सीएम के दूत ने पंचायतों में देखी विकास की हकीकत, प्रतिनिधियों से लिया फीडबैक

सीएम के दूत ने पंचायतों में देखी विकास की हकीकत, प्रतिनिधियों से लिया फीडबैक

Rajesh Patel | Publish: Jul, 13 2018 12:13:48 PM (IST) Rewa, Madhya Pradesh, India

मनरेगा आयुक्त ने रीवा, गंगेव, नईगढ़ी जनपद के कई गांवों में परखी विकास योजनाएं

रीवा. मनरेगा आयुक्त ने यानी सीएम के दूत ने जिले के ग्राम पंचायतों में विकास योजनाओं की हकीकत देखी और पंचायत प्रतिनिधियों से फीडबैक लिया। निरीक्षण के दौरान आयुक्त ने विकास कार्यों के गुणवत्ता सुधारने के लिए अधिकारियों को हिदायत दी। रीवा के बाद वह दूसरे दिन सतना जिले के लिए रवाना हो गईं।

हितग्राहियों से पूछा योजनाओं की हकीकत
मनरेगा आयुक्त जीवी रश्मी सबसे पहले रीवा जनपद के कोठी और डिहिया ग्राम पंचायत पहुंचीं। यहां उन्होंने मनरेगा के तहत कराए गए विकास कार्यों का निरीक्षण किया। इसके बाद वह गंगेव जनपद के अगड़ाल के गंभीर पुरवा गांव पहुंचीं। पंचायत अधिकारियों ने आयुक्त को गांव के राम प्रसाद के निर्माणाधीन कपिल धारा को दिखाकर वाहवाही लूटी। आयुक्त ने 2.30 लाख रुपए की लागत से निर्माणाधीन कूप की उपयोगिता का फीडबैक लिया। मनरेगा आयुक्त नईगढ़ी के जोरौट गांव का भी निरीक्षण किया।

प्रतिनिधियों से लिया योजनाओं का फीडबैक
उन्होंने सरपंच से भी पूछा कि गांव पंचायतों में किस तरह के काम की आश्वयकता है। इस दौरान उन्होंने मनरेगा, प्रधानमंत्री आवास, टॉयलेट सहित अन्य योजनाओं के क्रियान्वयन की जानकारी ली। पौधरोपण की भी समीक्षा किया। भ्रमण के दौरान जिला पंचायत सीइओ मयंग अग्रवाल, मनरेगा प्रभारी अकांक्षा सिंह, गंगेव और नईगढ़ी के सीइओ संजय सिंह, योगेन्द्र पांडेय, एपीओ सुनीता शुक्ला, एएओ बसंतलाल पटेल, बीसी अंजनी पांडेय सहित अन्य अधिकारी और कर्मचारी रहे।

पंचायतों के रिकार्ड भी खंगाले
आयुक्त मनरेगा निरीक्षण के दौरान कई पंचायतों में विकास योजनाओं के अभिलेख भी खंगाला और पंचायत अधिकारियों को अभिलेखों को दुरूस्त रखने के निर्देश दिए। आयुक्त ने कई अभिलेख भी जब्त किया है।

सर्किट हाउस में अधिकारियों के साथ किया मंथन, गिनाई खामियां
मनरेगा आयुक्त जीवी रश्मि ने जिले में आधा दर्जन से अधिक ग्राम पंचायतों में मनरेगा, प्रधानमंत्री ग्रामीण विकास योजनाओं सहित अन्य कल्याणकारी योजनाओं की समीक्षा की। सर्किट हाउस में आयोजित समीक्षा बैठक के दौरान मनरेगा आयुक्त ने कहा कि कुछ योजनाओं के क्रियान्वयन में खामियां हैं, समय रहते उसे दूर किया जाए। इस दौरान उन्ह्रोंने अधिकारियों से पंचायत में चल रही योजनाओं का बारी-बारी से फीडबैक लिया और पूछा कि आगे किस तरह की योजनाएं लागू की जाएं कि गरीबों को योजनाओं का लाभ मिल सके। समीक्षा के दौरान जिला पंचायत सीइओ सहित जनपद स्तर का अमला मौजूद रहा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned