करोड़पति बनना है तो शुक्रवार को करें ये उपाय, मां लक्ष्मी भर देगी आपके भंडार

यदि मां महालक्ष्मी की आराधना शुक्रवार के दिन की जाए तो उन्हें बहुत जल्दी प्रसन्न किया जा सकता है

By: सुनील शर्मा

Published: 05 Jan 2017, 04:07 PM IST

तंत्र शास्त्र के अनुसार यदि मां महालक्ष्मी की आराधना शुक्रवार के दिन की जाए तो उन्हें बहुत जल्दी प्रसन्न किया जा सकता है। इसके लिए ग्रंथों में कुछ उपाय भी बताए गए हैं। आइए जानते हैं ऐसे ही कुछ उपाय जिन्हें करने से मां लक्ष्मी आप पर प्रसन्न हो जाएगी और आजीवन धनी बनने का आशीर्वाद देंगी।

ये भी पढ़ेः तुलसी के पत्तों से शनिवार को करें ये उपाय, हाथों-हाथ दिखेगा असर

ये भी पढ़ेः सौभाग्य के लिए शाम को न करें झाड़ू और तुलसी से जुड़े ये काम, वरना हो जाएंगे बर्बाद

(1) शुक्रवार के दिन शाम को गाय के घी का दीपक घर के ईशान कोण में जलाएं। इस दीपक में थोड़ा सा केसर डालें तथा रूई के स्थान पर लाल रंग के सूती धागे का प्रयोग करें। इससे शीघ्र ही धन-सम्पदा आने के योग बनते हैं।

(2) शुक्रवार को 7 कुंवारी लड़कियों को घर बुलाकर उन्हें भोजन करवाएं। भोजन में केसर युक्त खीर अवश्य खिलाएं तथा दक्षिणा व वस्त्र दें। इस उपाय से जल्दी ही धन प्राप्ति होती है।

(3) शुक्रवार के दिन एक पीला कपड़ा लेकर उसमें पांच पीले रंग की कौड़ी, थोड़ा सा केसर तथा सिक्के डालें। इन सब को बांधकर उन्हें उन्हें अपनी तिजोरी में या गल्ले में रख दें। इसके प्रभाव से कुछ ही दिनों में आपकी धन संबंधी सभी समस्याएं समाप्त हो जाएंगी और घर में पैसा आना शुरु हो जाएगा।

ये भी पढ़ेः क्या आप जानते हैं हिंदू धर्म से जुड़ी इन 10 मान्यताओं और रीति-रिवाजों के बारे में

ये भी पढ़ेः इसलिए भगवान विष्णु को माना जाता है सर्वश्रेष्ठ देवता

(4) शुक्रवार के दिन भगवान विष्णु का दक्षिणावर्ती शंख में जल भरकर अभिषेक करे। अभिषेक के बाद उनकी विधिवत पूजा-अर्चना करें। इस उपाय से भी घर में दिन दूना रात चौगुना पैसा आना शुरु हो जाता है।

(5) शुक्रवार के दिन गरीबों को सफेद रंग की वस्तु अथवा खाद्य पदार्थ का दान करें। इससे धन से जुड़ी सारी समस्याएं समाप्त हो जाती हैं।

ये भी पढ़ेः भगवान शिव को कभी न चढ़ाएं ये वस्तुएं, जानिए क्या हैं इनका राज...

ये भी पढ़ेः रातोंरात किस्मत बदल देते हैं रावण संहिता के ये 10 तांत्रिक उपाय

ये भी पढ़ेः एक रुपया भी खर्च नहीं होगा और घर में आने लगेगी दिन-दूनी, रात-चौगुनी लक्ष्मी

(6) शुक्ल पक्ष में पडऩे वाले किसी शुक्रवार के दिन पत्नी अपने हाथों से प्रेम पूर्वक साबूदाने की खीर बनाएं लेकिन उसमें शक्कर के स्थान पर मिश्री डालें। इस खीर को सबसे पहले भगवान को अर्पित करें और इसके बाद पति-पत्नी थोड़ी-थोड़ी एक-दूसरे को खिलाएं। इसी दिन किसी मंदिर में इत्र का दान करें।
सुनील शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned