scriptFollow these rules during solar eclipse to avoid inauspicious effects | सूर्य ग्रहण के दुष्प्रभावों से बचने के लिए इन नियमों की पालना है जरुरी, जानिए सूर्य ग्रहण के दौरान क्या करें, क्या नहीं | Patrika News

सूर्य ग्रहण के दुष्प्रभावों से बचने के लिए इन नियमों की पालना है जरुरी, जानिए सूर्य ग्रहण के दौरान क्या करें, क्या नहीं

Solar Eclipse Precautions: धार्मिक मान्यताओं के अनुसार सूर्य ग्रहण के दौरान सूर्य पीड़ित अवस्था में होता है और ऐसे में हमें भी अशुभ प्रभावों से बचने के लिए कुछ सावधानियां बरतने की सलाह दी जाती है।

नई दिल्ली

Updated: April 29, 2022 12:08:38 pm

Solar Eclipse 2022 Rules: इस साल 2022 का पहला सूर्य ग्रहण 30 अप्रैल, शनिवार के दिन लगने वाला है। यह ग्रहण 30 अप्रैल की मध्य रात्रि को 12 बजकर 15 मिनट से सुबह 4 बजकर 7 मिनट तक रहेगा। ज्योतिष शास्त्र में सूर्य ग्रहण को एक महत्वपूर्ण स्थान दिया गया है। जहां एक तरफ सूर्य ग्रहण की अवधि में कुछ उपायों को करने से सकारात्मक परिणाम मिलते हैं। वहीं इस दौरान कुछ नियमों की पालना भी जरूरी होती है। तो आइए जानते हैं सूर्य ग्रहण के दौरान किन बातों का ध्यान रखना चाहिए...

solar eclipse precautions, solar eclipse 2022 rules, sun eclipse precautions, surya grahan 2022, surya grahan me kya karna chahiye, surya grahan me kya nahi karna chahiye, solar eclipse april date and time, what to do and what not to do during solar eclipse, सूर्य ग्रहण में भोजन करना चाहिए या नहीं, सूर्य ग्रहण के बाद क्या करना चाहिए, आज सूर्य ग्रहण में क्या करें क्या न करें, first solar eclipse of 2022, सूतक काल,
सूर्य ग्रहण के दुष्प्रभावों से बचने के लिए इन नियमों की पालना है जरुरी, जानिए सूर्य ग्रहण के दौरान क्या करें, क्या नहीं

1. यदि ग्रहण लगने वाला है और आपने भोजन बनाकर रख दिया है तो उसमें तुलसी के कुछ पत्ते डाल देना चाहिए। माना जाता है कि ऐसा करने से भोजन पर ग्रहण का दुष्प्रभाव नहीं होता है।

2. साथ में ज्योतिष आचार्यों के मुताबिक ग्रहण के 12 घंटे पहले और 12 घंटे बाद तक सूतक काल की अवधि में कुछ भी खाने-पीने से बचें, क्योंकि इससे शरीर के तापमान में वृद्धि होती है और आपको पाचन से जुड़ी समस्याएं हो सकती हैं। हालांकि रोगी, वृद्ध लोग, छोटे बच्चे और गर्भवती महिलाएं ग्रहण के 4 घंटे पूर्व तक खा-पी सकते हैं।

3. माना जाता है कि ग्रहण के दौरान सूर्य देव पर संकट आता है, इसलिए सूर्य को देखने और घर से बाहर निकलने की भी मनाही होती है। इसके अलावा तेल मालिश करना, दातुन और संभोग करने जैसे कार्यों को करने से भी नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। मान्यता है कि इन कामों को करने से आपको त्वचा संबंधी समस्याएं हो सकती हैं।

4. सूर्य ग्रहण के दौरान पहने हुए कपड़े अशुद्ध माने जाते हैं। इसलिए ग्रहण की समाप्ति पर कपड़ों सहित स्नान कर लेना चाहिए। वहीं ध्यान रखें कि सूतक काल प्रारंभ होते ही अपने ऊपर गंगाजल के छींटे मार लेने चाहिएं।

5. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, ग्रहण अवधि में फूल, पत्ती या लकड़ी आदि को तोड़ना भी गलत माना जाता है। साथ ही किसी से झूठ बोलना, छल करना, चोरी चकारी करना भी पाप माना गया है।

6. इस अवधि में मांसाहारी भोजन और अंडे का सेवन भी वर्जित माना गया है। अन्यथा माना जाता है कि इससे व्यक्ति का एकत्रित पूरा पुण्य नष्ट हो जाता है।

यह भी पढ़ें: सूर्य ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं को उठते-बैठते समय भी रखना चाहिए अपना खास ख्याल, जानिए अन्य किन चीजों के प्रति बरतें सावधानी

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Bihar: सबूत के तौर पर बरामद बम को पटना कोर्ट में किया जा रहा था पेश, हो गया ब्लास्टENG vs IND Edgbaston Test Day 1 Live: पहले सत्र के बाद भारतीय टीम 2 विकेट के नुकसान पर 53 रनों परMumbai Metro Car Shed Project: जानें क्या है मेट्रो कार शेड प्रोजेक्ट? जिसे आरे कॉलोनी में शिफ्ट करते ही आमने-सामने आ गई BJP और शिवसेनाकौन हैं जस्टिस सूर्यकांत, जिन्होंने नुपूर शर्मा को लगाई फटकार, कोर्ट में अपने ही खेत से हुई चोरी की सुना चुके हैं दास्तानजानिए आज से बैलून, पॉलीथीन बैग समेत कौन से प्लास्टिक प्रतिबंधित और कौन से नहीं, किस देश-राज्य में पैदा होता कितना प्लास्टिक कचरानुपूर शर्मा को सुप्रीम कोर्ट की फटकार, कहा- आपके बयान के चलते हुई उदयपुर जैसी घटना, पूरे देश से टीवी पर मांगे माफीएक्सप्रेसवे पर बनेंगे हैलीपैड, जानिए सड़क के किनारे कौन-कौन सी मिलेंगी सुविधाएंउदयपुर हत्याकांड मामले में हुआ आरोपियों से जुड़ा बड़ा खुलासा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.