Breaking news : अंगूठा लगवा 35 रुपए का नहीं दिया राशन, अर्जी नवीस ने 200 रुपए ली लिखवाई

कलेक्टर विधवा महिला को लेकर अर्जी नवीस के पास पहुंचे, लगाई फटकार वापस कराए पैसे, परिसर से लाइसेंसी को छोड़ को अवैध अर्जी नवीसों को हटाए जाने एसडीएम को दिए निर्देश

By: Rajesh Patel

Updated: 03 Jul 2021, 10:18 AM IST

रीवा. हुजूर तहसील के कोठी गांव में विधवा महिला से अंगूठा लगवाने के बाद खाद्यान्न नहीं दिया जा रहा है। महिला लीला पटेल शुक्रवार दोपहर 1.20 बजे कलेक्टर कार्यालय पहुंची। कलेक्टर इलैयाराजा टी कार्यालय में आवेदनों की सुनवाई कर रहे थे। जैसे ही महिला ने आवेदन देकर कहा कि साहब कोटेदार बीनू पटेल रजिस्टर पर अंगूठा लगवाने के बाद भी खाद्यान्न नहीं दे रही। कलेक्टर ने फौरन जिला खाद्य नियंत्रक को बुलाकर खाद्यान्न दिलाने का निर्देश दिए।महिला गरीब बताते हुए फफक पड़ी । इस पर कलेक्टर ने पूछा और क्या समस्या है। महिला ने रोते हुए बताया कि कोटेदार राशन दे दिया होता तो इस गरीबी में आवेदन लिखवाने के लिए 200 रुपए नहीं देना पड़ता।

कलेक्टर आवेदन लिखाई के नाम पर 200 रुपए लिए जाने पर भड़क गए

कलेक्टर आवेदन लिखाई के नाम पर विधवा महिला से 200 रुपए लिए जाने की जानकारी पर भड़क गए। फौरन महिला के साथ अर्जी नवीस के पास पहुंचे। पूछताक्ष में अर्जीनवीस तीन आवेदन लिखने की जानदारी दी। इस पर कलेक्टर ने का तीन आवेदन की लिखाई 200 रुपए लोगे। इसकी कीमत खर्चा जोड़कर बीस रुपए होती है। अधिकतम चालीस से पचास ले लेते। लेकिन, इतना नहीं लगता। गोलमोल जवाब पर कलेक्टर ने अर्जीनवीस से पूरे पैसे विधवा महिला को वापस कराए। मौके पर परीक्षण के बाद पता चला कि अवैध तरीके से दुकानें रखी गई हैं।

लाइसेंसी को छोड़ शेष को तत्काल हटाने का निर्देश

फौरन कलेक्टर ने हुजूर तहसीलदार और एसडीएम शैलेन्द्र ङ्क्षसह कलेक्ट्रेट परिसर में लाइसेंसी को छोड़ शेष को तत्काल हटाने का निर्देश दिए। कलेक्टर के जाने के बाद मौजूद लोगों ने भी कहा कि अर्जीनवीस ने बीस रुपए का आवेदन लिखकर 200 रुपए लेना गलत है। ऐसे लोगों के खिलाफ एफआइआर होना चाहिए। दिनदहाड़े मानमानी तरीके से पैसे वसूल रहे हें।

एसडीएम ने महिला को दिलवाए राशन पैकेट
कलेक्टर के निर्देश पर शिकायत लेकर पहुंची विधवा महिला को राशन का पैकेट दिलाया गया। इसके बाद जिला खाद्य नियंत्रक एमएनएच खान ने तत्काल कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी को कोठी गांव भेजकर राशन दुकान की जांच कराई। नियंत्रक ने कहा कि पहले महिला को राशन दिलवाओ फिर स्टाक पंजी सहित अन्य मामले की जांच प्रतिवेदन प्रस्तुत करें।

कलेक्टर के लौटते ही पहुंचे एसडीएम, हटाने की दी चेतावनी
कलेक्टर के लौटते ही वेंडर परिसर में एसडीएम हुजूर शैलेन्द्र ङ्क्षसह नायब तहसीलदार यतीश शुक्ला व नियंत्रक के साथ कथित अवैध वेंडर के पास पहुंचे। एसडीएम ने कहा कि लाइसेंसी को छोड़ शेष अनाधिकृत तरीके से काउंटर लगाने वाले तत्काल यहां से चले जाएं। एसडीएम ने उप पंजीयक कार्यालय से वेंडरों की लिस्ट मांगी है।

COVID-19 COVID-19 virus
Show More
Rajesh Patel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned