scriptVishnuji's favorite flower, know what is significance of offering it | विष्णुजी का सबसे प्रिय फूल, जानें इसे चढ़ाने का क्या मिलता है फल | Patrika News

विष्णुजी का सबसे प्रिय फूल, जानें इसे चढ़ाने का क्या मिलता है फल

Dev Uthani Ekadashi 2021 Puja Vidhi Vishnu Favorite Flower Dev Prabodhini Ekadashi 2021

 

Published: November 14, 2021 10:47:32 am

कार्तिक शुक्ल पक्ष की एकादशी को देव उठनी एकादशी, देव प्रबोधिनी एकादशी या देव उठनी ग्यारस भी कहा जाता है। इस दिन व्रत रखने और विष्णुजी की विधिपूर्वक पूजा का महत्व है। कार्तिक शुक्ल पक्ष की एकादशी पर विष्णुजी चार माह के बाद शयन से उठते हैं इसलिए इस तिथि को देवउठनी एकादशी या देवउठनी ग्यारस कहा जाता है.
vishuavatar.jpg
ज्योतिषाचार्य और धर्म शास्त्री बताते हैं कि देवउठनी ग्यारस के दिन विष्णुजी की पूजा का त्वरित फल मिलता है. इस दिन जो बिल्व पत्र से भगवान विष्णु का पूजन करते हैं, उन्हें अंत में मुक्ति मिलती है। तुलसीजी अर्पित करने पर दस हजार जन्मों के सभी पाप नष्ट हो जाते हैं। दूर्वादल चढाने पर सौ गुना ज्यादा फल मिलते हैं। शमीपत्र से पूजन करनेवाले यमराज के भयानक मार्ग को सुगमता से पार कर जाते हैं।
इस दिन विष्णुजी को अलग—अलग फूल अर्पित करने के भी अलग—अलग फल बताए गए हैं। इस दिन जो भक्त भगवान का अगस्त्य पुष्प से पूजन करते हैं, उनके सामने इन्द्र भी नतमस्तक हो जाते हैं। सफेद और लाल कनेर के फूलों से पूजन करनेवालों पर भगवान अति प्रसन्न होते हैं। गुलाब के पुष्प से विष्णु पूजन करने पर मुक्ति प्राप्त होती है।
specific_flowers.jpg

पीले और रक्त वर्ण कमल के सुगंधित पुष्पों से भगवान का पूजन करनेवालों को श्वेत दीप में स्थान मिलता है। बकुल और अशोक के पुष्पों से पूजन करनेवाले शोक से रहित रहते हैं। चंपक पुष्प से विष्णुजी की पूजा करनेवाले जीवन-मृत्यु के चक्र से मुक्त हो जाते हैं। स्वर्ण से बना केतकी पुष्प भगवान को अर्पित करने वालों के करोड़ों जन्मों के पाप नष्ट हो जाते हैं।

Must Read- महाकाल दर्शन की व्यवस्था में बदलाव, शुरु हुई ये बड़ी सुविधा

सनातन धर्म ग्रंथों के अनुसार विष्णुजी को कदंब के फूल सबसे प्रिय हैं. इसलिए एकादशी पर कदंब पुष्प से उनकी पूजा करना सबसे उत्तम माना गया है। भगवान विष्णु कदंब पुष्प को देखकर बहुत प्रसन्न होते हैं। कदंब पुष्प से भगवान का पूजन करनेवालों को यमराज के कष्टों से सामना नहीं होता। विष्णुजी उनकी सभी कामनाओं को पूरा करते हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Republic Day 2022: गणतंत्र दिवस पर दिल्ली की किलेबंदी, जमीन से आसमान तक करीब 50 हजार सुरक्षाबल मुस्तैदRepublic Day 2022 LIVE updates: देश आज मना रहा 73वें गणतंत्र दिवस का जश्न, राजपथ पर दिखेगी देश की सैन्य ताकतRepulic Day 2022: जानिए क्या है इस बार गणतंत्र दिवस की थीमस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाBudget 2022: कोरोना काल में दूसरी बार बजट पेश करेंगी निर्मला सीतारमण, जानिए तारीख और समयUP Election 2022: सपा ने 39 प्रत्याशियों की जारी की सूची, 2002 के बाद पहली बार राजा भैया के खिलाफ उतारा प्रत्याशीpetrol diesel price today: पेट्रोल-डीजल के दामों में कोई बदलाव नहींUP Election 2022: कल्याण सिंह के निधन के बाद अतरौली देखेगा पहला चुनाव, संदीप सिंह के सामने है पुश्तैनी सीट बचाने की चुनौती
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.