नवरात्र पर अगर आप भी करेंगे भंडारे का आयोजन तो पढ़ लें ये खबर, नहीं तो लेने के देने पड़ जाएंगे

नवरात्र पर अगर आप भी करेंगे भंडारे का आयोजन तो पढ़ लें ये खबर, नहीं तो लेने के देने पड़ जाएंगे

Devendra Kashyap | Updated: 03 Oct 2019, 05:16:47 PM (IST) धर्म

नवरात्र के मौके पर लगभग हर जगह भंडारे का आयोजन किया जाता है। लोग श्रद्धा से भंडारे करते हैं। इस मौके पर तरह-तरह के पकवान खिलाए जाते हैं।

29 सितंबर से शारदीय नवरात्र की शुरुआत हो चुकी है। देशभर में शारदीय नवरात्रि की तैयारी जोरों पर है। इस मौके पर देशभर में पूजा पंडाल बनाए गए हैं। लगभग हर गली में मां दुर्गा की मूर्ति रखकर उनकी उपासना की जा रही है। ऐसे में हम आपको एक काम की खबर बताने जा रहे हैं। अगर आप इस पर ध्यान नहीं देंगे तो दुर्गा पूजा में लेने के देने पड़ जाएंगे।


नवरात्र के मौके पर लगभग हर जगह भंडारे का आयोजन किया जाता है। लोग श्रद्धा से भंडारे करते हैं। इस मौके पर तरह-तरह के पकवान खिलाए जाते हैं। अक्सर इन भंडारों में प्लास्टिक का इस्तेमाल किया जाता है, लेकिन इस बार सावधान रहने की जरूरत है। अगर गलती से आप भंडारे में प्लास्टिक का इस्तेमाल करते पाए गए तो प्रशासन के कोप का शिकार हो सकते हैं।


दरअसल, दिल्ली नगर निगम इस बार भंडारे में हो रहे प्लास्टिक के इस्तेमाल पर सख्त रवैया अपनाए हुए है। जैसा कि आपने अखबारों में पढ़ा होगा और टीवी पर सुना होगा कि पीएम मोदी सिंगल यूज प्लास्टिक के इस्तेमाल को पूरी तरह खत्म करने के लिए जागरूकता अभियान चलाने की बात कही है। वहीं दिल्ली नगर निगम इस पर काम करना भी शुरू कर दिया है।


ये भी हो सकता है कि दिल्ली नगर निगम के तर्ज अन्य प्रदेशों के निगम और प्रशासन भी काम करना शुरू कर दे। क्योंकि यह काम दिल्ली में शुरू हो गया है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली नगर निगम ने दिल्ली फ्लाईओवर के नीचे भंडारे में सिंगल यूज प्लास्टिक की प्लेट का इस्तेमाल करने पर आयोजकों का 50 हजार रुपये का चालान काटा गया है।


ऐसे में अगर आप भी भंडारा करने को सोच रहे हैं तो सावधान हो जाएं। हो सकता है कि आपके इलाके के प्रशासनिक अधिकारी अचानक भंडारे में पहुंचकर जांच करने लगें और सिंगल यूज प्लास्टिक के इस्तेमाल पर आपका भी चालान काट दें। दरअसल, दिल्ली नगर निगम यह कार्रवाई स्वच्छ भारत अभियान के तहत कर रही है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned