scriptSakat Chauth 2022 Date, Muhurat, Puja Vidhi, chandrodaya Time | Sakat Chauth 2022: आज है सकट चौथ, जानिए व्रत की पूजा विधि, शुभ मुहूर्त, सामग्री और चांद निकलने का समय | Patrika News

Sakat Chauth 2022: आज है सकट चौथ, जानिए व्रत की पूजा विधि, शुभ मुहूर्त, सामग्री और चांद निकलने का समय

सकट चौथ को संकष्टी चतुर्थी (Sankashti Chaturthi), तिलकुटा चौथ, माघी चौथ, संकटा चौथ और तिलकुट चतुर्थी के नाम से जाना जाता है। मान्यता है इस दिन व्रत रखने से जीवन की कई परेशानियों से मुक्ति मिल जाती है। मुख्य रूप से ये व्रत संतान की सुरक्षा और सुख समृद्धि के लिए हर साल रखा जाता है।

नई दिल्ली

Updated: January 21, 2022 08:23:04 am

Sankashti (Ganesh) Chaturthi 2022 Date And Time: सकट चौथ या संकष्टी चतुर्थी हिंदू धर्म का प्रसिद्ध त्योहार है। संकटी चतुर्थी का मतलब होता है सभी संकट को हरने वाली चतुर्थी। ये त्योहार भगवान गणेश को समर्पित है। इस दिन लोग सूर्योदय से लेकर चंद्रमा उदय होने के समय तक व्रत रखते हैं। हिंदू पंचांग अनुसार वैसे तो चतुर्थी हर महीने में 2 बार आती है लेकिन माघ महीने की पूर्णिमा के बाद आने वाली चतुर्थी बहुत शुभ मानी जाती है। इस बार ये चतुर्थी 21 जनवरी दिन शुक्रवार को पड़ रही है।
sakat_chauth_2022.jpg
कैसे रखें सकट चौथ व्रत, जानिए इसकी पूजन सामग्री, पूजा विधि, महत्व और मुहूर्त
सकट चौथ मुहूर्त (Sakat Chauth 2022 Time):
चतुर्थी तिथि प्रारंभ 21 जनवरी को सुबह 08:51 AM बजे से
चतुर्थी तिथि समाप्त 22 जनवरी को सुबह 09:14 AM बजे तक
चंद्रोदय समय रात 9 बजे

सकट चौथ की पूजा सामग्री:
-गणेश जी की स्थापना करने के लिए एक लकड़ी की चौकी ।
-चौकी पर बिछाने के लिए पीला कपड़ा।
-गंगाजल, लाल और पीले फूल।
-दूर्वा की 21 गांठ और मोदक।
-तिल के लड्डू, तिलकुट, तिल की खीर या अन्य पकवान।
- चंदन, रोली, सुपारी, रक्षासूत्र, पान का पत्ता, इत्र, अक्षत्, हल्दी, अगरबत्ती, धूप, दीपक, गाय का घी, दही आदि।
-कलश और उसे ढकने के लिए ढक्कन, आम का पत्ता, गणेश जी की मूर्ति या तस्वीर।
-मौसमी फल, चंद्रमा को अर्पित करने के लिए गाय का दूध, सकट चौथ व्रत कथा पुस्तक।
-पूजा के बाद पारण के लिए फल, मिठाई आदि।
कैसे रखा जाता है ये व्रत: ये व्रत निर्जला रखा जाता है। लेकिन कोई स्वास्थ्य कारण से ये फलाहार करते हुए भी रखा जा सकता है। व्रत रखने वाले ऊपर बताई गई सामग्रियों का पहले ही प्रबंध कर लें। इस दिन सच्चे मन से विधि विधान गणेश जी की पूजा करनी चाहिए। पूजा के बाद रात के समय चंद्रमा को अर्घ्य दिया जाता है। उसके बाद फल खाकर व्रत खोला जाता है।
यह भी पढ़ें

Sakat Chauth 2022: सकट चौथ पर इन खास उपायों को करने से धन-दौलत बढ़ने की है मान्यता

संकष्टी पर कैसे करें गणेश जी की पूजा:
-सुबह जल्दी उठ जाएं और स्नान कर स्वच्छ वस्त्र पहन लें।
-स्नान के बाद गणपति की पूजा की तैयारी करें।
-गणेश जी मूर्ति के नीचे पीले रंग का साफ वस्त्र बिछाएं।
-मूर्ति को फूलों से सजा लें।
-पूजा में तिल, गुड़, लड्डू, फल, फूल, ताम्बे के कलश में पानी, धुप, चन्दन, केला और नारियल रख लें।
-गणेश जी को रोली लगाएं। उन्हें फूल और जल अर्पित करें।
-सकट चौथ के दिन गणपति को लड्डू और मोदक का भोग लगाएं।
-गणेश जी के मंत्रों का जाप करें।
-शाम के समय चांद निकलने से पहले गणपति की पूजा करें और संकष्टी चतुर्थी व्रत की कथा सुनें।
-पूजा समाप्त होने के बाद चांद के दर्शन करके व्रत खोल लें।
यह भी पढ़ें

वास्तु अनुसार जिस घर में होता है शनि देव का ये प्रिय पौधा वहां धन की नहीं होती कमी

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभकिसी भी महीने की इन तीन तारीखों में जन्मे बच्चे होते हैं बेहद शार्प माइंड, लाइफ में करते हैं बड़ा कामसूर्य-बुध की युति से बनेगा ‘बुधादित्य’ राजयोग, जानिए किसकी चमकेगी किस्मत?दिल्ली के सरकारी स्कूलों में सिर्फ 15 दिन का समर वेकेशन, जानिए प्राइवेट स्कूलों को लेकर क्या हुआ फैसला17 मई से 3 राशि वालों के खुलेंगे भाग, मंगल का मीन में गोचर दिलाएगा अपार सफलता2023 तक मीन राशि में रहेगा 'जुपिटर ग्रह', 3 राशियों की धन-दौलत में करेगा जबरदस्त वृद्धिगेहूं के दामों में जोरदार उछाल, एक माह में बढ़े 300 रुपए क्विंटलजमकर बिकी Tata की ये किफायती SUV! एडवांस फीचर्स और 5 स्टार सेफ़्टी के आगे फेल हुएं सभी

बड़ी खबरें

डॉ. माणिक साहा बने त्रिपुरा के नए मुख्यमंत्री, 11 महीने बाद ही राज्य में होना है विधानसभा चुनावबिहार में नितिन गडकरी ने कोईलवर सिक्सलेन पुल का किया उद्धाटन, नीतीश कुमार को नहीं दिया निमंत्रणमुठभेड़ के 12 घंटे के अंदर शिकारियों के घरों पर चलाया बुलडोजर40 करोड़ का जहाज, लंदन-स्पेन में करोड़ों की प्रॉपर्टी, जानिए अपने परिवार के लिए कितनी संपत्ति छोड़ गए UAE के राष्ट्रपतिअमित शाह के तेलंगाना दौरे से आखिर क्यों परेशान है TRS?कांग्रेस को बड़ा झटका, सुनील झाखड़ ने पार्टी से दिया इस्तीफा, सोनिया गांधी पर उठाए सवालCongress Chintan Shivir 2022 : प्रियंका गांधी कांग्रेस पार्टी की अध्यक्ष बने : प्रमोद कृष्णम11 साल के सोनू ने बिहार के सीएम नीतीश कुमार के सामने खोली पोल, कहा - 'हमको पढ़ना है सर! सरकारी स्कूल में पढ़ाई नहीं होती'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.