बारिश ने रोकी रफ्तार, ट्रैक पर पानी, कई जगह सिग्नल फेल

भारी बारिश का असर..रेल सेक्शन में पटरी पर पानी ही पानी जमा हो गया है..

By: Shailendra Sharma

Published: 27 Jul 2021, 04:16 PM IST

रतलाम. मौसम विभाग की चेतावनी के बाद हुई भारी बारिश का असर रेल मंडल पर भी हुआ है। गोधरा से लेकर रतलाम व बैरागढ़ तक रेल सेक्शन में पटरी पर पानी ही पानी जमा हो गया है। लगातार बारिश से दो दिन से कई सेक्शन में सिग्नल फेल हो रहे हैं जिनको आधी रात को भी सुधारकर ट्रेन को चलाया जा रहा है। भारी बारिस के कारण कहीं स्टेशन मास्टर के कमरे में तो कहीं रेल फाटक की गुमटी में पानी जमा हो गया है। रेल मंडल में ट्रैक पर जलजमाव के हालात बनने लगे हैं।

ये भी पढ़ें- मेहरबान हुआ मानसून : मोहनपुरा डेम के 8 गेट खुले, कई जगह जनजीवन प्रभावित

बारिश ने लगाया रफ्तार पर 'ब्रेक'

रतलाम रेल मंडल में रविवार व सोमवार को बारिश के चलते कई स्थान पर सिग्नल फेल होने व ट्रेन के देरी से चलने के मामले सामने आए हैं। कुछ सेक्शन में तो देर रात को यात्री ट्रेन को आगे इंजन को अलग से चलाकर पायलटिंग करवाकर ट्रेन को चलाया गया है। इन सब के बीच हर बार रतलाम व उज्जैन के स्टेशन पर पानी जमा होता है, अब तक वो नहीं हुआ है। दो दिन में यहां हुए सिग्नल फेल..

- ए केबिन के यहां 2.40 बजे 2 नंबर ट्रैक का सिग्नल फेल हो गया।
- 179 - 180 नंबर ट्रैक पर दोपहर 3 बजे सिग्नल फेल हुआ।
- 561 - 13 - 15 किमी ट्रैक पर दोपहर में सिग्नल फेल हुआ।
- 651 - 13 - 15 किमी ट्रैक पर दोपहर में 3.05 बजे सिग्नल फेल हुआ।
- पंचपिपलिया में डाउन लाइन पर 5 - 39 लाइन का सिग्नल फेल हुआ। यह सब सिग्नल में से कोई 10 मिनट में तो कोई देर रात तक सुधार कार्य जारी रहा।

ये भी पढ़ें- 24 घंटे में यहां बरसा 190.6 मिमी पानी, गांवों में चली नाव, 76 लोगों का रेस्क्यू

track2.png

यहां मास्टर के कमरे में भरा पानी
रेल मंडल के शुजालपुर स्टेशन मास्टर के कमरे में तो पैनल के करीब ही लगातार बारिश का पानी आ रहा है। दरवाजे से लेकर पैनल तक पानी आने से काम करने में समस्या आ रही है। इसके अलावा यातायात समपार रेल फाटक नंबर 79 में रेल फाटक की गुमटी में पानी भर गया। इससे फाटक बंद करने व फिर चलाने में समस आ रही है।

 

ये भी पढ़ें- उफनाई कूनो, फूटा तालाब, पहेला गांव डूबा

 

कई ट्रेन पर हुआ असर
लगातार बारिश व ट्रैक पर पानी होने से कई यात्री ट्रेन की गति पर असर पड़ा। ट्रैक पर पानी होने से ट्रेन को सुरक्षा के मानक का पालन करते हुए धीमी गति से चलाया गया। इतना ही नहीं, ट्रैक पर सिग्नल फैल होने से रेल यातायात पर भी असर हुआ। रतलाम रेल मंडल के जनसंपर्क अधिकारी जेके जयंत ने बताया कि बारिश के दौरान रखरखाव के बाद भी सिग्नल में तकनीकी समस्या आती है। सूचना के बाद इनको तेजी से रखरखाव किया गया है और तेजी से सुधार कार्य किया जा रहा है।


देखें वीडियो- बारिश का कहर-मुख्य नहर फूटी, बिगड़े हालात, कई घरों में भरा पानी

Shailendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned