विचार मंथन : इन पांच के बिना भगवान को कभी प्राप्त नहीं किया जा सकता- रामकृष्ण परमहंस

विचार मंथन : इन पांच के बिना भगवान को कभी प्राप्त नहीं किया जा सकता- रामकृष्ण परमहंस
विचार मंथन : इन पांच के बिना भगवान को कभी प्राप्त नहीं किया जा सकता- रामकृष्ण परमहंस

Daily Thought Vichar Manthan : इन पांच के बिना भगवान को कभी प्राप्त नहीं किया जा सकता- रामकृष्ण परमहंस

अगर कोई भक्त अपने आराध्य देव श्री भगवान को पाने की इच्छा से सतत कितना ही प्रयास क्यों न कर रहा हो, अगर उसके भीतर ये पांच सूत्र विद्यमान है तो उसे परम पिता की कृपा का पात्र बनने से कोई नही रोक सकत। रामकृष्ण परमहंस के अनुसार इन पांच सूत्रों में से कोई भी एक अपना कर कोई भी भगवान को पा सकते हैं।

 

विचार मंथन : नए समाज की, नए आदर्शों, जनमानस में प्रतिष्ठापना करने के लिए हर व्यक्ति, इन 10 सूत्रों को जीवन में उतारे- आचार्य श्रीराम शर्मा

1- दास भाव - रामकृष्ण परमहंस ने अपनी इस साधना के दौरान जो भाव हनुमान का अपने प्रभु राम से था इसी भाव से उन्होंने साधना की और साधना के अंत में उन्हें प्रभु श्रीराम और माता सीता के दर्शन हुए और वे उनके शरीर में समा गए।

2- मित्र भाव - यह साधना में स्वयं को सुदामा मान कर और भगवान को अपना मित्र मानकर की जाती है।

3- वात्सल्य भाव - 1864 में रामकृष्ण एक वैष्णव गुरु जटाधारी के सनिद्य में वात्सल्य भाव की साधना की, इस अवधि के दौरान उन्होंने एक मां के भाव से रामलला के एक धातु छवि (एक बच्चे के रूप में राम) की पूजा की। रामकृष्ण के अनुसार, वह धातु छवि में रहने वाले भगवान के रूप में राम की उपस्थिति महसूस करते थे।

 

विचार मंथन : बुरी आदतें जब वे नयी होती है तो उन्हें छोड़ना आसान होता है, लेकिन पुरानी होने पर इन्हें छोड़ना मुश्किल होता जाता है- भगवान बुद्ध

4- माधुर्य भाव - रामकृष्ण ने माधुर्य भाव की साधना की, उन्होंने अपने भाव को कृष्ण के प्रति गोपियों और राधा का रखा। इस साधना के दौरान, रामकृष्ण कई दिनों महिलाओं की पोशाक में रह कर स्वयं को वृंदावन की गोपियों में से एक के रूप में माना। रामकृष्ण के अनुसार, इस साधना के अंत में, वह साथ सविकल्प समाधि प्राप्त की।

5- संत का भाव (शांत स्वाभाव) - अन्त में उन्होने संत भाव की साधना की। इस साधना में उन्होंने खुद को एक बालक के रूप में मानकर माँ काली की पूजा की और उन्हें माँ काली के दर्शन हुए।

*********

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned