scriptWatch video : Ratlam SP told easy way to avoid online fraud | देखें वीडियो : Ratlam एसपी ने बताया ऑनलाइन धोखाधड़ी से बचने का आसान उपाय | Patrika News

देखें वीडियो : Ratlam एसपी ने बताया ऑनलाइन धोखाधड़ी से बचने का आसान उपाय

आधुनिक युग में मोबाइल के उपयोग के साथ-साथ लोगों के साथ साइबर अपराध बढ़ने लगे हैं। आपके समझने की शक्ति समाप्त होने पर शुरू होता है हैकर का दिमाग, इसलिए सावधानी हमें स्वयं को रखना जरूरी है।

रतलाम

Updated: August 01, 2022 11:50:20 am

रतलाम. हैकर का दिमाग आपके दिमाग से अधिक शक्तिशाली है। जहां आप सोचना बंद करते हैं, वहां वो सोच शुरू करते हैं। ऑनलाइन धोखे से बचना है तो सबसे बेहतर तरीका है कि जो सिम नंबर बैंक में दर्ज है, उसको कीपैड वाले मोबाइल में उपयोग करें। यह कहना है रतलाम पुलिस अधीक्षक अभिषेक तिवारी का। आईपीएस तिवारी से पत्रिका नेे ऑनलाइन अपराध को लेकर विस्तार से बात की।
Use the SIM number entered in the bank in a mobile with a keypad
Use the SIM number entered in the bank in a mobile with a keypad
पत्रिका : लगातार ऑनलाइन अपराध बढ़ रहे है, बचाव का सबसे बेहतर तरीका क्या है?

आईपीएस तिवारी : सबसे बेहतर है जो सिम नंबर बैंक खाते में दर्ज है, उसको कीपैड वाले मोबाइल में उपयोग कीजिए। वैसे भी इन दिनों हर व्यक्ति कम से कम दो मोबाइल रखता है, ऐसे में एक नंबर कीपैड वाले मोबाइल में हो तो ऑनलाइन अपराध से बचाव आसान है।
पत्रिका : यह पता चले कि ऑनलाइन धोखाधड़ी के शिकार हो गए है, तो सबसे पहले क्या करना चाहिए?

आईपीएस तिवारी : सायबर धोखाधड़ी होने पर सबसे पहले अपने बैंक के हेल्पलाइन नंबर पर फोन करके बैंक से सभी भुगतान पर रोक लगवाए। इसके बाद पुलिस को इस बारे में सूचना दी जाए।
पत्रिका : यह देखने में आ रहा है कि ऑनलाइन हेल्पलाइन नंबर से भी धोखाधड़ी हो रही है?

आईपीएस तिवारी : यह सही है, इससे बचाव के लिए जरूरी है कि जो एटीएम आप उपयोग करते है, उसके पीछे ही हेल्पलाइन नंबर रहता है। उसमें नहीं है तो बैंक की पासबुक में नंबर लिखा होता है, इसलिए ऑनलाइन हेल्पलाइन नंबर की तलाश मत कीजिए।
पत्रिका : इस समय सबसे अधिक ऑनलाइन अपराध किस तरह के हो रहे है?

आईपीएस तिवारी : इस समय बूस्टर डोज से लेकर कोरोना वैक्सीन लगवाई या नहीं, इस सवाल को लेकर ओटीपी दिए जा रहे हैं। इसके जाल में कुछ लोग रतलाम में भी आए हैं। ओटीपी देते ही इसके बाद आपको पता भी नहीं चलता और बैंक खाता साफ हो रहा है। यह समझ ले कि बूस्टर डोज या वैक्सीन को लेकर सवाल - जवाब नहीं किए जा रहे है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

बिहार : नीतीश कुमार का बड़ा ऐलान, 20 लाख युवाओं को देंगे नौकरी और रोजगारIndependence Day 2022 : अगले 25 सालों का क्या है प्लान, पीएम मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातेंस्वतंत्रता दिवस के मौके पर लेह पहुंचे मनोज तिवारी और निरहुआ, जवानों को परोसा खानाIndependence Day 2022: लाल किले पर बना नया रिकार्ड, पहली बार मेड इन इंडिया तोप ने दी सलामी, जानें इसके बारे मेंHar Ghar Trianga Campaign में 30 करोड़ से ज्यादा के झंडे बिके, CAIT ने बताया इतने करोड़ का हुआ कारोबारIndependence Day 2022: मोहन भागवत ने RSS मुख्यालय में फहराया तिरंगा, बोले-देश को क्या दे रहे हैं यह सोचकर जीने की जरूरत38 साल पहले शहीद हुए लांसनायक चंद्रशेखर का पार्थिव शरीर आज पहुंचेगा घर, राजकीय सम्मान से होगा अंतिम संस्कारसिद्धू मूसेवाला के पिता का बड़ा बयान, कहा-' जिन्होंने किया भाई होने का दावा वहीं निकले बेटे के हत्यारे'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.