40 साल पहले हो गई थी कोरोना वायरस की भविष्यवाणी?

...तो क्या 40 साल पहले ही कर दी गई थी कोरोना वायरस की भविष्यवाणी?

कोरोना वायरस को लेकर पूरी दुनिया में हाहाकार मचा हुआ है। इसको लेकर हर दिन नई-नई जानकारी सामने आ रही है। कुछ दिन से सोशल मीडिया पर इस वायरस को लेकर दिसचस्प जानकारी सामने आयी है।


सोशल मीडिया पर बताया जा रहा है कि कोरोना वायरस को लेकर 40 साल पहले ही भविष्यवाणी कर दिया गया था। इस बात का दावा 1981 में लिखी गई एक किताब के माध्यम से किया जा रहा है। कहा जा रहा है जिस वायरस की आज बात किया जा रहा है, उसका जिक्र उस किताब में 1981 में ही कर दिया गया था।


...तो क्या 40 साल पहले ही कर दी गई थी भविष्यवाणी?


1981 में अमेरिकी उपन्यासकार डीन कोन्ट्ज ने The Eyes of Darkness नाम की एक पुस्तक लिखी थी, जो सस्पेंस थ्रिलर उपन्यास है। इस उपन्यास में कोरेना वायरस की तरह एक महामारी का जिक्र है। इस उपन्यास में इस महामारी को वुहान-400 नाम दिया गया था।


क्या है सच्चाई?


सोशल मीडिया पर इस उपन्यास के हवाले से दावा किया जा रहा है कि वुहान-400 को चीन ने अपने रिसर्च लैब में जैविक हथियार बनाया गया था। कहा जा रहा है कि इस जैविक हथियार में इतनी ताकत थी कि वो पूरी मानव जाति को ही खत्म कर सकता था। लेकिन इस दावों में कितनी सच्चाई है इसकी कोई पुष्टि नहीं कर रहा है।


वहीं डीन कोन्ट्ज की कितब में वुहान-400 वायरस के बारे में कोरोना वायरस के बारे में अलग तरह की जानकारी दी गई है। The Eyes of Darkness के अनुसार, इस वायरस से निकलने वाला जहरीला पदार्थ दिमाग के टिश्यू को मार देता है लेकिन कोरोना वायरस के साथ ऐसा नहीं है।


किताब में चीन के शहर से वायरस का संबंध?

सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है इस किताब में जिन बातों का जिक्र किया गया है, उसे चीन के शहर वुहान से जोड़कर देखा जा रहा है लेकिन सच्चाई कुछ और ही है। किताब के पहले एडिशन में बताया गया है कि ये वायरस रुसी शहर गोर्की से फैला है। किताब के अनुसार, रुस का बनाया गया सबसे खतरनाक जैविक हथियार है।


अर्थात जिन कुछ पन्नों को सोशल मीडिया पर वायरल किया जा रहा है, उसकी सच्चाई कुछ और ही है। बताया जा रहा है कि जिन पन्नों को सोशल मीडिया में शेयर किया जा रहा है वह किसी दूसरे उपन्यास का अंश है क्योंकि कोन्ट्ज की किताब को जब 1989 में दोबारा रिलीज किया गया तो इसमें बदलाव किया गया था। अब सच्चाई क्या है, ये कोई नहीं बता रहा है।

Devendra Kashyap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned