scriptamrit sarover 115 in rewa, manarega work | Rewa : अमृत सरोवरों के निर्माण में मशीनों का प्रयोग, टारगेट ऐसा कि मजदूरों से करा पाना मुश्किल | Patrika News

Rewa : अमृत सरोवरों के निर्माण में मशीनों का प्रयोग, टारगेट ऐसा कि मजदूरों से करा पाना मुश्किल


- जिले में बन रहे 115 अमृत सरोवरों का निर्माण 15 मई के पहले पूरा करने का है निर्देश

रीवा

Published: May 09, 2022 11:27:20 am



रीवा। मनरेगा योजना के तहत पंचायतों में श्रमिकों को रोजगार देने के उद्देश्य से अमृत सरोवरों का निर्माण कराया जा रहा है। प्रधानमंत्री का निर्देश है कि हर जिले में कम से कम 75 नए तालाब बनाए जाएं, जिसमें रीवा जिले में 115 तालाब बनाने का लक्ष्य रखा गया है। इसके निर्माण की अवधि इतना कम रखी गई है कि मजदूरों से काम करा पाना मुश्किल होगा। आगामी 15 मई के पहले सभी जगह निर्माण कार्य पूरे करना है। इसकी नियमित समीक्षा कलेक्टर की ओर से की जा रही है, साथ ही मैदानी स्तर पर अधिकारियों को भेजा गया है कि वह इस पर निगरानी करें। अब करीब सप्ताह भर का समय और बचा है, टारगेट के अनुसार तालाबों का निर्माण कार्य पूरा कराना है। ग्रामीण क्षेत्रों में सबसे बड़ी समस्या पंचायतों के सामने मजदूरों का काम पर नहीं आने की है। अब मेहनत से जुड़ा काम करने के लिए कुछ ही मजदूर मिल पाते हैं, जबकि तालाब की खोदाई के लिए हर दिन सैकड़ों की संख्या में मजदूरों की जरूरत पड़ेगी। जिले के सभी हिस्सों में जेसीबी और ट्रेक्टर से मिट्टी खोदी जा रही है, साथ ही डंफरों को भी लगाया गया है। कुछ जगह तो श्रमिकों ने कहा है कि पंचायत द्वारा उन्हें काम पर नहीं लगाया जा रहा है। जबकि सरपंचों का तर्क है कि मजदूर नहीं मिल रहे इसलिए काम कराना बड़ी समस्या है।
---
rewa
amrit sarover 115 in rewa, manarega work

निगरानी के लिए लगाए गए हैं 98 नोडल अधिकारी


एक ओर कलेक्टर ने अमृत सरोवर के निर्माण कार्य को गंभीरता से लिया है। इसके लिए जिले भर में 98 नोडल अधिकारी लगाए गए हैं, जो हर तालाब का निरीक्षण करने के लिए मौके पर पहुंचेंगे। मनरेगा के मद से श्रमिकों के जरिए ही काम कराया जाना है। कई नोडल अधिकारियों ने कहा कि जिले भर से आ रही शिकायतों पर यदि श्रमिकों की जांच शुरू हो जाएगी तो तालाबों का समय पर कार्य कराना मुश्किल होगा। निगरानी के दौरान प्राथमिकता यह है कि निर्धारित स्वरूप में तालाबों का समय पर निर्माण कार्य पूरा हो।
-------------
कई जगह मशीनों से काम कराने का हो रहा विरोध


जिले के कई हिस्सों से ग्रामीणों द्वारा शिकायत कलेक्टर के पास की गई है। जिसमें कहा गया है कि सरपंच-सचिव मजदूरी की राशि बचाने के लिए पूरा काम मशीनों के जरिए करा रहे हैं। गंगेव जनपद के हिनौती, पचोखर, गंगतीरा सहित अन्य गांवों के लोगों ने कहा है कि जो मजदूर काम करना चाहते हैं, उन्हें भी काम पर नहीं लगाया जा रहा है।जबकि मनरेगा योजना के तहत हर तालाब को औसत 22 से 25 लाख रुपए तक दिए गए हैं, जिसमें 12 से 14 लाख रुपए तक मजदूरी की राशि है। एक ओर यह भी कहा जा रहा है कि मजदूरी की राशि सीधे बैंक खाते में जाती है। ऐसे में लोगों ने सवाल उठाए हैं कि जब मशीनों से काम हो रहा है तो मजदूरों तक राशि कैसे जाएगी।
--------

कई जगह लागत सही नहीं बताने का आरोप


अमृत सरोवर की राशि की लागत जो निर्धारित की गई है, उसकी सही जानकारी गांव के लोगों को नहीं दिए जाने का आरोप लगाया गया है। सामाजिक कार्यकर्ता शिवानंद द्विवेदी ने बताया कि उन्होंने कई गांवों का भ्रमण किया, जिसमें पाया है कि तालाबों के पास योजना से जुड़ी जानकारी तो प्रदर्शित की गई है लेकिन उसमें सूचनाएं गलत हैं। उन्होंने ग्राम पंचायत हिनौती का उदाहरण देते हुए बताया कि तालाब की लागत 22.45 लाख रुपए है जबकि सूचना बोर्ड में 22 हजार रुपए लागत बताई गई है। इससे ग्रामीणों को गुमराह करने का प्रयास किया जा रहा है। इसी तरह अन्य कई गांवों में भी स्थितियां बताई गई हैं।
---------

इन गांवों में बनाए जा रहे हैं अमृत सरोवर-


गंगेव- हिनौती गांव में चार, सथनी में तीन, सूरा, बुढ़वा, देवास, पचोखर, खरहई, कोलहाई, पताई, दादर कोठार, क्योंटी, सरईकला, पनगड़ी कला, भौखरी खुर्द, गंगेव आदि में एक-एक तालाब बनाए जा रहे हैं।
जवा- बौसड़, दोदर, लोहगढ़, खाझा, कंचनपुर, डोड़ौ, चंपागढ़, देवखर, कोनी कला, इटमा, रौली, गड़ेहरा, भनिगवां, केचुहा, जनकहाई कला।
त्योंथर- कोटरा कला, सूती, गोंद खुर्द, बारी कला, बुदामा, डीह, फुलदेउर, रिसदा, शंकरपुर।
नईगढ़ी- पैकनगांव, कोट, चिल्ला, बंधवा कोठार, जोधपुर प्रथम, जोधपुर द्वितीय, डिहिया, दूबी, खर्रा, बेलहा नानकार, रामपुर, शिवराजपुर।
मऊगंज- हर्रहा, डमरी माधव, बहेरा डाबर, कुलबहेरिया, शिवपुरवा, सूजी, भांटी सेंगर, गढ़वा में दो।
रायपुर कर्चुलियान- नवागांव कोठार, पलिया नंबर, बरेही, बक्छेरा में दो, पहडिय़ा।
सिरमौर- खम्हरिया, पडऱी, सदनहा में दो, बम्हनी गढ़ीहा, पटेहरा, भेलौड़ी, देवगांव कला।
हनुमना- रघुनाथगढ़, टटिहरा, गौरी, पटेहरा, हर्दी नंबर वन, बन्ना जवाहर, हाटा, पांती मिश्रान, लोढ़ी, पटेहरा, गाड़ा 234, खटखरी, दामोदरगढ़, चरैया में दो, मुनहाई, हर्रई प्रताप सिंह, मिसिरगवां, जड़कुड़, लोढ़ी, प्रतापगंज, खखरी, दामोदरगढ़, गोपला, नटेहरा, बस्तीवानी, नाउन कला, लासा, खोड़मानी, नाउन खुर्द, बलभद्रगढ़, राजाधौ।
---------------

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

अरविंद केजरीवाल ने जारी किया मिस्ड कॉल नंबर, भारत को नंबर वन देश देखने वालों से की घंटी बजाने की अपीलCBI Raids Manish Sisodia House Live Updates: मनीष सिसोदिया के घर CBI रेड के विरोध में प्रदर्शन कर रहे AAP कार्यकर्ताओं पुलिस ने हिरासत में लियाबंगाल, महाराष्ट्र में भी ED के छापे, उनके सामने तो मैं तिनका हूँ, 'सांसद अफजाल अंसारी ने दी चुनौती- पूर्वांचल हमारा ही रहेगा'CBI Raid: दिल्ली के डिप्टी CM मनीष सिसोदिया के घर पहुंची CBI की टीम, 20 ठिकानों पर चल रही छापेमारीJanmashtami 2022: मुंबई और ठाणे में इन जगहों पर लगी है सबसे उंची दही हांडी, 10 थर लगाने पर 21 लाख का इनामबिलकिस बानो केसः 6000 से अधिक सामाजिक कार्यकर्ताओं ने सुप्रीम कोर्ट से दोषियों की रिहाई को रद्द करने की मांग कीDahi Handi Festival: मुंबई में दो साल बाद कृष्ण जन्माष्टमी की धूम, शहर के कई इलाकों में फोड़ी जाएगी दही हांडीमथुरा, वृंदावन समेत कई जगहों पर आज है जन्माष्टमी की धूम, जानें पूजा का शुभ मुहूर्त और विधि
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.