scriptChanting of these 5 mantras daily can give you immense success | ज्योतिष: सुबह से लेकर रात तक इन 5 मंत्रों का जाप, हर काम में दिला सकता है अपार सफलता | Patrika News

ज्योतिष: सुबह से लेकर रात तक इन 5 मंत्रों का जाप, हर काम में दिला सकता है अपार सफलता

Mantra Chanting: कहते हैं दिन की शुरुआत जितनी अच्छी होती है उतना भी अच्छा पूरा दिन गुजरता है। शास्त्रों में सुबह जगने से लेकर रात में सोने तक कुछ मंत्र बताए गए हैं।

नई दिल्ली

Published: June 13, 2022 01:08:54 pm

Mantra Jaap: हमारे बड़े बुजुर्ग अक्सर सुबह जल्दी उठने की सलाह देते हैं। शास्त्रों में भी बताया गया है कि मनुष्य को सुबह ब्रह्ममुहूर्त में उठना बहुत चाहिए और रात को जल्दी सो जाना चाहिए। लेकिन आज के समय में अधिकतर लोग ऐसा नहीं कर पाते हैं। लेकिन ज्योतिष की मानें तो जो व्यक्ति शास्त्रों में दिए गए नियमों को दिनभर में फॉलो करता है उसके कई कष्ट दूर हो जाते हैं। कहते हैं दिन की शुरुआत जितनी अच्छी होती है उतना भी अच्छा पूरा दिन गुजरता है। शास्त्रों में सुबह जगने से लेकर रात में सोने तक कुछ मंत्र बताए गए हैं। अगर इनका सही समय पर जाप किया जाए तो व्यक्ति को किसी भी काम में सफलता मिलने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं। तो चलिए जानते हैं इन मंत्रों के बारे में।

powerful mantra, mantra jaap, morning mantra, mantra chanting, best mantras, maa laxmi mantra,
ज्योतिष: सुबह से लेकर रात तक इन 5 मंत्रों का जाप, हर काम में दिला सकता है अपार सफलता

कर दर्शन मंत्र:
कराग्रे वसते लक्ष्मीः करमध्ये सरस्वती।
करमूले तु गोविन्दः प्रभाते करदर्शनम॥

इस मंत्र के अनुसार हमारी हथेलियों में ही माता लक्ष्मी, सरस्वती और विष्णु का वास माना गया है। इसलिए व्यक्ति को सुबह जागते ही अपनी हथेलियों के दर्शन कर इस मंत्र का जाप करना चाहिए। यह बेहद फलदायक माना जाता है।

स्नान मंत्र:
गंगे च यमुने चैव गोदावरी सरस्वति।
नर्मदे सिन्धु कावेरी जलऽस्मिन्सन्निधिं कुरु

सुबह स्नान करते समय सभी पवित्र तीर्थों और नदियों का ध्यान करें और ऊपर दिए गए स्नान मंत्र का जाप करें। इस मंत्र द्वारा गंगा, यमुना, गोदावरी, सरस्वती, नर्मदा, सिंधु, कावेरी जैसी सभी पवित्र नदियों का ध्यान किया जाता है।

सूर्य मंत्र:
ऊं सूर्याय नम:।
सूर्य देव को जल चढ़ाते समय इस मंत्र का जाप करना चाहिए। इस मंत्र का कम से कम 11, 21 या 108 बार जाप जरूर करें।

भोजन मंत्र:
ॐ सह नाववतु। सह नौ भुनक्तु। सह वीर्यं करवावहै। तेजस्विनावधीतमस्तु मा विद्विषावहै।। ऊं शान्ति: शान्ति: शान्ति:।।

ये मंत्र भोजन करने से पहले पढ़ना चाहिए। इस मंत्र के द्वारा भोजन के लिए भगवान का आभार प्रकट किया जाता है।

शयन मंत्र:
जले रक्षतु वाराहः स्थले रक्षतु वामनः।
अटव्यां नारसिंहश्च सर्वतः पातु केशवः।।

रात में सोने से पहले इस मंत्र का जाप करना चाहिए। आप चाहें तो हनुमान चालीसा या अपने ईष्टदेव का जाप भी कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें

ज्योतिष- अमंगल से बचना है तो मंगलवार के दिन भूलकर भी न करें ये कार्य

(डिस्क्लेमर: इस लेख में दी गई सूचनाएं सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है। patrika.com इनकी पुष्टि नहीं करता है। किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ की सलाह लें।)

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Maharashtra Assembly Speaker Election: महाराष्ट्र में विधानसभा स्पीकर का चुनाव आज, भाजपा और महा विकास अघाड़ी के बीच सीधी टक्करमस्क-बेजोस सहित कई अरबपतियों की दौलत में भारी गिरावट, जुकरबर्ग की संपत्ति हुई आधीबिहार में पैसेंजर ट्रेन के इंजन में लगी आग, रक्सौल से नरकटियागंज जा रही थी रेलगाड़ीराहुल गांधी के बयान को उदयपुर की घटना से जोड़ा, जयपुर में रिपोर्ट दर्जMumbai News Live Updates: संजय राउत का तंज, शतरंज में वजीर और जिंदगी में जमीर मर जाए तो समझो खेल खत्मMaharashtra Politics: सीएम शिंदे और डिप्टी सीएम फडणवीस को गर्वनर भगत सिंह कोश्यारी ने खिलाई मिठाई, तो चढ़ गया सियासी पारा!विदेश में छूट्टी मना रहे Kapil Sharma पर आई 7 साल पुरानी मुसीबत, इस चक्कर में कॉमेडियन के खिलाफ हुआ केस दर्जChar Dham Yatra 2022: चार धामा यात्रा को लेकर आई बड़ी खबर, केदारनाथ धाम गर्भगृह के दर्शन पर लगा प्रतिबंध हटा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.