scriptChaitra navratri 2022 Asthmi 8 day is of goddess Maha Gauri | Chaitra Navratra : 08th Day- राहु को नियंत्रित करने वाली माता गौरी कर देतीं हैं पूर्वसंचित पापों को नष्ट | Patrika News

Chaitra Navratra : 08th Day- राहु को नियंत्रित करने वाली माता गौरी कर देतीं हैं पूर्वसंचित पापों को नष्ट

माता महा गौरी को प्रसन्न करने के उपाय, पूजा विधि और स्वरूप

Published: April 05, 2022 05:56:32 pm

08th Day of Chaitra Navratra 2022 : नवरात्र में देवी मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा अत्यंत खास मानी जाती है। शक्ति की पूजा के इस पर्व के आठवें दिन देवी मां के आठवें रूप महागौरी का पूजन किया जाता है। ऐसे में इस बार चैत्र नवरात्र 2022 में चैत्र अष्टमी यानि माता महागौरी का शनिवार के दिन 09 अप्रैल को विधि विधान से पूजन किया जाएगा।

Day 08 of chaitra Navratra  2022
Day 08 of chaitra Navratra 2022

माना जाता है कि इस दिन सच्चे मन से जिस भी भक्तों के द्वारा माता महागौरी की प्रार्थना की जाती है मां उसे अवश्य स्वीकर करती हैं। वहीं ज्योतिषीय मान्यताओं के अनुसार देवी महागौरी द्वारा ही राहु ग्रह को नियंत्रित किया जाता हैं। ऐसे में देवी महागौरी की पूजा से राहु के बुरे प्रभाव कम हो जाते हैं।महागौरी का अर्थ, महा मतलब महान/बड़ा और गौरी मतलब गोरी। देवी का रंग गोरा होने के कारण ही उन्हें महागौरी कहा गया।

चैत्र नवरात्र 2022 अष्टमी पूजा शुभ मुहूर्त ...
अष्टमी तिथि का प्रारंभ: शुक्रवार 9 अप्रैल को 01:23 AM से
अष्टमी तिथि का समापन : शनिवार 10 अप्रैल को 03:15 AM पर होगा।
इसके अलवा इस दिन अभिजीत मुहूर्त 11:35 AM से 12:25 PM तक रहेगा।

chaitra Navratra 2022 Day 08

चैत्र अष्टमी के दिन भी देवी दुर्गा का पूजन विधान ठीक चैत्र सप्तमी की तरह ही होता है। लेकिन इस दिन प्राण प्रतिष्ठा नहीं की जाती है, हां इस दिन सुबह से ही कन्या पूजन किया जा सकता है। इस दिन मां दुर्गा का षोडशोपचार पूजन किया जाता है। इस दिन मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा होती है।

शास्त्रानुसार Goddess sati नवरात्र अष्टमी पर महागौरी की पूजा अर्चना का विधान है। इनकी उपासना से भक्तों को सभी कलंक धुल जाते हैं, साथ ही पूर्व में संचित पापों का भी नाश हो जाता है। इसके अलावा भविष्य में पाप-संताप, दैन्य-दुःख भी उसके पास कभी नहीं आते। माना जाता है कि मां महागौरी की अराधना से भक्तों के सभी कष्ट दूर हो जाते हैं और देवी का भक्त जीवन में पवित्र और अक्षय पुण्यों का अधिकारी बनता है।

माता महागौरी
देवी महागौरी की चार भुजाएं होने के अलावा यह वृषभ की सवारी करती हैं। इनका एक दाहिना हाथ अभय मुद्रा धारण में है, जबकि दूसरे दाहिने हाथ में त्रिशूल विद्यमान है। इसके अलावा एक बायें हाथ में डमरू और दूसरा बायां हाथ वर मुद्रा में है।

chaitra Navratra 08 Day 2022

माता महागौरी : पौराणिक मान्यताएं
पौराणिक मान्याताओं के अनुसार देवी पार्वती ने भगवान शिव को पति के रूप में पाने के लिए गर्मी, सर्दी और बरसात का बिना परवाह किए कठोर तप किया था, जिसके कारण उनका रंग काला हो गया था। उसके बाद शिव जी उनकी तपस्या से प्रसन्न हुए और गंगा के पवित्र जल से उन्हें स्नान कराया, जिसके पश्चात देवी का रंग पुन: गोरा हो गया। तब से उन्हें महागौरी कहा जाने लगा।

कन्या पूजन विधि (Kanya pujan)
नवरात्रि में कन्या पूजन अष्टमी व नवमी दोनों दिन किया जाता है। इस दौरान 10 साल से कम उम्र की कन्याओं को देवी मानकर उनकी पूजा की जाती है। शास्त्रों के मुताबिक कन्या पूजन के लिए एक दिन पहले कन्याओं को निमंत्रण दिया जाता है। कन्या के घर में पधारने पर उनके पैरों को धोया जाता है। जिसके बाद उन्हें उचित स्थान पर बैठाया जाता है। इसके पश्चात कन्याओं के माथे पर अक्षत और कुमकुम लगाकर मां दुर्गा का ध्यान करके देवी रूपी कन्याओं को इच्छा अनुसार भोजन कराना चाहिए। भोजन के बाद कन्याओं को सामर्थ्य के मुताबिक दक्षिणा या उपहार देने के पश्चात उनके पैर छूकर आशीर्वाद लेना चाहिए।

Ram Navmi 2022

रामनवमी भी रविवार,10 अप्रैल 2022 को-
वहीं इस बार रामनवमी का पर्व रविवार,10 अप्रैल 2022 केा मनाया जाएगा। और इसी दिन नवरात्रि की नवमी के तहत मां सिद्धिदात्री की पूजा भी की जाएगी। मां सिद्धिदात्री की पूजा के तहत जहां इस दिन की शुरुआत भी महास्नान और षोडशोपचार पूजा से होगी। वहीं इस दिन दुर्गासप्तशती के नवें अध्याय के साथ मां सिद्धिदात्री की पूजन करना चाहिए। इस दिन मौसमी फल, हलवा-चना, पूड़ी, खीर और नारियल का भोग लगाया जाता है।

नवरात्र के अंतिम दिन देवी मां के प्रसन्न होने से भाग्य का उदय भी होता है। इस दिन कुछ लेागों के अनुसार बैंगन या जामुनी रंग पहनना शुभ माना जाता है, इसका कारण इस रंग के अध्यात्म का प्रतीक होने से जोड़ा जाता है।

मान्यता के अनुसार मां सिद्धिदात्री सभी प्रकार की सिद्धी और मोक्ष को देने वाली हैं। मां सिद्धिदात्री की पूजा देव, यक्ष, किन्नर, दानव, ऋषि-मुनि, साधक और गृहस्थ आश्रम में जीवनयापन करने वाले पूजा करते हैं। नवरात्र के अंतिम दिन मां की पूजा पूरे विधि विधान के साथ करने वाले उपासक की सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाती हैं। साथ ही यश, बल और धन की भी प्राप्ति होती है।

वहीं चैत्र नवरात्रि की नवमी को भगवान श्रीराम के जन्म के रूप में भी जाना जाता है। ऐसे में इस दिन भगवान श्री राम की पूजा भी इस दिन की जाती है।

भगवान श्रीराम के पूजन के तहत इस दिन यानि चैत्र शुक्ल पक्ष के नवमी के दिन - रामनवमी के दिन ब्रह्ममुहूर्त में उठकर स्नानादि के पश्चात स्वच्छ वस्त्र धारण करने चाहिए। जिसके पश्चात भगवान राम, माता सीता और लक्ष्मण जी की मूर्तियों का रोली से तिलक करने के बाद भगवान श्री राम को चावल, फूल चढ़ाकर और घंटी और शंख बजाने के बाद भगवान श्री राम का विधि विधान से पूजन करना चाहिए।
इस दौरान श्री राम के मंत्रों का जाप के अलावा रामायण के अलावा रामचरितमानस का भी पाठ करना विशेष माना जाता है। वहीं सबसे आखिर में आरती करें। माना जाता है कि इस दिन भगवान श्रीराम को झूला झूलने के अलावा किसी गरीब या ब्राह्मण को गेहूं और बाजरा दान भी करना चाहिए।
भगवान श्रीराम की पूजा का शुभ मुहूर्त : रविवार, 10 अप्रैल को नवमी तिथि सुबह 03:15 मिनट से शुरु होगी, जो सोमवार, 11 अप्रैल को सुबह 04:30 बजे तक रहेगी। वहीं भगवान श्री राम की पूजा का शुभ मुहूर्त रविवार,10 अप्रैल 2022 को सुबह 11 बजकर 10 मिनट से दोपहर 01 बजकर 32 मिनट तक रहेगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon : राजस्थान में 3 अगस्त से बारिश का नया सिस्टम, पूरे प्रदेश में होगी झमाझमNSA डोभाल की मौजूदगी में बोले मुस्लिम धर्मगुरु- 'सर तन से जुदा' हमारा नारा नहीं, PFI पर प्रतिबंध की बनी सहमतिकीमत 4.63 लाख रुपये से शुरू और देती हैं 26Km का माइलेज! बड़ी फैमिली के परफेक्ट हैं ये सस्ती 7-सीटर MPV कारेंराजस्थान में भारी बारिश का दौर जारी, स्कूलों की तीन दिन की छुट्टी, आज इन जिलों में झमाझम की चेतावनीWeather Update: राजस्थान में झमाझम बारिश को लेकर अब आई ये खबरराजस्थान में आज यहां होगी बारिश, एक सप्ताह तक के लिए बदलेगा मौसमएमपी में 220 करोड़ से बनेगा 62 किमी लंबा बायपास, कम हो जाएगी कई शहरों की दूरी, जारी हो गए टेंडरसरकारी नौकरी लगवा देंगे कहकर 10 युवाओं को लगाई 75 लाख रुपए की चपत, 2 गिरफ्तार

बड़ी खबरें

PM मोदी से मिलीं बंगाल CM ममता बनर्जी, विकास योजनाओं के 1 लाख करोड़ के बकाए फंड की मांग कीताइवान यात्रा के बाद चीन ने नैंसी पेलोसी पर लगाया प्रतिबंध, भारत ने कहा- लद्दाख सीमा से दूर रहे चीनी फाइटर जेटMaharashtra Panchayat Election Results 2022: महाराष्ट्र पंचायत चुनाव में शिंदे खेमे ने दिखाया दम, बीजेपी-उद्धव गुट समेत अन्य दलों के ऐसे रहें नतीजेCongress Protest: काले कपड़ों में संसद तक पहुंचे कांग्रेस सांसद, विजय चौक पहुंचने से पहले हिरासत में राहुल गांधीगहलोत ने हिटलर-जर्मनी का इतिहास बताकर मोदी पर साधा निशानाMumbai: महाराष्ट्र CM के गुरु आनंद दिघे के भतीजे केदार दिघे की मुश्किलें बढ़ीं, रेप पीड़िता को धमकाने के मामले में समन जारीबाला साहेब हमेशा कहते थे, रोओ मत, सही के लिए लड़ो... ED की कस्टडी से संजय राउत ने विपक्ष को लिखी चिट्ठीबिहार में रास्ता भूल गई ट्रेन, जाना था समस्तीपुर पहुंच गई कहीं और, 2 अफसर निलंबित
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.