scriptWife will also be happy with a friend found openly in Madhya Pradesh | मध्यप्रदेश में पत्नी के साथ मिले "सहेली" से, हो जाएगी खुश, क्योंकि.... | Patrika News

मध्यप्रदेश में पत्नी के साथ मिले "सहेली" से, हो जाएगी खुश, क्योंकि....

देश में पति आमतौर पर विवाह के बाद अपनी सहेली से पत्नी के सामने मिलने में कतराते है, लेकिन मध्यप्रदेश में ऐसा नहीं है। यहां खुलकर अपनी सहेली से मिलने ट्रेन से जाए, बल्कि पत्नी को भी लेकर जाए, वो खुश हो जाएगी, क्योंकि.....

रतलाम

Published: April 07, 2022 12:40:08 pm

रतलाम. देश में पति आमतौर पर विवाह के बाद अपनी सहेली से पत्नी के सामने मिलने में कतराते है, लेकिन मध्यप्रदेश में ऐसा नहीं है। यहां खुलकर अपनी सहेली से मिलने ट्रेन से जाए, बल्कि पत्नी को भी लेकर जाए, वो खुश हो जाएगी, क्योंकि.....
Wife will also be happy with a friend found openly in Madhya Pradesh
Wife will also be happy with a friend found openly in Madhya Pradesh
किसी क्षेत्र, गली-कूचों, चौक-चौराहों, गांव, कस्बों आदि के नाम उस स्थान विशेष की खासियत बयान करते हैं। अधिकांश जगहों के नाम किसी व्यक्ति विशेष की याद में रखे जाते हैं, जो लोगों के लिए प्रेरणा स्त्रोत बनते हैं। लेकिन कुछ नाम इतने विचित्र होते हैं कि उसे लेकर हर एक शख्स के मन में यह सवाल निश्चित तौर पर उठता है कि आखिर यह नाम रखा किसने होगा? क्या इसके यह नाम रखने के पीछे वाकई में कोई वजह रही होगी?
यहां है सहेली


ऐसे ही एक दिलचस्प नाम का गांव मध्यप्रदेश में है, जो हमेशा ही राहगीरों के आकर्षण का केंद्र बना रहता है। और तो और मीमर्स भी इसके चटखारे लेने में कोई कसर नहीं छोड़ते हैं। हम बात कर रहे हैं होशंगाबाद जिला स्थित इटारसी से कुछ 26 किलोमीटर दूर बसे सहेली गांव की, जो इटारसी - नागपुर रेलखंड का छोटा सा हिस्सा है। हालांकि, इस नाम के इतिहास को खंगालें, तो दूर-दूर तक सहेलियों की कोई कहानी सुनने को नहीं मिलती है, जिससे इसका नाम सहेली पड़ा हो।
मां मैं सहेली के साथ सहेली जा रही

नॉर्थवेस्ट रेलवे ने स्वदेसी मंच, कू पर अपने आधिकारिक हैंडल के माध्यम से इस जगह का नाम यूजर्स के सामने उजागर किया है, जो सुनने में जितना दिलचस्प है, इसके ऊपर मीम्स बनाना भी उतना ही मजेदार है। सहेली नाम के इस गांव के चटखारे लेने में नॉर्थवेस्ट रेलवे भी पीछे नहीं रहा, यानी उक्त पोस्ट के माध्यम से विभाग ने कहा है मां मैं सहेली के साथ सहेली जा रही हूं। पढ़कर अजीब लग रहा है न.. लेकिन सहेली नाम का स्टेशन भी है मध्यप्रदेश में, जो मध्य रेल के नागपुर मंडल में आता है।
सहेली गांव जा रहे

नाम सहेली होने का यह अर्थ कतई नहीं है कि यह सिर्फ सहेलियों और महिलाओं का गांव है। ग्रामवासियों के साथ ही राहगीरों के चेहरे पर भी यह गांव हर दिन मुस्कान बिखेरता है, क्योकि किसी न किसी तरह से लोग और यहां तक कि पुरुष भी इसके विशेष नाम को लेकर बडे चाव से कहते हैं कि हम अपने दोस्तों के साथ सहेली गांव जा रहे हैं।
सहेलियों वाला स्टेशन

जरा सोचिए, जब आप स्टेशन पर अकेली बैठी हों, तो कम से कम आपको इस बात का दिलासा रहेगा कि मेरे साथ मेरी सहेली यहीं मेरे पास है, तो फिर किस बात का डर.. तो फिर हुआ न यह स्टेशन सहेलियों वाला स्टेशन, जो हर पल अपनी सहेली के साथ रहता है....
Wife will also be happy with a friend found openly in Madhya Pradesh
IMAGE CREDIT: patrika

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

यहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतियूपी में घर बनवाना हुआ आसान, सस्ती हुई सीमेंट, स्टील के दाम भी धड़ामName Astrology: पिता के लिए भाग्यशाली होती हैं इन नाम की लड़कियां, कहलाती हैं 'पापा की परी'इन 4 राशियों के लड़के अपनी लाइफ पार्टनर को रखते हैं बेहद खुश, Best Husband होते हैं साबितजून में इन 4 राशि वालों के करियर को मिलेगी नई दिशा, प्रमोशन और तरक्की के जबरदस्त आसारमस्तमौला होते हैं इन 4 बर्थ डेट वाले लोग, खुलकर जीते हैं अपनी जिंदगी, धन की नहीं होती कमी1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्ससंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजर

बड़ी खबरें

सेना का 'मिनी डिफेंस एक्सपो' कोलकाता में 6 से 9 जुलाई के बीचGujrat कांग्रेस के वरिष्ठ नेता का विवादित बयान, बोले- मंदिर की ईंटों पर कुत्ते करते हैं पेशाबRajya Sabha Election 2022: राजस्थान से मुस्लिम-आदिवासी नेता को उतार सकती है कांग्रेस'तुम्हारे कदम से मेरी आँखों में आँसू आ गए', सिंगला के खिलाफ भगवंत मान के एक्शन पर बोले केजरीवालसमलैंगिकता पर बोले CM नीतीश कुमार- 'लड़का-लड़का शादी कर लेंगे तो कोई पैदा कैसे होगा'Women's T20 Challenge: वेलोसिटी ने सुपरनोवास को 7 विकेट से हरायानवजोत सिंह सिद्धू को जेल में मिलेगा स्पेशल खाना, कोर्ट ने दी अनुमतिSSC घोटाले के बाद अब बंगाल में नर्सों की नियुक्ति में धांधली, विरोध प्रदर्शन के बीच पुलिस और स्टूडेंट्स में हुई झड़प
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.