विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम बोले : मैं रीवा की जनता का पक्षपाती रहूंगा

विधानसभा अध्यक्ष चुने जाने के बाद पहली बार रीवा आए विस अध्यक्ष गिरीश गौतम का भव्य नागरिक अभिनंदन

By: Rajesh Patel

Updated: 07 Mar 2021, 07:26 AM IST

रीवा. मध्य प्रदेश के विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम चुने जाने के बाद पहली बार रीवा पहुंचे। आत्मीय अभिनंदन किया गया। इस दौरान उन्होंने कहा कि राजनीति में जाने का जो दूसरा रास्ता ढूंढ़ते हैं उनके लिए यह अध्यक्ष पद संकेत है कि संघर्ष के रास्ते से भी राजनीति में ऊंचाई तक पहुंचा जा सकता है। मैं आपको आश्वस्त करता हूं कि जिस कुर्सी पर मैं बैैठा हूं जो फैसले करूंगा निष्पक्षता से निर्णय करूंगा। मुझे जिला पंचायत अध्यक्ष अभय मिश्रा ने न्याय का तराजू दिया है। तराजू की जो न्याय की देवी की आंख में भले ही पट्टी बंधी हैं, लेकिन मैं न्याय आंख खोलकर करूगां। न्यूाय की कुर्सी में बैठाकर न्याय करूंगा।
रीवा की जनता का पक्षपाती रहूंगा
टीआरएस कालेज के एनसीसी ग्राउंड में उन्होंने कहा कि मैं रीवा की जनता का पक्षपाती रहूंगा। आपके पक्ष में खड़ा रहूंगा। मुझे चाहे कोई पक्षपाती कहे। रीवा का पक्ष लेना मेरा धर्म है, मेरा कर्म है, मेरा दायित्व है। उस कुर्सी में बैठकर यदि लगता हो कि मैं रीवा के साथ पक्षपात करता हूं तो मैं इस आरोप को स्वीकार करता हूं। मैं कुर्सी पर बैठकर माता-पिता और आप सबको भूल नहीं सकता, चाहे जो हो। भाजपा ने मुझे अवसर दिया। संगठन के नेताओं को और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को भूल नहीं सकता।
विस अध्यक्ष ने कहा मेरे सामने कोई चुनौती नहीं
विधानसभा अध्यक्ष ने कहा मेरे सामने कोई चुनौती नहीं, मेरे सामने स्वयं की चुनौती है। मेरे द्वारा स्थापित विचारों को पूरा करने की चुनौती है। ईश्वर मुझेे शक्ति दे कि रीवा की जनता के कल्याण का काम कर सकूं। मेरे अंतर्मन की आवाज ही मेरी चुनौती है। उसी के आधार पर काम करूंगा।
मुझे ऐसी विचारधारा चाहिए जिससे विकास
विस अध्यक्ष ने कहा कि मेरे कंधे पर भार है, लेकिन मेरे पास आठ विधायक हैं, थोड़ा-थोड़ा बांटेगे तो भार कम हो जाएगा। मुझे ऐसी विचारधारा चाहिए, जिससे विंध्य का रीवा का विकास हो सके। उन्होंने कहा कि हमें ऐसे मंथन की जरूरत है कि मंथन से जहर भी निकले तो ऐसा निकले जो सांप को मारने वाला हो। उन्होंने मौजूद लोगों को दिलासा दिया कि मैं अपने कर्तव्यों से और आपके सहयोग से यह प्रयास करूंगा की इस क्षेत्र का सेवक बनकर काम कर सकूं यही मेरी इच्छा है।
आइए हम सब मिलकर हवन करें
आइए हम सब मिलकर हवन करें कि पूरे मप्र के अंदर रीवा, सीधी, सतना, सिंगरौली एवं विंध्य के लोगों के कल्याण के काम ज्यादा से ज्यादा हो सके। हम सब मिलकर प्रयास करेंगे कि रीवा के विकास की गति को और तेज करेंगे। उन्होंने कहा कि रीवा के विकास को गति मिलेगी। मैं महावत की भूमिका में हूं। अब विधायकों को संबल मिलेगा।
मैं उस पंचायत का हूं जहां तीन विधायक हुए
टीआरएस कालेज के एनसीसी ग्राउंड में त्रि-स्तरीय पंचायत के नागरिक अभिनंद मंच पर विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम ने कहा कि मैं उस पंचायत से हूं जहां से तीन विधायक हुए हैं। जरहा से विधायक नागेन्द्र ङ्क्षसह, मैं करौदी से और मिसिरगवां से विद्यावती पटेल विधायक हुईं। और मैँ उस विधानसभा का वोटर हूं जहां से विधायक पंचूलाल प्रजापति हैं।
राजनीति मैं 17 बार जेल जा चुका हूं
विधानसभा अध्यक्ष ने संघर्ष की कहानी सुनाते हुए कहा कि तब जनार्दन मिश्रा और मैं जनता के संघषों को लेकर जेल जाने की होड़ करते थे। मैं जनता के संघर्ष के दौरान राजनीति में 17 बौर जेल जा चुका हूं। मेरे राजनीतिक गुरू घनश्याम सिंह रहे हैं।

BJP
Show More
Rajesh Patel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned