ऎसे पड़ेगी रिश्ते की मजबूत नींव

उनकी कोशिशों की कद्र करें, उन पर विश्वास रखें, उनका आप पर विश्वास न टूटने दें और उनके साथ का आनंद लें

हर रिश्ते की सफलता के लिए जरूरी है कि उस रिश्ते की नींव मजबूत हो। यह ठीक है कि कोई भी रिश्ता परफेक्ट नहीं होता लेकिन यह भी सही है कि बिना मजबूत नींव के रिश्ता लंबे समय तक टिक नहीं पाता। और अगर बात पति-पत्नी के बीच के रिश्ते की हो तो दांपत्य जीवन में मधुरता बनाए रखने के लिए दोनों को सतत प्रयास करने होते हैं।

साथ हंसें
पति-पत्नी के बीच रिश्ता मजबूत हो, इसके लिए सबसे जरूरी चीजों में से एक है कि दोनों साथ हंसें। एक-दूसरे के साथ चुटकुला शेयर करें , दफ्तर में कोई ऎसी बात हुई हो, जिस पर आपको बहुत हंसी आई हो, अपने पति को बताएं। हंसी एक बहुत ही मजबूत चीज है, जो आप दोनों को जोड़े रखती है।

प्यार की भाषा समझें
यदि आप अपने रिश्ते की बुनियाद मजबूत चाहती हैं तो प्यार की भाषा समझें। समझें कि आपके हमसफर को आपकी कौनसी बात अच्छी लगती है, किस बात पर प्यार आता है।

गलतियों की माफी मांगें
गलती हम सभी से होती है। हममें से कोई भी परफेक्ट नहीं है। जैसे ही आपको अहसास हो कि आपके किसी काम से सामने वाले को चोट पहुंची है, तुरंत अपनी गलती की माफी मांग लें।

भावनात्मक सहारा
रिश्ते में संतुष्टि के लिए आपका यह सीखना जरूरी है कि हमसफर के अलग होने को किस तरह से स्वीकार किया जाए। उन्हें इस बात का अहसास न होने दें कि वह सिर्फ इसलिए अच्छे नहीं हैं, क्योंकि वह वैसे नहीं हैं, जैसा हमसफर आप चाहती थीं या उन्हें बनाना चाहती थीं। आप यह जताएं कि आपको उनकी भावनाओं की कद्र है और आप उन्हें समझती हैं।

राय हो सकती है अलग-अलग
बहुत से जोड़े ऎसे हैं, जिनकी किसी एक मुद्दे पर एकराय नहीं होती। यदि आप रिश्ते की बुनियाद मजबूत चाहती हैं तो आपको हमसफर की अलग राय को स्वीकार करना सीखना होगा। किसी भी बात पर अलग राय से झगड़ा और उसके बाद समझौता करने से अच्छा है कि आप राय अलग होने को दिल से स्वीकार कर लें।

अच्छा श्रोता बनना जरूरी
अपनी बात को बेहद शालीन तरीके से हमसफर के सामने रखना सीखें, ताकि आपका हमसफर समझ सके कि आपको किन बातों पर गुस्सा आता है और आप किन बातों से खुश होती हैं। इसके लिए यह जरूरी है कि आप एक अच्छी श्रोता भी बनें। सामने वाला आपकी बात को तभी ध्यान से सुनेगा, जब आप उसकी बात को तवज्जो देंगी और बी च-बीच में टोकेंगी नहीं। इससे आपके बीच होने वाली कई लड़ाइयां खुद-ब-खुद गायब हो जाएंगी।

एक-दूसरे को आदर करें
रिश्ता अच्छा चले, इसलिए आपको अपने हमसफर को आदर देना है। उनकी कोशिशों और आयडिया की कद्र करें, उन पर विश्वास रखें, उनका आप पर विश्वास न टूटने दें और उनके साथ का आनंद लें। इ ससे आप दोनों ऎसी कई चीजों से आसानी से उबर पाएंगे, जो आपके रिश्ते के बीच आती हैं।
प्रियंका चंदानी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned