शहर में लॉकडाउन के बीच निगमकर्मी मैदान में डटे, बोले मुश्किल वक्त में हमारी जिम्मेदारी अधिक

- भोर से ही सफाईकर्मियों ने वार्डों में संभाला मोर्चा, पेयजल सप्लाई भी रही जारी


रीवा। कोरोना संक्रमण रोकने के लिए शहर में लॉकडाउन किया गया है। शहर में धारा 144 लागू की गई, कफ्र्यू जैसे हालात बने हुए हैं। लोग कम संख्या में ही घरों से बाहर निकल रहे हैं। एक दिन पहले जनता कफ्र्यू की वजह से पूरे दिन लोग घरों के भीतर ही रहे, लेकिन अब आगे भी 31 मार्च तक के लिए कलेक्टर ने शहर में लॉकडाउन घोषित किया है, इस कारण कम संख्या में ही लोग बाहर निकले। इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने इसकी अवधि २१ के लिए और बढ़ा दी है। इन सबके बीच कुछ ऐसी आवश्यक सेवाएं हैं जो लगातार जारी हैं। इसमें सबसे अहम शहर की सफाई व्यवस्था है। जिसमें नगर निगम का पूरा अमला इसमें लगा हुआ है। शहर के रतहरा में सफाई करने पहुंचे रोहित भारती, बब्लू भारती, मनोज आदि बताते हैं कि सफाई की व्यवस्था करना उनका नियमित का कार्य है। इनदिनों कोरोना को लेकर प्रशासन ने अलर्ट किया है, इस वजह से भीड़ वाले स्थानों पर जब जाते हंै तो चेहरे पर मास्क या फिर कपड़ा बांध लेते हैं। पूरा शहर अपने घरों में है, इसलिए यदि ये भी अपने घर में रहेंगे तो शहर की सफाई बाधित होगा और पूरा शहर कचरे का ढेर नजर आएगा। इसी तरह महिला सफाई कर्मी सावित्री एवं रामवती बताती हैं कि उन्हें भी स्वयं और परिवार की सुरक्षा को लेकर चिंता है लेकिन परिवार का भरण-पोषण करना है तो काम पर आना ही पड़ेगा। इसलिए हर दिन की तरह वह नियमित रूप से अपने कार्य पर पहुंच रही हैं।
----
हमारी सेवाएं हर मौसम में जारी रहती हैं, बरसात हो या फिर ठंड हमें अपने निर्धारित समय पर वार्ड में पहुंचना होता है। सुना है कोरोना आ रहा है, इसके बारे में अधिक जानकारी नहीं है। हम तो अपनी सेवाएं इसी तरह देते रहेंगे।
बब्लू बाल्मिकी, सफाईकर्मी
--
शहर में इस समय कोरोना की वजह से विपरीत हालात हैं। पूरे शहर एक साथ इस बीमारी के खिलाफ खड़ा है। ऐसे में हम सफाईकर्मियों की जिम्मेदारी अधिक बढ़ जाती है। इस मुश्किल हालत में हम घर नहीं बैठ सकते। हर परिस्थिति में काम करने के लिए तैयार हैं।
मन्नू बाल्मिकी, सफाईकर्मी
--

Corona virus
Mrigendra Singh Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned