Breaking HIndi News गोली किसान पर नहीं, सिंधिया परिवार पर चली थी

Breaking HIndi News गोली किसान पर नहीं, सिंधिया परिवार पर चली थी

Ashish Pathak | Publish: Aug, 11 2018 03:17:18 PM (IST) Ratlam, Madhya Pradesh, India

Breaking HIndi News गोली किसान पर नहीं, सिंधिया परिवार पर चली थी

रतलाम। मध्यप्रदेश कांगे्रस प्रचार समिति के चैयरमेन ज्योतिरादित्य सिंधिया दो दिन से रतलाम रेंज के दौरे पर है। वे नीमच, मंदसौर के बाद रतलाम जिले के जावरा तक पहुंच गए हैं। अपने अलग-अलग जगह के भाषण में उन्होंने अपने पिता माधवराव सिंधिया के समय के रिश्तों की स्मृति को याद दिलाकर कहा कि न में नेता न आप जनता, बल्कि आप सभी मेरे परिवार के सदस्य हो। एेसे में जब सरकार ने किसानों पर गोलियां चलवाई, तो वो किसान की छाती पर नहीं, बल्कि सिंधिया परिवार पर हमला था।ये बात कांगे्रस प्रचार समिति के चेयरमैन ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मंदसौर जिले के बरवन में आयोजित सभा में कही।

मंदसौर में जो किसानों पर गोलियां चली थी, वो किसान पर नहीं, सिंधिया परिवार पर चली थी। क्योकि आप सभी मेरे परिवार का हिस्सा हो। सीएम जब एक करोड़ रुपए देने आए तो एक महिला ने तो कह दिया की दो करोड़ रुपए मुझसे ले लो, पर मेरे परिवार के गए सदस्य को लौटा दो। ये तय है कि नवंबर में होने वाले चुनाव के बाद कांगे्रस की सरकार बनेगी, सरबार जब तक नहीं बन जाती, जब तक आपको न्याय नहीं मिल जाता, तब तक चेन की सांस न ली जाएगी सिंधिया ने कहा कि मध्यप्रदेश देश में बलात्कार की राजधानी बन गया है। एक तरफ युवा पकोड़ा तल रहा है तो बाबाओं को मंत्री बनाया जा रहा है।

माफी मांग लेता सभी से

भाजपा व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान पर तगड़ा हमला करते हुए सिंधिया ने कहा कि अगर मैं सीएम होता तो इस प्रकार की घटना पर जाकर पेर पकड़ कर माफी मांग लेता। आप माफ करते न करते ये अलग बात। लेकिन एक मुख्यमंत्री का ये राजधर्म बनता है कि जब कोई निरपराध पर हमला हो, कोई गलती हो तो माफी मांगे। सरकार मरने वाले कन्हैयालाल की बोली लगा रही है। उनकी पत्नी पर गर्व है। जब सीएम ने एक करोड़ का चेक दिया तो उन्होने ये कहकर लौटा दिया कि मेरे पति को लौटा दो, में दो करोड़ रुपए दूंगी। ये सरकार असंवेदनशील प पत्थर दिल है। इनमे मानवता नहीं है।

 

पुलिस ही अपराधी बन गई

सिंधिया का पूरा भाषण किसान गोलीकांड २०१७ पर केंद्रीत रहा। सिंधिया ने कहा कि राज्य में अपराधियों की जरुरत ही नहीं है। पुलिस ही किसानों की हत्या कर रही है। पीट-पीट कर मारते है। जैन आयोग बनाया। आयोग की रिपोर्ट का मतलब ही नहीं है। सारे दोषी अधिकारी पदस्थ कर दिए गए। सभी को बरी कर दिया।

जावरा में भी कर दिया भावुक

जावरा में पहुंचते ही पहले जैन मंदिर में दर्शन किए। इसके बाद हजारों लोगों की सभा में परिवार के साथ के पूर्व के रिश्तों को याद किया। इस दौरान पूर्व मंत्री महेंद्रसिंह कालूखेड़ा व अपने पिता माधवराव सिंधिया को याद करते हुए कहा कि वे दोनों जहां भी होंगे, साथ-साथ ही होंगे।

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned