UP के किसानों को रोकने के लिए बनाए जाएंगे चेक पोस्ट, जानें क्या है वजह...

-कलेक्टर इलैया राजा टी ने जारी किया फरमान

By: Ajay Chaturvedi

Published: 29 Oct 2020, 04:31 PM IST

रीवा. यूपी के किसानों को जिले में प्रवेश से रोकने के लिए सीमा से जुड़े 7 स्थानों पर एक नवंबर से चेक पोस्ट कार्य करने लगेंगे। ऐसा कलेक्टर इलैया राजा टी के आदेश से ऐसा होने जा रहा है। कलेक्टर ने विकासखंड त्योंथर में चाकघाट-इलाहाबाद मार्ग में चाकघाट बॉर्डर पर, नारीबारी से मांगी मार्ग से मध्यप्रदेश सीमा प्रारंभ होने वाले स्थल पर, चेकपोस्ट बनाने के निर्देश दिए हैं। ऐसे ही विकासखंड हनुमना के हनुमना सीधी रोड में पिपराही पुलिस चौकी पर एवं बनारस मार्ग पर अंतर्राज्यीय मंडी और हनुमना में भी चेकपोस्ट स्थापित किया जाएगा।

दरअसल ये चेकपोस्ट अपने जिले के किसानों के हित में बनाए जा रहे हैं ताकि कोई बाहरी खास तौर से गैर प्रांत का किसान यहां आ कर अपना उत्पाद न बेंच सके। जिले में धान की खरीद 16 नवंबर से शुरू होगी।

ये भी पढें- अन्नदाता परेशान, कैसे बेचें समर्थन मूल्य पर धान, गांव में तो केंद्र ही नहीं

कलेक्टर ने कहा है कि एक नवंबर से जिले में आने वाले माल वाहन की सघन जांच कर जांच पंजी संधारित की जाए। इसके तहत सभी ट्रकों पर निगाह रहे। सभी ट्रकों से लाए जा रहे खाद्यान्न की प्रविष्टि सुनिश्चित हो। उन्होंने कहा कि किसी भी रूप में जिले में सीमावर्ती क्षेत्रों से धान का परिवहन न होने पाए। इसके नियंत्रण के लिए कर्मचारियों को नियुक्त किया जाए। जांच के दौरान अवैध रूप से जिले की बाहर के धान, जिले के के खरीद केंद्र (उपार्जन केंद्र) में पाए जाने पर सम्मिालित कर्मचारियों के विरूद्ध कठोर कार्रवाई की जाएगी। समय-समय पर उड़नदस्ता भी जांच कर धान, ज्वार, बाजरा के अवैध परिवहन पर रोक लगाए। कलेक्टर ने कहा कि जिले के खरीद केंद्रों पर पूरी पारदर्शिता के साथ धान खरीदी की व्यवस्था की जा रही है

Show More
Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned