scriptGuruwar Vrat Katha: Must read this story on Thursday, there will never be any shortage of happiness | गुरुवार के दिन जरूर पढ़ें ये कथा, सुख-समृद्धि की नहीं होगी कभी कमी | Patrika News

गुरुवार के दिन जरूर पढ़ें ये कथा, सुख-समृद्धि की नहीं होगी कभी कमी

कहते हैं जो व्यक्ति बृहस्पतिवार के व्रत रखता है उसकी सारी मनोकामनाएं पूर्ण हो जाती हैं और जीवन में सुख-शांति आती है।

नई दिल्ली

Published: August 04, 2022 12:42:42 pm

Guruwar Vrat Katha: गुरुवार का दिन भगवान विष्णु और बृहस्पति देव को समर्पित माना जाता है। इस दिन व्रत रखने का काफी महत्व माना जाता है। कहते हैं जो व्यक्ति बृहस्पतिवार के व्रत रखता है उसकी सारी मनोकामनाएं पूर्ण हो जाती हैं और जीवन में सुख-शांति आती है। लेकिन एक चीज ऐसी है जिसके बिना ये व्रत अधूरा माना जाता है वो है गुरुवार की व्रत कथा। गुरुवार व्रत रखने वाले व्रती इस कथा को जरूर पढ़ें।

guruwar vrat katha, guruwar katha, Thursday katha, Thursday story, astrology, religion news,
गुरुवार के दिन जरूर पढ़ें ये कथा, सुख-समृद्धि की नहीं होगी कभी कमी

गुरुवार की व्रत कथा (Guruvar Vrat Katha)
पौराणिक कथा अनुसार बहुत समय पहले एक प्रतापी और दानी राजा रहता था। राजा प्रत्येक गुरुवार का व्रत रखा करता था और जरूरतमंदों को भोजन कराता था। लेकिन राजा की पत्नी को राजा की ये बात अच्छी नहीं लगती थी। क्योंकि वो स्वभाव से आलसी थी। राजा की पत्नी न तो गुरुवार के व्रत रखती थी और ना ही किसी को दान पुण्य देती थी।

एक बार जब राजा शिकार करने वन गए इस समय रानी अपने घर पर अपनी दासियों के साथ थी। तब रानी की परीक्षा लेने के लिए बृहस्पति देव साधु का रूप धारण करके भिक्षा मांगने आए। रानी उन्हें देखकर क्रोधित हो गई और रानी ने साधु से कहा, हे साधु महाराज मैं इस दान और पुण्य से बहुत तंग आ गई हूं। कृपया करके आप मुझे कोई ऐसा सरल उपाय बताएं जिससे मेरा यह सारा धन नष्ट हो जाए और उसके बाद में आराम से जी सकूं।

रानी की बात सुनकर बृहस्पति देव हैरान हो गए। उन्होंने कहा कि कोई धन से भी दुखी होता है क्या। फिर भी रानी की जिद्द को पूरा करते हुए बृहस्पति देव ने उन्हें कहा कि तुम गुरुवार के दिन घर को गोबर से लीपना, अपने बाल धोना और स्नान करना, साथ ही राजा से कहना कि वह अपनी हजामत भी गुरुवार को जरूर बनाएं, ऐसा करने से तुम्हारा धन जल्द ही नष्ट हो जाएगा।

साधु की बात मानकर रानी ने बृहस्पतिवार से ये सब काम करना शुरू कर दिया। ऐसा करते हुए रानी को केवल तीन गुरुवार ही बीते थे कि उसकी सारी धन संपत्ति नष्ट हो गई। अब हालत ये हो गई थी कि भोजन और तमाम सुख-सुविधाओं के लिए परिवार तरसने लगा। अपने परिवार की ऐसी हालत देखकर राजा ने कहा कि, रानी तुम यहीं रहो मैं दूसरे देश जाता हूं क्योंकि यहां पर सब लोग मुझे सब जानते हैं तो ऐसे में मैं यहां कोई छोटा काम नहीं कर पाऊंगा।

ऐसा कहकर राजा बाहर निकल गए। दूसरे देश से जातक वो जंगल से लकड़ी काटते और उसे बेचकर जैसे तैसे अपना जीवन व्यतीत करते। इधर सुख-सुविधा, भोजन और राजा के बिना रानी बहुत ही परेशान रहने लगी। एक दिन रानी ने अपनी दासियों से कहा कि पास ही नगर में मेरी बहन रहती है। कृपया करके तुम उसके पास जाकर खाने का कुछ ले आओ ताकि थोड़ा बहुत गुजर बसर हो जाए।

दासी जब रानी की बहन के पास गई तो उस समय रानी की बहन गुरुवार व्रत की कथा सुन रही थी। दासी ने अपनी रानी का सारा संदेश उनकी बहन को सुना दिया। व्रत कथा समाप्त होने के बाद रानी की बहन रानी के घर आई। रानी ने अपना सारा दुखड़ा अपनी बहन को सुना दिया। रानी की बहन ने कहा कि तुम गुरुवार का व्रत करो। कथा सुनो। इससे बृहस्पति देव तुम्हारी सभी मनोकामना अवश्य पूरी करेंगे। अपनी बहन के कहे अनुसार रानी ने गुरुवार का व्रत कथा और कथा भी सुनी।

इस व्रत के प्रभाव से रानी के जीवन में धन संपत्ति वापस आ गई। अब रानी दान पुण्य भी करने लगी और जरूरतमंदों को भोजन कराने लगी। ऐसा करने से रानी का यश बढ़ा। कहा जाता है कि ये गुरुवार व्रत की कथा सुनने से हर व्यक्ति को शुभ परिणाम अवश्य हासिल होते हैं। ऐसे में यदि आप गुरुवार का व्रत करें तो इस दिन गुरुवार व्रत कथा भी अवश्य सुनें और दूसरों को भी सुनाएं।

यह भी पढ़ें

Vastu Shastra: इन वास्तु उपायों से भगवान कुबेर होते हैं प्रसन्न, धन-धान्य से भर देते हैं आपका जीवन

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Bihar Political Crisis Live Updates: आज नीतीश कुमार 8वीं बार CM पद की लेंगे शपथ, फिर बनेगी 'चाचा-भतीजे' की सरकारBihar : आज 8वीं बार CM पद की शपथ लेंगे नीतीश कुमार, महागठबंधन के मंत्रिमंडल में होंगे 35 विधायकBihar Politics: नीतीश कुमार की 'अवसरवादी राजनीति' की गूंज कहां तकसीओडी: मॉडर्न वॉरफेयर 2 की सितंबर से होगी शुरुआतदुबई में बना भव्य हिंदू मंदिर, दशहरा पर अनावरण की तैयारीराहुल गांधी का आज तिजारा दौरा, कांग्रेस नेतृत्व संगम शिविर के प्रतिभागियों से होगा संवादजेम्स वेब से कई गुना शक्तिशाली होगा मैगलन स्पेस टेलीस्कोप, 16 अरब की फंडिंग मिली23 बार की ग्रैंड स्लैम चैंपियन सेरेना विलियम्स ने अचानक किया रिटायरमेंट का ऐलान, फैंस हुए भावुक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.