दलित दुष्कर्म पीड़िता को थाने से भगाया, एसपी ऑफिस में शिकायत के लिए दो घंटे लाइन में खड़ी रही गर्भवती किशोरी

एसपी सुशांत सक्सेना ने थाना प्रभारी को जांच के दिए निर्देश

By: Manoj singh Chouhan

Published: 20 Jul 2018, 08:43 PM IST

रीवा. दीन-दुखियों की बिना डर व दबाव मदद की शपथ लेने वाले पुलिसकर्मियों की कार्यप्रणाली ठीक नहीं है। जहां बैकुठंपुर थाने से दलित परिवार की दुष्कर्म पीडि़ता को रिपोर्ट लिखने की जगह गाली देकर पीएसआई ने थाने से भगा दिया। वहीं दुष्कर्म की पीडि़ता की शिकायत पर एसपी के निर्देश पर पुलिस एक्शन में आ गई है।

बैकुंठपुर अंतर्गत ग्राम जामू में रहने वाली 17 साल की दलित किशोरी ने आरोप लगाया है कि गांव में रहने वाले सुधाकर साहू ने शादी का झांसा देकर कई बार उसके साथ शारीरिक संबंध बनाए। उसने विरोध किया, लेकिन मुंह दबाकर जर्बदस्ती दुष्क र्म किया। इसी दौरान किशोरी को गर्भ धारण हो गया।

इसके बाद उसने अपने परिजनों की इसकी जानकारी दी। गुरुवार की सुबह वह परिजनों के साथ बैकुंठपुर थाने पहुंची तो वहां उपस्थित पीएसआई राठौर ने उसे गाली देकर भगा दिया। इसके बाद वह पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंची। एसपी से मिलने के लिए भी किशोरी दो घंटे तक लाइन में खड़ी रही। इसके बाद इस एसपी से मुलाकात होने पर उसने अपनी पीड़ा बताई। इस पर एसपी सुशांत सक्सेना ने तत्काल मौके में जाने जाकर थाना प्रभारी को जांच के निर्देश दिए हैं।

पांच हजार रुपए देकर गर्भ गिराने का बना रहे थे दबाव
किशोरी ने बताया कि इस घटना की जानकारी होने पर गांव में रहने वाले शैलेन्द्र सिंह ने 18 जुलाई को उसको घर बुलाया। इसके बाद वे किशोरी को सादे कागज में लिखाकर पांच हजार रुपए देकर बच्चा गिराने का दबाव बना रहे थे। जब किशोरी ने उनकी बात नहीं मानी तो उनके भाई ने आकर बच्चा गिराने का दबाव बनाया व परिवारों वालों को जान से मारने की धमकी दी। इस घटना के बाद वह परिजनों के साथ रिपोर्ट लिखाने बैकुंठपुर पहुंची लेकिन पुलिस ने एफआईआर नहीं दर्ज की।

थाना प्रभारी ने किया इंकार
इस मामले में पीडि़ता की शिकायत मिलते ही एसपी ने थाना प्रभारी व पीएसआई से जानकारी मांगी। इस पर थाना प्रभारी व पीएसआई ने पीडि़ता के थाना पहुंचने की बात से इंकार कर दिया। पीडि़ता की शिकायत पर पर पुलिस अधीक्षक ने ने अनुविभागीय अधिकारी को मौके पर भेजकर थाने की सीसीटीवी चेक करने का निर्देश दिया है।

जांच के बाद होगी कार्रवाई

दुष्कर्म को लेकर पीडि़त किशोरी ने शिकायत की है, उसने बैकुंठपुर थाना में पीएसआई द्वारा एफआईआर नहीं लिखने की बात बताई है। इस मामलें में थाने की सीसीटीवी चेक कराने के बाद दोषी मिलने पर अगामी कार्रवाई की जाएगी।
सुशांत सक्सेना, एसपी रीवा

Manoj singh Chouhan Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned