कराधान घोटाला : कमिश्नर के जांच प्रतिवेदन पर 6 माह बाद भी जिम्मेदारों पर तय नहीं हो सकी जवाबदेही

जिले के गंगेव ब्लाक में तीन दर्जन से ज्यादा ग्राम पंचायतो में 12.41 करोड़ घोटाले के मामले की दबी फाइल, दोषियों को बचाने जिले से लेकर भोपाल तक रसूख का दबाव

By: Rajesh Patel

Updated: 26 Aug 2020, 12:51 PM IST

रीवा. पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग में करोड़ों के घोटाले की कार्रवाई ठंडे बस्ते में चली गई है। कमिश्नर के जांच प्रतिवेदन के छह माह बाद भी जिम्मेदारों पर जवाबदेही तय नहीं की जा सकी है। घोटालेबाजों का रसूख इस कदर है कि जिला मुख्यालय से लेकर भोपाल तक कार्रवाई पर दबाव है। पंचायत संचालनालय के हस्तक्षेप के बावजूद इसके जिम्मेदारों के खिलाफ कार्रवाईनहीं हो सकी है। जिले के गंगेव जनपद पंचायत में तीन दर्जन ग्राम पंचायतों में करारोपण योजना के एक साथ एक खाते में पांच से छह करोड़ रुपए का भुगतान कर लिया गया।

कमिश्नर ने राशि वसूली और एफआइआर का दिया है आदेश
मामले में क्षेत्रीय विधायक के साथ स्थानीय लोगों ने तत्कालीन कमिश्नर अशोक भार्गव से की। कमिश्नर ने जांच कराया तो 12.41 करोड़ रुपए का फर्जीवाड़ा सामने आया। जांच प्रतिवेदन में कमिश्नर ने जिम्मेदारों की जवाबदेही तय करने के लिए एफआइआर दर्ज कराने का प्रस्ताव कलेक्टर को भेजा है। इसके अलावा जांच प्रतिवेदन में कराधान में किए गए करोड़ों के घोटाले की राशि को वसूली योग्य बताया है। कश्मिनर के प्रतिवेदन के छह माह से अधिक समय बीतने के बाद भी घोटालेबाजों के खिलाफ कार्रवाई नहीं हो सकी है। मामले में तत्कालीन पंचायत मंत्री के हस्क्षेप के बाद भी कार्रवाई नहीं हो सकी है।

सरकार के समानांतर कार्यालय चला रहा था मास्टर माइंड
गंगेव ब्लाक में घोटाले के मास्टर माइंड बाबू को निलंबित कर जिम्मेदारों ने इतिश्री कर ली। हैरान करने वाली बात तो यह कि निलंबित बाबू सरकार के समानांतर कार्यालय चला रहा था। जिपं सीइओ के निर्देश पर तहसीलदार और जनपद सीइओ की संयुक्त कार्रवाई में बाबू के निजी कथित कार्यालय से मुख्य कार्यपालन अधिकारी की सील सहित अन्य दस्ताावेज जब्त किए गए। पंचनामा तैयार किया गया। कार्रवाई के पखवाड़ेभर बाद भी घोटाले के मास्टर माइंड की फाइनल जिला पंचायत कार्यालय में डप पड़ी है।

इन पंचायतों ने बगैर कार्य योजना आहरित कर ली राशि

जांच प्रतिवेदन के अनुसार बेलवा पैकान, बांस, लौरी खुर्द, रघुनाथगंज, देवास, कंदैला, मदरी, तेंदुआ कोठार, दुबहाई खुर्द, पनगड़ीकला, परासी, चौरी, खरहरी, अकौरी उन्मूलन, चंद्रेह, बेला, टिकुरी-32, सांसारपुर, कटहा, अगडाल, दुबगवां, सिसवा, पचोखर, बसौली-2, बलेवा कुर्मियान, पुरवा-310, हीरूडीह संदेहा आदि ग्राम पंचायतों में बगैर कार्य योजना करारोपण की राशि पंचायत खाते से आहरित कर ली है।

फैक्ट फाइल
करारोपण से पंचायतों से एक साथ वेंडरों के खाते में भेजी गई राशि
वेंडरों का नाम------------अंतरित राशि
शिशक्ति कंस्ट्रक्शन------6.17 करोड़
गुप्ता फ्रेबिकेशन----------56.80 लाख
बाबा ट्रेडर्स-----------------17.40 लाख
न्यू लक्ष्मी ट्रेडर्स------------5.00 लाख
न्यू प्रवीण ट्रेडर्स------------28.20 लाख
कान्हा ट्रेडर्स----------------3.45 लाख
अनुज ट्रेडर्स----------------2.50 लाख
अनुराधा ट्रेडर्स--------------20.70 लाख
सुधांशु मौलिक शुक्ला-------4.17 करोड़
रानी मिनरल्स---------------67 लाख
साई ट्रेडर्स-----------------4.75 लाख
मजदूरी--------------------10.00 लाख
शुक्ला टे्रडर्स----------------10.00 लाख
--------------------------------------------

वर्जन...

मामले में कलेक्टर और जिप सीइओ ने कार्रवाई की कागजी प्रक्रिया करीब-करीब पूरी कर ली है। पंचायतों में गड़बड़ी करने वाले बख्से नहीं जाएंगे। कराधान घोटाले के मामले में भी जल्द ठोस कार्रवाई की जाएगी।
राजेश कुमार जैन, कमिश्नर

Show More
Rajesh Patel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned