एक साथ इतनी बड़ी तादाद में बड़े वाहनों का हुआ चालान, जानें क्या है वजह...

-बोले एएसपी कार्रवाई जारी रहेगी

By: Ajay Chaturvedi

Published: 23 Feb 2021, 04:09 PM IST

रीवा. एक साथ इतनी बड़ी तादाद में भारी वाहनों के खिलाफ कार्रवाई से जहां वाहन चालकों में हड़कंप है, वहीं आम जनता खुश नजर आ रही है। वैसे एएसपी शिव कुमार वर्मा ने कहा है कि ये अभियान जारी रहेगा। नियमों का पालन सभी को करना होगा, जो नियम तोड़ेगा उसके खिलाफ कार्रवाई तय है।

दरअसल नियमविरुद्ध तरीके से नो एंट्री में कहीं भी भारी वाहन दौड़ाने से आम लोगो को काफी फजीहत का सामना करना पड़ रहा था। इससे अनावश्यक जाम भी लग रहा था और दुर्घटना की आशंका हर समय बनी रह रही थी। पब्लिक इसे लेकर लगातार पुलिस को निशाना बना रही थी कि पुलिस कुछ कर ही नहीं रही है। ऐसे में पुलिस ने नो एंट्री में शहर में घुसने वाले भारी वाहनों के खिलाफ अभियान छेड़ दिया। नतीजा एक साथ 15 वाहन चपेट में आ गए। सभी का चालान काटा गया और बतौर जुर्माना सभी से 5-5 हजार रुपये वसूले गए। वाहनो को पुलिस ने जब्त कर लिया है। अब इनके विरुद्ध खनिज और परिवहन विभाग जांच कर अग्रिम कार्रवाई करेगा। यह भी पता लगाया जाएगा कि कौन-कौन से वाहन ओवरलोडिंग के शिकंजे में आते हैं। वाहनों के कागजात की भी पड़ताल होगी। तीनों विभागों की संयुक्त जांच के बाद वाहन चालकों के खिलाफ मामला दर्ज किया जाएगा।

जानकारी के मुताबिक शहर के चोरहटा-रतहरा के बीच 13 किलोमीटर के बाइपास मार्ग तो है पर रात 10 बजे के बाद वाहन चालक इस बाइपास मार्ग को छोड़कर शहर के अंदर से अपने वाहन लेकर निकल रहे थे। ऐसे वाहनों पर लगाम कसने के लिए एसपी के निर्देश पर पुलिस विभाग की टीम ने शहर के अलग-अलग स्थानों पर दबिश देकर उन्हें जप्त कर पुलिस कंट्रोल रूम पहुंचा दिया। बताया जा रहा है कि रतहरा में बाइपास टोल नाका से बचाने के लिए वाहन चालक रात में शहर के मुख्य मार्ग का उपयोग करने लगे हैं।

जब्त किए गए वाहनों में बल्कर, हाइवा और बड़े 10 चक्का ट्रक सहित अन्य भारी वाहन शामिल हैं। ऐसे भारी वाहनों की शहर की सड़क में दौड़ लगाने के कारण सड़कों पर सीधा प्रभाव पड़ रहा है। इसे देखते हुए पुलिस विभाग नो एंट्री वाले समय में शहर में प्रवेश करने वाले वाहनों पर शिकंजा कसने के लिए इन दिनों मुहिम चला रही है और शहर के अंदर पाए जाने वाले भारी वाहनों को जब्त किया जा रहा है।

Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned