिक्षिकाओं पर शिकंजा कसने के लिए लोक शिक्षण संचालनालय ने शिक्षक-शिक्षिकाओं की ही परीक्षा लेना शुरू कर दिया है। पिछले माहों में हुई परीक्षा में बैठे शिक्षक-शिक्षिकाओं में से आधे पास ही नहीं हो पाए तो विभाग ने इनकी दोबारा परीक्षा लेने की तैयारी कर ली है। अब इन्हें १४ अक्टूबर को उत्कृष्ट स्कूल परिसर में विद्यार्थी बनकर परीक्षा देना होगी। इस बार भी ये लोग पास नहीं होते हैं तो इनके खिलाफ कार्रवाई का मसौदा तैयार किया जाएगा।

डाइट में दिया प्रशिक्षण
पूर्व में दी गई परीक्षा में फेल हो चुके करीब डेढ़ दर्जन शिक्षक-शिक्षिकाओं को एक पखवाड़े से ज्यादा समय तक डाइट पिपलौदा में प्रशिक्षण दिया गया है। हालत यह है कि विभाग इन्हें जैसे-तैसे पास करके इन पर होने वाली कार्रवाई से इन्हें बचाने में लगा है। यही वजह है कि फेल होने वालों को प्रशिक्षण देकर तैयार किया गया है और अब 14 अक्टूबर को इनकी परीक्षा होना तय किया गया है। इस परीक्षा में भी ये लोग पास नहीं हो तो माना जा रहा है कि इनके खिलाफ विभाग कड़ी कार्रवाई करेगा।
ये स्कूल रहे हैं 30 फीसदी से कम
हाईस्कूल परीक्षा में 30 फीसदी से कम परीक्षा परिणाम देने वाले स्कूलों की संख्या सात सामने आई है। इनमें तीन रतलाम विकासखंड के हैं जबकि तीन बाजना और एक सैलाना विकासखंड का स्कूल है। इन स्कूलों में सागोद हाईस्कूल 20, पलसोड़ी 25, कनेरी 18, अमरगढ़ सैलाना 17, तंबोलिया बाजना 25, गढ़ावदिया बाजना 25 और देवला बाजना 24 फीसदी परिणाम वाले स्कूल रहे हैं। इन स्कूलों में से शिक्षा विभाग के जिन तीन स्कूलों का परिणाम 30 फीसदी से कम रहा उनके शिक्षकों की परीक्षा हो रही है।

पिछली बार 30 हुए थे शामिल
पिछले महीनों में ली गई शिक्षकों की परीक्षा में 30 शिक्षक-शिक्षिकाएं शामिल हुए थे जिनमें से आधे भी पास नहीं हो पाए थे और आधे से ज्यादा फेल हो गए थे। विभाग ने फेल हो चुके इन स्कूली शिक्षकों की परीक्षाएं फिर से लेने की तैयारी की है। पिछली बार भी उत्कृष्ट स्कूल परिसर में ही परीक्षा हुई थी और उसी दिन उत्तरपुस्तिकाएं जांचकर रिजल्ट अपलोड कर दिए गए थे। इसके बाद फेल हो चुके शिक्षक-शिक्षिकाओं को डाइट में प्रशिक्षण दिया गया और अब इनकी परीक्षा के लिए समय तय किया गया है।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned