चिकित्सक को कोरोना संक्रामित बताने की अफवाह फैलाने पर दर्ज हुआ मामला

बिछिया पुलिस कर रही जांच, वाट्सएप में भेजा गया था मैसेज

रीवा. कोरोना वायसर को लेकर अफवाह फैलाने के मामले में पुलिस ने प्रकरण दर्ज किया है। फिलहाल किसी आरोपी को नामजद नहीं किया गया है। पुलिस अब साइबर की मदद से आरोपियों को ट्रेस करने का प्रयास कर रही है। जानकारी के अनुसार चिकित्सक के खिलाफ दो दिन पूर्व कोरोना संक्रमण की अफवाह फैलाई गई थी। जिला अस्पताल में पदस्थ डॉ. नंदनी पाठक के खिलाफ किसी ने कोरोना संक्रमित होने का मैसेज सोशल मीडिया में डाला था जबकि उस समय वे कलेक्ट्रेट में मीटिंग पर थे। सोशल मीडिया में मैसेज देखकर खुद उनके होश उड़ गए और बाद में उन्हें लोगों को सफाई तक देनी पड़ी थी। इस मामले को जिला कलेक्टर ने संज्ञान में लिया और उन्होंने पुलिस को कार्रवाई के निर्देश दिये। पुलिस ने इस मामले की जांच की और आरोपी के खिलाफ धारा 188, 66 व 67 आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है। सोशल मीडिया में मैसेज भेजने वाले आरोपी का पता नहीं चल पाया है। पुलिस साइबर की मदद से उक्त आरोपी को ट्रेस करने का प्रयास कर रही है। पुलिस इस बात का पता लगा रही है कि उक्त मैसेज कहां से शुरू हुआ था और बाद में किसने-किसने उसे फारवर्ड किया था।

Balmukund Dwivedi Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned