VIDEO: गर्मी से पहले इस शहर में सामने आई भारी लापरवाही

VIDEO: गर्मी से पहले इस शहर में सामने आई भारी लापरवाही

Sachin Trivedi | Updated: 01 Mar 2019, 02:44:48 PM (IST) Ratlam, Ratlam, Madhya Pradesh, India

VIDEO: गर्मी से पहले इस शहर में सामने आई भारी लापरवाही

रतलाम. गर्मी की शुरूआत से पहले शहर पेयजल संकट का सामना करने लगा है। धोलावाड़ जलाशय में पर्याप्त जल संग्रहित है, लेकिन नगर निगम की लापरवाही के चलते शहरवासियों के कंठ सूख रहे है। बीते वर्ष गर्मी से पहले वार्डो में बांटने के लिए ६० लाख की लागत से खरीदी गई सिंथेटिक की एक दर्जन टंकिया मोरवानी के फिल्टर प्लांट के बाहर कबाड़ में पटक दी गई है, जबकि शहर की प्यास बुझाने के लिए गर्मी का हवाला देकर निगम ने करीब 82 लाख खर्च कर टैंकर परिवहन का मैप बनाया है। नगर निगम ने पिछली गर्मी के पूर्व दो-दो हजार लीटर की सिथेंटिक पानी की टंकियां 60 लाख रुपए में खरीदी थी। इनमें से एक दर्जन से कुछ अधिक टंकियां अब तक मोरवानी में रखी हुई है, जबकि शहर के विभिन्न वार्डो के साथ-साथ दूर-दराज की कॉलोनियों में भी पेयजल का संकट खड़ा होने लगा है। इन सब के बीच नगर निगम ने पेयजल संकट से निजात दिलाने के लिए पिछले वर्ष के मुकाबले इस वर्ष तीन लाख रुपए अधिक की राशि से पानी के टैंकर चलाने की निविदा पर काम शुरू कर दिया है।

इस वर्ष 82 लाख में करेंगे टैंकर से पेयजल वितरण
पिछले वर्ष नगर निगम ने 79 लाख रुपए का पेयजल परिवहन का टेंडर किया था। इस बार ये तीन लाख रुपए बढ़ाकर 82 लाख रुपए का होने जा रहा है। अप्रैल से लेकर जून तक पानी का परिवहन करके नगर निगम विभिन्न मोहल्लों में टेंकर से भेजेगा। इन सब के बीच जिन मोहल्लों में लोग पानी भर लेते है, बाद में वहां पर इन टंकियों में पानी भरकर रखा जाता है, लेकिन अब तक मोहल्लों में ये टंकियां अब तक नहीं भेजी है।

आपसी खींचतान से नहीं बंटी टंकिया
भाजपा के बहुमत वाली निगम में भाजपा के ज्यादातर पार्षद चाहते है कि उनके वार्डो में ये टंकियां आए। जबकि राज्य में सरकार बनने के बाद अधिकारियों पर दबाव बनाकर कांगे्रस चाहती है कि अब उनकी सुनी जाए व टंकियों को उनके वार्डो में भेजा जाए। इन सब के बीच टंकियों को कहां पर भेजा जाए इसको लेकर अब तक निर्णय नहीं हो पाया है। टंकियां मोरवानी में ही पड़ी हुई है, जबकि शहर में इनकी जरूरत है।

भाजपा जिम्मेदार
नगर निगम में भाजपा का बहुमत है, ये लोग बहुमत के नाम पर पार्षदों की आवाज को दबाते है। हम पिछले वर्ष से इन टंकियों को मोहल्लों में रखने की मांग कर रहे है, लेकिन ये सुनना ही नहीं चाहते। एक पखवाडे़ में निर्णय नहीं हुआ तो हम आंदोलन करेंगे।
- यास्मिन शैरानी, नेता प्रतिपक्ष, नगर निगम
नलों से गंदा पानी
सीवर लाइन के कारण पेयजल लाइन फूट गई है, इससे गंदा और मटमैला पानी आ रहा है। अगर वार्ड में टंकिया रख दी जाए और टैंकर से भर दे तो अच्छा पानी मिल जाएगा।
- चेतनप्रकाश शर्मा, रहवासी वार्ड क्रमांक ४५
------
जल्दी निर्णय होगा
मांग व आवश्यकता के अनुसार विभिन्न वार्डो में सिंथेटिक टंकियों का वितरण किया जाएगा। इस बारे में जल्दी ही निर्णय करेंगे।
- डॉ. सुनीता यार्दे, महापौर नगर निगम

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned