दूसरा आधार कार्ड लिंक करके खाते से निकाले 21 लाख रुपए

रायपुर कर्चुलियान पुलिस ने दर्ज किया मामला, आरोपी से चल रही पूछताछ

By: Shivshankar pandey

Published: 11 Jun 2021, 09:14 PM IST

रीवा। महिला की जगह दूसरा आधार कार्ड लिंक करके एक खाते से रुपए निकालने का मामला सामने आया है। पैसा करीब एक साल तक लगातार निकलता रहा लेकिन किसी को भी जानकारी नहीं हुई। मामला सामने आते ही पुलिस ने एक आरोपी को हिरासत में ले लिया है जिससे पूछताछ की जा रही है।

बैंक में जमा करवाए थे रुपए
रायपुर कर्चुलियान थाने के पुरैना निवासी वंदना तिवारी पति मनीष तिवारी का खाता मध्यांचल बैंक चोरगढ़ी में संचालित था जिसमें करीब 21 लाख रुपए थे। महिला ने अपना आधार कार्ड लिंक करने के लिए बैंक में दिया था लेकिन बैंक ने महिला का आधार लिंक करने के बजाय राजेश पाण्डेय निवासी चोरगढ़ी का आधार कार्ड लिंक कर दिया। इसका फायदा उठाकर आरोपी धीरे-धीरे उनके खाते से रुपए निकालने लगा। कियोस्क के माध्यम से करीब एक साल तक उसने धीरे-धीरे खाते से सारे रुपए निकाल लिये गये।

पुत्रियों की शादी के लिए रखे थे रुपए
करीब 234 बार रुपए निकाले गए लेकिन इस फ्राड की जानकारी न तो बैंक को हुई न ही पीडि़त महिला को पता चला। उनको अपनी पुत्रियों की शादी करनी थी जिसके लिए थोड़े-थोड़े रुपए जमा कर वे कई सालों से खाते में डाल रही थी। कुछ दिन पूर्व जब वे बंैंक में रुपए निकालने गई तो उसमें रुपए ही नहीं थे। यह देखकर उनके पैरों तले से जमीन खिसक गई। उन्होंने थाने में शिकायत दर्ज कराई जिस पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया। पुलिस बैंक में खाते में राजेश पाण्डेय का आधार कार्ड लिंक मिला। पुलिस ने उसे पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया जिससे इस पूरे फर्जीवाड़े के संबंध में जानकारी ली जा रही है।

बैंक के स्टाफ की भूमिका संदिग्ध
इस पूरे फर्जीवाड़े में बैंक के स्टाफ की भूमिका भी संदिग्ध है। दरअसल आधार कार्ड से लिंक बैंक मैनेजर की स्वीकृति के बाद ही होता है। फिर महिला के खाते में किसी दूसरे का आधार कार्ड कैसे लिंक हो गया। इस पूरे फर्जीवाड़े में बैंक का स्टाफ भी शामिल हो सकता है जिसकी वजह से पूरा फर्जीवाड़ा हुआ है। पुलिस ने बैंक को पत्र लिखकर इस संबध में जानकारी मांगी है। जांच के बाद बैंक का स्टाफ भी नामजद हो सकता है।

घर बनवाया, सोना-चांदी व जमीन खरीदी
आरोपी ने पूछताछ में पीडि़ता के खाते से निकाले गए रुपयों कई जगह खर्च करने की जानकारी दी है। वह रुपयों से आलीशान मकान का निर्माण करवा रहा है जिसमें अभी काम चल रहा है। इसके अतिरिक्त उसने काफी मात्रा में सोने व चांदी के जेवरात, सेकेण्ड हैण्ड बाइक व प्लाट भी खरीदा है। पुलिस ठगी के पैसों खरीदी गई सम्पत्ति को जब्त करेगी। इसके साथ ही आरोपी के बैंक खातों को भी सील किया जायेगा।

जांच के बाद आगे होगी कार्रवाई
एक महिला के खाते से रुपए निकालने का मामला सामने आया है जिसमें दूसरा आधार कार्ड लिंक करके 21 लाख रुपए निकाले गए है। संदेही को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। इस पूरे मामले में बैंक की भूमिका भी सामने आई है। बैंक को जानकारी देने के लिए पत्र लिखा गया है।
मृगेन्द्र सिंह, थाना प्रभारी रायपुर कर्चुलियान

Show More
Shivshankar pandey Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned