पॉजिटिव के कान्टेक्ट में आए 494 संदिग्ध, हाई रिस्क में 303 का लिया सैंपल, ऐसे में तो नहीं रुकेगा संक्रमण

जिले में पॉजिटिव मरीजों के 21 कंटेनमेंट एरिया में 18 हजार लोगों का किया स्वास्थ्य सर्वे, अब तक 39 पॉजिटिव के कान्टैक्ट में आए संदिग्धों में से 193 का नहीं लिया सैंपल

By: Rajesh Patel

Updated: 14 Jun 2020, 11:01 AM IST

रीवा. प्रदेश के बाहर से पंचायतों में आए प्रवासियों की स्क्रीनिंग धीमी हो गई है। शनिवार को 47 संदिग्धों का सैंपल लिया गया। अब तक 2045 संदिग्धों का सैंपल लिया जा चुका है। जिसमें देरशाम तक 61 की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। अब तक कुल 1885 की रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है। सीएमएओ डॉ. आरएस पांडेय की बुलेटिन के अनुसार जिले में अब जिले में अब तक 39 पॉजिटिव मरीज मिले। एक्टिव तीन केस है। शेष मरीज ठीक होकर घर चले गए।

कॉन्टेक्ट में आए लो रिस्क का नहीं लिया गया सैंपल
जिले में अब तक पॉजिटिव के कान्टेक्ट में 493 को चिह्ंित किया गया। जिसमें 303 हाईरिस्क में रहे। जबकि 194 लो रिस्क में चिह्ंित किए गए थे। कोरोना टीम के जिला नोडल अधिकारी डॉ. अक्षय श्रीवास्तव ने बताया कि जिले में पॉजिटिव के कान्टैक्ट आए 493 संदिग्धों में से 303 हाईरिस्क में संदिग्धों को चिह्ंित किया गया। लो रिस्क के 194 का सैंपल नहीं लिया गया है।

हाईरिस्क की रिपोर्ट निगेटि आने पर लो रिस्क को छोड़ा
कान्टैक्ट में आए लोगों की संख्या और हाईरिस्क में लिए गए संदिग्धों का सैंपल के मुताबिक जिले में पॉजिटिव कान्टैक्ट में 61.46 फीसदी का लिया सैंपल गया है। शेष का सैंपल नहीं लिए जाने पर स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही सामने आई है। मामले में सीएमएचओ डॉ आरएस पांडेय ने बताया कि पॉजिटिव के सीधे कान्टैक्ट में हाई रिस्क वाले आते हैं। दूसरे नंबर पर लो रिस्क के संदिग्ध होते हैं। जब पहले नंबर के हाई रिस्क की रिपोर्ट निगेटिव आ गई तो दूसरे नंबर वाला स्वयं निगेटिव है। इसके बाद भी किसी में लक्षण दिखता है तो उसकी भी जांच कराई जाती है।

COVID-19
Show More
Rajesh Patel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned