रतलाम के व्यापारी को सूरत में अगवा कर पीटा

रतलाम के व्यापारी को सूरत में अगवा कर पीटा

By: kamal jadhav

Published: 07 Jul 2019, 11:16 AM IST

रतलाम। पुराने मामले में सूरत के सलामतपुरा पुलिस थाने में उपस्थिति दर्ज कराने गुरुवार को रतलाम से गए एक व्यापारी को सूरत में ही एक मार्केट के यहां कुछ लोगों ने अगवाकर जमकर पिटाई कर दी। उससे नकदी, सोने की चेन, अंगूठी, ५० हजार की राशि भरा चेक छीन कर कोरे कागज पर हस्ताक्षर करवा लेने का मामला सामने आया है। शहर के नीमचौक निवासी दीपेश पिता सुभाषचंद्र ढाबडिय़ा उम्र ३५ साल नामक यह व्यापारी है। इनकी पोरवाड़ों का वास में साड़ी की दुकान हैं। पीडि़त अगवा करने वालों के चंगुल से भागकर जैस-तैसे ट्रेन पकड़कर शनिवार की सुबह घर पहुंचे तब परिजनों को पता चला। इसके पहले ही परिजनों को इनके अगवा होने की बात पता चलने पर पत्नी आकांक्षा ने माणकचौक पुलिस थाने पर शुक्रवार की शाम को आवेदन देकर पति को ढूंढने की गुहार लगाई थी। फिलहाल पुलिस चौकी अस्पताल ने मेडिकल करवाकर जिला अस्पताल में भर्ती करवाया है।

पुराने मामले में जाना पड़ता थाने
पीडि़त दीपेश ने बताया वह सूरत के एक दलाल के माध्यम से माल मंगवाता रहा है। जो माल आता उसका भुगतान उसी समय कर दिया गया किंतु दलाल ने धोखाधड़ी करते हुए ज्यादा माल का बिल भेजकर हमारे ऊपर राशि निकाल दी। दलाल बीच में भाग गया तो व्यापारी ने हमारे ऊपर धोखाधड़ी का केस सूरत में दर्ज करवा दिया। प्रकरण कोर्ट में चल रहा है और कोर्ट के आदेश पर ही हर माह संबंधित थाने में उपस्थिति दर्ज कराने जाना पड़ता है। इसी क्रम में गुरुवार को सूरत गए थे।

यह है घटनाक्रम
गुरुवार को भी इसी तारतम्य में सूरत गया था। वापस लौटने पर सूरत के महावीर मार्केट स्थित निराली साड़ी सेंटर में एक परिचित के यहां दोपहर करीब दो बजे बैठा था कि वहीं पर १५-२० लोग आए और मुझे उठाकर ले गए। अचानक हुए घटनाक्रम से घबरा गया। ये लोग मुझे उन्हें दूसरी जगह ले गए और जमकर पिटाई कर दी। इस दौरान इन लोगों ने सोने की चेन, अंगूठी, ५० हजार की राशि भरा बिना नाम लिखा चेक छीन लिया और एक कोरे कागज पर हस्ताक्षर करवा लिए हैं।

Show More
kamal jadhav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned