एसआइ समेत पांच पुलिस कर्मचारियों के निलंबन के लिए आठ घंटे तक भाजपा विधायक का धरना, विधानसभा में उठेगा मामला

एसआइ समेत पांच पुलिस कर्मचारियों के निलंबन के लिए आठ घंटे तक भाजपा विधायक का धरना, विधानसभा में उठेगा मामला
BJP MLA held for eight hours

Rajesh Patel | Updated: 04 Jul 2019, 09:38:51 PM (IST) Rewa, Rewa, Madhya Pradesh, India

धरना स्थल पर ज्ञापन लेने पहुंचे एसडीएम, एसडीओ को लौटाया, नेता प्रतिपक्ष के द्वारा विधानसभा में मामला उठाए जाने के आश्वासन पर धरना खत्म किए विधायक

रीवा. जिले के हनुमना और मऊगंज में आए दिन हो रहे अपराध से आजिज आकर क्षेत्रीय विधायक प्रदीप पटेल गुरुवार को पुलिस के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। स्थानीय लोगों के साथ विधायक धरने पर बैठ गए। आठ घंटे तक खटखरी पुलिस चौकी के पास धरने पर बैठे विधायक प्रभारी और शाहपुर थाने को मिलाकर कुल पांच पुलिस कर्मचारियों के निलंबन की मांग पर अड़े रहे। ज्ञापन लेने पहुंचे एसडीएम मऊगंज और एसडीओ को बैरंग लौटना पड़ा। विधायक ने पुलिस अधिकारियों के नहीं आने की शिकायत भोपाल में की।

अपराध पर अंकुश नहीं लगा पा रही पुलिस
जिले के शाहपुर थाना और पुलिस चौकी खटखरी क्षेत्र में खुलेआम गांजा, शराब की तस्करी के साथ लूट आदि को लेकर भाजपा विधायक कई दिनों से खफा थे। पुलिस अधीक्षक को सूचना दिए जाने के बाद भी क्षेत्र में अपराध पर अंकुश नहीं लग रहा था। जिसको लेकर भाजपा ग्रामीणों के साथ खटखरी पुलिस चौकी के सामने सुबह ११ बजे धरने पर बैठ गए।
विधायक की अगुवाई में जुटे क्षेत्रीय लोगों ने पुलिस की कारस्तनी पर सवाल उठाए और स्थानीय पुलिस कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग पर अड़े रहे। विधायक शाम साढ़े छह बजे धरने पर बैठे रहे। इस बीच मऊगंज एसडीएम और एसडीओपी मौके पर पहुंचे। समझाइस के बाद विधायक, एसआई विजय सिंह सहित पांच पुलिस कर्मचारियों के निलंबन की मांग पर अड़े रहे।

विधायक ने ज्ञापन राज्य पाल को किया फैक्स
विधायक ने ज्ञापन देने के बजाए, राज्यपाल को फैक्स भेज कर मऊगंज पुलिस की कारस्तानी से रूबरू कराया है। विधायक ने महामहिम राज्यपाल कार्यालय को फैक्स किए गए पत्र में कहा है कि शाहपुर थाना क्षेत्र में हो रही घटनाओं में कार्रवाई नहीं की जा रही है। गांव के लोग थाने में शिकायत करने जाते हैं तो एसआई विजय ङ्क्षसह द्वारा फटकार कर भगा दिया जाता है। शाहपुर थाना क्षेत्र में हत्या, बलात्कार, छेडख़ानी आदि की घटनाएं बढ़ गई हैं। चौकी खटखरी में अवैध तरीके से गांजा, शराब और जुएं के अड्ढे खुलेआम चल रहे हैं। पुलिस को सूचना देने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। प्रदर्शन के दौरान ज्ञानेन्द्र प्रताप ङ्क्षसह, रामजतन, राजबहोर सोनी सहित सैकड़ो की संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे।

शाम साढ़े छह बजे धरने से उठे विधायक
भाजपा विधायक शाम साढ़े छह बजे प्रदेश सरकार के नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव से मोबाइल पर घटना की जानकारी दी। नेता प्रतिपक्ष के द्वारा मामले को विधानसभा में उठाने का आश्वासन दिया तो विधायक बगैर ज्ञापन दिए धरने से उठकर चले गए।

इनके निलंबन पर अड़े रहे विधायक
थाना शाहपुर एसआई विजय सिंह सहित गिरीश चौबे, खटखरी चौकी प्रभारी रामनरेश ङ्क्षसह व बाल्मीकि पयासी, झलक नारायण का तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाए।

 

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned