मैडम मैं शुगर का मरीज हूं, चुनाव ड्यूटी करने लायक नहीं, पढि़ए, कलेक्टर ने क्या कहा, सुनकर आप भी रह जाएंगे दंग

मैडम मैं शुगर का मरीज हूं, चुनाव ड्यूटी करने लायक नहीं, पढि़ए, कलेक्टर ने क्या कहा, सुनकर आप भी रह जाएंगे दंग

Rajesh Patel | Publish: Oct, 13 2018 01:20:40 PM (IST) | Updated: Oct, 13 2018 01:22:42 PM (IST) Rewa, Madhya Pradesh, India

पहले दिन प्रशिक्षण लेने नहीं पहुंचे 60 से अधिक कर्मचारी, 1500 से अधिक शामिल हुए मतदान दल के कर्मचारी

रीवा. विधानसभा चुनाव-2018 में मतदाल दल के पीठासीन अधिकारी और मतदान क्रमांक-1 के अधिकारियों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है । शुक्रवार को पहले दिन चार अलग-अलग केन्द्रों पर १५०० से अधिक मतदान दल के कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण के पहले दिन ही ५० से अधिक कर्मचारी गायब रहे। जिला निर्वाचन अधिकारी ने चेताया है कि चुनाव कार्यक्रम में लापरवाह कर्मचारियों को बख्सा नहीं जाएगा।

पांच हजार से ज्यादा मतदाल दल के कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया जाएगा
विधानसभा चुनाव के लिए पांच हजार से ज्यादा मतदाल दल के कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। जिसमें पी-ओ और पी-वन सहित अन्य क्रमांक के कर्मचारी शामिल हैं। मास्टर ट्रेनरों के अनुसार प्रशिक्षण के पहले दिन 1550 पीठासीन अधिकारी और मतदान दल क्रमांक-1 को प्रशिक्षण दिया गया।

जिला निर्वाचन अधिकारी निरीक्षण में पहुंची
प्रशिक्षण के दौरान जिला निर्वाचन अधिकारी निरीक्षण में पहुंची। निरीक्षण के दौरान मॉडल सांइस कॉलेज में प्रशिक्षण ले रहा शिक्षक कलेक्टर से कहा, मैडम मंै डायबटीज का मरीज हूं, चुनाव नहीं करा सकता हूं..। कलेक्टर ने कहा, जब आप चुनाव ड्यूटी नहीं कर सकते हैं तो स्कूल में बच्चों को पढ़ाते क्या होंगे, बीआरएस ले लीजिए। इस दौरान कलेक्टर ने कहा कि प्रजातंत्र में चुनाव एक महत्वपूर्ण कार्य है और उसमें जिसे जो जिम्मेदारी दी गई है वह उसका निष्ठापूर्वक निर्वहन करें। उन्होंने स्पष्ट किया कि मतदान दल के सदस्यों को पूरी निर्वाचन प्रक्रिया के दौरान निष्पक्ष व पारदर्शी रहना व दिखना अनिवार्य है। चुनाव कार्यक्रम में किसी भी तरह की लापरवाही बर्दास्त नहीं की जाएगी।

पीठासीन अधिकारियों दिया गया प्रशिक्षण
पहले चरण के प्रशिक्षण के दौरान पीठासीन अधिकारी और मतदान क्रमांक-१ को चुनाव प्रकिया की विस्तृत जानकारी दी गई। मास्टर ट्रेनरों ने मतदान दल के कर्मचारियों को स्ट्रांगरूम से लेकर मतदान केन्द्र तक जानकारी दी। इस दौरान उन्हें चुनाव सामग्री लेना, बूथ पर मॉक पोल कराना, पीठासीन डायरी भरना, मतपत्रलेखा कंप्लीट करने के साथ ही विभिन्न प्रकार के प्रपत्रों को भरना, मतदान के बाद मशीन को सील करना और सामग्री को स्ट्रांगरूम में जमा करने का प्रशिक्षण दिया गया।

दूसरे चरण में आवंटित होगी विधानसभा
दूसरे चरण में पीठासीन अधिकारियों और मतदान क्रमांक-1, 3 और तीन को मतदाल दल और विधानसभा का आवंटन किया जाएगा। मतदान के लिए चुनाव सामग्री लेने के समय उन्हें किस मतदान केन्द्र पर जाना है इसकी जानकारी हो जाएगी।

पहले दिन प्रशिक्षण में अनुपस्ति रहे 60 कर्मचारी
विधानसभा चुनाव में मतदान दल के प्रथम लेवल के प्रशिक्षण के पहले दिन करीब 60 कर्मचारी अनुपस्थित रहे। अनुपस्थित कर्मचारियों की जानकारी जिला पंचायत सीइओ ने तलब की है। सभी को नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया है। अनुपस्थित रहने वाले कर्मचारियों की जांच कर कार्रवाई की जाएगी। चुनाव कार्यालय में पहुंची जानकारी के अनुसार टीआरएस में 32, विधि कालेज में 8, मॉडल साइंस में 11 और न्यू सांइस में 7 से अधिक कर्मचारी अनुपस्थित रहे।

 

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned