scriptchild ate poison because mobile was not found to play the game | खतरनाक लत: गेम खेलने के लिए मोबाइल नहीं मिलने पर बच्चे ने दे दी जान | Patrika News

खतरनाक लत: गेम खेलने के लिए मोबाइल नहीं मिलने पर बच्चे ने दे दी जान

- रीवा के हनुमना थाना क्षेत्र में हैरान कर देनेे वाली घटना

रीवा

Published: June 28, 2022 06:23:37 am

रीवा। बच्चों में मोबाइल पर गेम खेलने की लत अब खतरनाक होती जा रही है कि इसके न मिलने पर वे आत्मघाती कदम तक उठाने लगे हैं। रीवा में ऐसा ही एक मामला सामने आया है। गेम खेलने के लिए मोबाइल नहीं मिलने पर 12 वर्षीय बच्चे ने जहर पी लिया।
खतरनाक लत: गेम खेलने के लिए मोबाइल नहीं मिलने पर बच्चे ने दे दी जान
खतरनाक लत: गेम खेलने के लिए मोबाइल नहीं मिलने पर बच्चे ने दे दी जान
परिजन उसे अस्पताल लेकर आए, जहां उसने दम तोड़ दिया। घटना जिले के हनुमना थाना क्षेत्र की है। परिजनों के अनुसार, रविवार को बच्चे घर में ही खेल रहे थे। मोबाइल पर गेम खेलने की बात को लेकर उनके बीच विवाद हो गया।

दूसरे बच्चे ने उसे गेम खेलने के लिए मोबाइल नहीं दिया, जिससे नाराज होकर उसने घर में रखे कीटनाशक पी लिया। घटना के समय परिजन अपने-अपने काम में व्यस्त थे। बच्चे की हालत बिगडऩे लगी तो परिजन को घटना की जानकारी हुई।

वे तत्काल बच्चे को हनुमना सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लेकर पहुंचे जहां उसकी हालत को देखते हुए चिकित्सकों ने एसजीएमएच रीवा के लिए रेफर कर दिया। यहां भर्ती बच्चे ने दमतोड़ दिया। परिजनों के बयान दर्ज कर पुलिस घटना की जांच कर रही है।

हनुमना थाना क्षेत्र में एक बच्चे ने जहर का सेवन कर लिया था जिसकी अस्पताल में मौत हो गई। मर्ग कायम कर घटना की जांच की जा रही है। जांच के बाद ही वास्तविक कारण सामने आयेंगे।
नवीन दुबे, एसडीओपी मऊगंज
पत्रिका व्यू : बच्चे ही तो हैं जिंदगी...
अपने लाल को, लाड़ली को संभालिए... बच्चे से संवाद बनाए रखिए... बच्चे छोटे हैं तो साथ में खेलिए... साथ में पढि़ए... खूब प्यार कीजिए... समझदार हो गए हैं तो दोस्ताना व्यवहार कीजिए... सिर्फ अपने ही काम में व्यस्त मत रहिए... बल्कि बच्चे मोबाइल पर कौन सा गेम खेल रहे हैं, क्या देख रहे हैं, किन बच्चों से दोस्ती है... इस पर भी नजर रखिए... यदि बच्चे को मोबाइल की लत लग गई है, चिड़चिड़ा हो गया है तो समझाइए... पढ़ाई की तरफ ध्यान मोडऩे की कोशिश कीजिए... उसकी जरूरतें समझिए... याद रखिए आपके बच्चे ही आपका परिवार है... परिवार खुश है तो आप खुश हैं... और आप खुश हैं तो सभी की जिंदगी भी खुशहाल है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

बीजेपी नेता श्रीकांत त्यागी पर बड़ा एक्शन, बुलडोजर से ढहाया जा रहा अवैध निर्माण, मिली लोकेशनMaharashtra Coal Scam: दिल्ली कोर्ट ने सुनाया फैसला- पूर्व कोयला सचिव एचसी गुप्ता को 3 साल और प्राइवेट कंपनी के डायरेक्टर को 4 साल की जेलMaharashtra: ‘डबल इंजन’ की सरकार का आम जनता को होगा डबल फायदा, पीएम मोदी ने सीएम शिंदे से किया यह वादाबिहार में सियासी उलटफेर की आंशका, CM नीतीश कुमार ने सोनिया गांधी से की बात, सभी विधायकों को बुलाया पटनाElectricity Amendment Bill: बिजली संशोधन विधेयक आज लोकसभा में हो सकता है पेश, पावर सेक्टर के कर्मचारियों के बाद CM मान ने भी किया विरोधBihar Politics: राजद और JDU मिल जाए तो बिहार में आराम से बन सकती है सरकार, जानिए क्या है आंकड़ेCongress: अध्यक्ष बनने के लिए राहुल ने अब तक नहीं की ‘हां’, क्या गहलोत पर दांव खेलेगी कांग्रेस?Jammu-Kashmir News: टेरर फंडिंग मामले में डोडा और जम्मू जिले में NIA की छापेमारी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.