जबलपुर में सेना की भर्ती रद्द, रीवा में अभ्यर्थियों ने कलेक्ट्रेट घेरा

जिला प्रशासन को आवेदन देकर भारतीय सेना से द्वारा निर्धारित समय पर भर्ती प्रक्रिया चालू किए जाने उठाई मांग, जबलुपर में सेना की भर्ती चालू नहीं होने से लामबंद अभ्यर्थियों ने कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

By: Rajesh Patel

Published: 03 Mar 2021, 11:17 AM IST

रीवा. सेना की भर्ती रद्द होने से एकजुट हुए अभ्यर्थियों ने मंगलवार को कलेक्टर कार्यालय के सामने प्रदर्शन किया। इस दौरान प्रदर्शन कर रहे अभ्यर्थियों ने कहा कि जबलपुर (जेडआरो) में पिछले 14 माह से आर्मी की कोई भर्ती नहीं आयोजित की जा रही है। जिससे जबलपुर से जुड़े रीवा, सतना, सिंगरौली, अनूपुर, नरसिंगपुर, बालाघाट, शहडोल, उमरिया, डिंडोरी, मंडला, सिवनी के जिले में अभ्यर्थियों की भर्ती प्रक्रिया प्रभावि है।
एमपी में 14 जिले के 10 लाख अभ्यर्थी प्रभावित
जिला प्रशासन को आवेदन देकर अभ्यर्थियों ने कहा कि इन जिलो के 10 लाख अभ्यर्थी सेना भर्ती का 14 माह से प्रतीक्षा कर रहे हैं। जिसका भारतीय सेना द्वारा फरवरी में नोटिफिकेशन जारी होना था। अभी तक नहीं किया गया। मध्य प्रदेश में सबसे बड़ा केन्द्र जबलपुर है। भर्ती रद्द होने के कारण 14 जिले के अभ्यर्थियों का भविष्य खतरे में हैं। इनमें से आधे अभ्यर्थियों की उम्र भर्ती योग्य नहीं रह जाएगी। कोरोना काल के चलते अभ्यर्थियों ने 2021 के पहले भर्ती कराने की मांग उठाई है।
कलेक्ट्रेट गेट पर किया प्रदर्शन
अभ्यर्थियों के प्रदर्शन के दौरान एसडीएम फरहीन खान समझाने की कोशिश कर रहीं थी। लेकिन, अभ्यर्थी गेट पर बैठकर प्रदर्शन करने लगे। अभ्यर्थियों ने कहा कि उम्र निकलने के बाद सेना में भर्ती नहीं हो सकेंगे। ऐसे स्थित में वह बेरोजगार हो जाएंगे। एसडीएम ने आश्वासन दिया कि इसका पत्र संबंधित विभाग को भेजा जाएगा। इस दौरान बड़ी संख्या में सेना में आवेदन करने वाले अभ्यर्थी और पुलिस व अधिकारी कर्मचारी मौजूद रहे।

 Army recruitment canceled in Jabalpur, Candidates encircle collectives in Rewa
rajesh patel IMAGE CREDIT: patrika
Show More
Rajesh Patel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned