छोटे से इस उपाय से आपके भाग्य जगा देंगे शनिदेव

नवग्रहों में शनि देव को न्याय का देवता कहा जाता है। जिन लोगों पर उनकी कृपा होती है, उन्हें वे रंक से राजा बना देते हैं मगर जिन लोगों पर शनि अपनी वक्री दृष्टि डालते हैं, उन लोगों के जीवन में हमेशा मुसीबतें आती रहती हैं। शनिवार को कुछ बातों का ध्यान रखें तो शनिदेव प्रसन्न होते हैं और उनके आशीर्वाद से भाग्य खुल जाते हैं।

नवग्रहों में शनि देव को न्याय का देवता कहा जाता है

नवग्रहों में शनि देव को न्याय का देवता कहा जाता है। जिन लोगों पर उनकी कृपा होती है, उन्हें वे रंक से राजा बना देते हैं मगर जिन लोगों पर शनि अपनी वक्री दृष्टि डालते हैं, उन लोगों के जीवन में हमेशा मुसीबतें आती रहती हैं। शनिवार को कुछ बातों का ध्यान रखें तो शनिदेव प्रसन्न होते हैं और उनके आशीर्वाद से भाग्य खुल जाते हैं।

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार कुछ उपायों से जहां शनि के प्रकोप का सामना नहीं करना पड़ता वहीं उनकी कृपा से कष्टोें से मुक्ति भी मिल जाती है।

कभी भी कोई गलत काम नहीं करना चाहिए। खासतौर पर शनिवार को इस बात का विशेष ध्यान रखें। ज्योतिष के अनुसार शनि देव अच्छे और बुरे दोनों कर्म का फल जरूर देते हैं। शनिवार के दिन कभी भी किसी पर गुस्सा न करें। शनिवार के दिन किसी भी हाल में काले कुत्ते को न मारें या तंग न करें। ऐसा करने पर शनि देव की नाराजगी से आपको समाज में बेइज्जत होना पड़ सकता है।

शनिवार को सुबह जल्द उठकर सूर्य देव को जल चढ़ाएं। इसके बाद पीपल के वृक्ष में जल अर्पित करें। ऐसा करने से धीरे धीरे शनि दोषों से मुक्ति मिल जाती है। शनिवार को देर से सोकर उठने पर भाग्य कमजोर हो सकता है। इसलिए शनिवार को हर हाल में सुबह जल्दी उठें और शनि देव की आराधना करें। इससे धीरे धीरे आपका दुर्भाग्य दूर होगा और सौभाग्य जाग उठेगा।

शनिवार को सरसों का तेल न खरीदें। इस दिन चमड़े की चीजें भी नहीं खरीदें। ऐसा करने से आपके बने बनाए काम भी बिगड़ सकते हैं। इस दिन किसी जरूरतमंद की सहायता जरूर करें। अतिथि का सत्कार करें। गरीबों को अन्न दान करें। ऐसा करने से शनिदेव की प्रसन्नता से जल्द ही आपके सोए हुए भाग्य जाग उठेंगे और शनि पीड़ा से मुक्ति मिल जाएगी।

Copyright © 2024 Patrika Group. All Rights Reserved.