मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा, रीवा में बढ़ रहा संक्रमण, होम क्वारंटीन से बाहर न निकले लोग

मुख्यमंत्री ने वीडियो कान्फे्रंस के जरिए रीवा और सिंगरौली जिले के स्थित की समीक्षा की

By: Rajesh Patel

Published: 23 May 2020, 03:24 PM IST

रीवा. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को भोपाल से वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से रीवा और सिंगरौली जिले की समीक्षा की। रीवा की समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री कहा, जिले में बड़ी संख्या में प्रवासी मजदूरों के आने का सिलसिला जारी है। पूरी सावधानी व सर्तकता बरतते हुए संक्रमण रोकने के उपाय करें।

लक्षण मिलने पर कराएं जांच
मुख्यमंत्री ने कहा बाहर से आने वाले श्रमिकों की स्क्रीनिंग कराएं यदि सक्रमण के लक्षण पाए जाएं उपचार की व्यवस्था कराएं। उन्होंने कहा कि जिन क्षेत्रों को कन्टेनमेंट एरिया बनाया गया है वहां पूरी तरह से निगरानी रखी जाए। उस क्षेत्र के लोग घरों से बाहर न निकलें। होम क्वारंटीन किए गए व्यक्तियों को भी किसी भी हालत में बाहर निकलने की अनुमति न रहे। हर हाल में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने जिले में आपदा प्रबंधन समिति की बैठकों के नियमित आयोजन के संबंध में जानकारी प्राप्त की। रीवा स्थित एनआईसी से कलेक्टर बसंत कुर्रे ने जानकारी दी कि रीवा जिले में जो श्रमिक बाहर से आ रहे हैं वह अधिकांशत हॉटस्पॉट या रेड जोन से आए हैं।

इंजीनियरिंग कालेज में हो रही जांच
रेलवे स्टेशन एवं इंजीनियरिंग कालेज में आने वाले श्रमिकों की स्क्रीनिंग की जा रही है तथा यदि किसी में संक्रमण के लक्षण दिखते हैं तो उन्हें तत्काल चिकित्सकीय व्यवस्था उपलब्ध करायी जाती है। जिले में अभी तक ग्रामीण क्षेत्रों में 13 कन्टेनमेंट एरिया बनाए गए हैं। कन्टेनमेंट एरिया में पूरी सावधानी बरती जा रही है। होम क्वारंटीन लोगों पर कड़ी नजर रखी जा रही है। ग्रामीण क्षेत्रों के छात्रावास, विद्यालय भवन, पंचायत भवन आदि में क्वारंटीन सेंटर बनाए गए हैं जहां पंचायतों द्वारा भोजन आदि की व्यवस्था कराई जा रही है।

रीवा में 14 से बढकऱ हो गए 30
जिले में अभी तक 1085 सैम्पल लिए गए हैं जिनमें से 26 पॉजिटिव प्रकरण व 25 एक्टिव प्रकरण हैं तथा एक व्यक्ति को अस्पताल से छुट्टी दी जा चुकी है। जिले में अब तक कुल 30 पॉजिटिव की संख्या हो गई है। जिसमें चार बाहर के हैं। उन्होंने बताया कि जिला आपदा प्रबंधन समिति की बैठक नियमित तौर पर आयोजित की जाती है। जनप्रतिनिधियों एवं स्वंयसेवी संगठनों व अन्य सदस्यों की उपस्थिति में आयोजित जिला आपदा प्रबंधन समिति की बैठक में लिए गए निर्णयों का पालन सुनिश्चित कराया जा रहा है।

Show More
Rajesh Patel Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned