कोरोना योद्धाओं की पूर्ण कालिक नियुक्ति का कांग्रेस नेता व संगठनों ने किया समर्थन, चौथे दिन भी प्रदर्शन जारी

कोविड-स्वास्थ कर्मचरियों के समर्थन में धरना स्थल पर पहुंची कांग्रेस की वरिष्ट कार्यकर्ता

By: Rajesh Patel

Updated: 03 Dec 2020, 09:17 AM IST

रीवा. कोविड स्वास्थ्य कर्मचारियों का धरना तीसरे दिन बुधवार को भी जारी रहा। अस्थाई स्वास्थ्य कर्मचारियों की मांगों के समर्थन में कांग्रेस नेत्री कविता पांडेय भी पहुंची। पांडेय ने कोविड कर्मचारियों की मांग को जायज बताते हुए नियमित किए जाने की मांग की है। इस दौरान ओबीसी संगठन के पदाधिकारियों ने भी नियमित किए जाने की मांग का समर्थन किया है।
मापदंड के तहत की गई नियुक्तियां
इस दौरान वक्ताओं ने कहा कि अप्रैल में कोविड महामारी के दौरान फार्मासिस्ट, एएनएम औऱ स्वास्थ्य कर्मियों की तीन माह की कोरोना योद्धा के तौर पर नियुक्ति की थी। स्वास्थ्य विभाग में की गईं ये नियुक्तियां कोविड 19 वैश्विक महामारी के तहत विभागीय नियमानुसार, एवं पूर्ण मापदंडों के अनुसार जैसे पुर्ण दस्तावेज सत्यापित एवं साक्षात्कार द्वारा एवं पूर्ण रूप प्रशिक्षण देने के बाद 3 माह के लिए नियुक्तियां की गई थी।
संकट में साथ खड़े रहे अब कर दिया बाहर
वैश्विक महामारी के प्रकोप को देखते हुए 9 माह तक निरंतर बढ़ाया जाता रहा है इन 8 से 9 माह में पूर्ण ईमानदारी एवं कर्तव्य निष्ठा से अपने कर्तव्यों का पालन करते हुए अपनी जान को जोखिम में डालकर कोविड-19 के संदिग्ध एवं पॉजिटिव मरीजों के सीधे संपर्क में रहते हुए इलाज एवं सेवाएं देते रहे हैं, इस दौरान स्वास्थ्य कर्मियों ने अपने घर को त्याग कर अपनी सेवाएं दी जिसमें कई कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव भी हुए ।आज भी दो महिला कर्मी जिन्हें महामारी ने गम्भीर रूप से चपेट में लिया है कई दिनों से इलाज चल रहा है।
नियमित किए जाने उठाई मांग
कविता पांडे ने सरकार से मांग की है कि इन स्वास्थ्य कर्मियों को शीघ्र पूर्णकालिक नियुक्ति दिए जाने के साथ ही मप्र के तमाम ऐसे कर्मचारी जो संविदा के तहत काम कर रहे है। इस अवसर पर कोविड-स्वास्थ्य संगठन से जुड़े पदाधिकारी और प्रभावित कर्मचारी मोजूद रहे।

Show More
Rajesh Patel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned