कोरोना काल में संजय गांधी अस्पताल में एक तिहाई हो गई मरीजों की संख्या, 60 फीसदी से ज्यादा बेड खाली

-विंध्य के सबसे बड़े हॉस्पिटल में सामान्य दिनों की अपेक्षा कोरोना काल के दौरान पांच माह से मेडिसिन, सर्जरी, अर्थोपेडिक, पीडियाटिक सहित अन्य विभागो की ओपीडी से वार्ड तक नहीं पहुंच रहे मरीज



By: Rajesh Patel

Published: 02 Sep 2020, 10:02 AM IST

रीवा. कोरोना काल में संजय गांधी अस्पताल में मेडिसिन विभाग से लेकर 60 फीसदी से अधिक बेड खाली पड़े हैं। बीते साल की अपेक्षा वर्तमान समय में मरीजों की संख्या एक तिहाई हो गई है। पांच माह से इमर्जेंसी सेवाएं और गंभीर मरीजों को छोड़ सामान्य बीमारियों के मरीज अस्पताल आना छोड़ दिया है। अस्पताल में गायनी, कैजुवलटी वार्ड में मरीजों की भीड़ रहती है।

नेत्र, अर्थोपेडिक समेत दस विभागों में बेड खाली
विंध्य के सबसे बडे हॉस्पिटल संजय गांधी अस्पताल में सर्जरी, आर्थोपेडिक, पीडियाटिक, कैंसर, नेत्र विभाग सहित अन्य विभाग के वार्ड खाली पड़े हैं। इन विभागों में गंभीर मरीजों को छोड़ सामान्य मरीज नहीं आ रहे हैं। पांच माह से लगातार कोरोना संक्रमित मरीजों के इलाज को लेकर ज्यादातर चिकित्सकों तनाव बढ़ गया है।

2500 से घटकर 400 हो गई संख्या
अस्पताल के रेकार्ड के अनुसार बीते साल जुलाई, अगस्त, सितंबर माह में मरीजों और तीमारदारों की भीड़ जमा रहती थी। ओपीडी से लेकर वार्ड तक खचाखच रहते थे। लेकिन, वर्तमान समय में कोरोना काल के दौरान मरीजों की संख्या घटकर एक तिहाई हो गई है। सामान्य दिनों में औसत अस्पताल की ओपीडी 1500 से 2500 तक पहुच जाती थी। वर्तमान में समय में 400 के आस-पास हो गई है। मेडिसिन विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ. मनोज इंदुलकर के मुताबिक बीते साल जुलाई, अगस्त, सितंबर में प्रतिदिन औसत 80--100 मरीज ओपीडी में पहुंचते थे। इस साल इसी समय में प्रतिदिन औसत 20 से 30 पेसेंट आ रहे हैं।

एसजीएमएच में 1349 बेड
संजय गांधी अस्पताल में 18 विभागों में मरीजों को भर्ती के लिए 1349 बेड हैं। जिसमें मुख्य चार बड़े विभाग मेडिसिन, स्त्री एवं प्रसूति रोग, सर्जरी, शिशु एवं बाल्य रोग विभागों के बेड अधिक हैं। बड़े विभागों के औसत 200 से 300 तक बेड हैं। जबकि हड्डी रोग, नेत्र, नाक-काल गला, मानिसिक रोग विभाग समेत अन्य विभागों के 60-60 बेड लगाए गए हैं। स्त्री व प्रसूति रोग विभाग को छोड़ शेष विभागों के अधिकतर बेड खाली पड़े हैं।

कोविड के लिए 240 कोविड बेड आरक्षित
संजय गांधी अस्पताल में तीसरी और चौथी मंजिल पर सर्जरी, मेडिसिन विभाग के 240 बेड कोविड के लिए आरक्षित कर दिए गए हैं। वर्तमान समय में कोविड वार्ड में 112 बेड पर मरीज भर्ती है। जिसमें 65 पॉजिटिव और शेष सस्पेक्टेड मरीज रखे गए हैं। शेष 118 बेड खाली पडा़े हैं।

वर्जन...

कोरोना के कारण मरीजों की संख्या कम हो गई है। जीएमएच व एसजीएमच को मिलाकर पहले ज्यादातर फीसदी बेड खाली रहे। लेकिन, वर्तमान में मरीजों की संख्या धीरे-धीरे बढऩे लगी। कई विभागों के में वार्ड फुल हो गए हैं।
डॉ. नरेज बजाज, प्रभारी अधीक्षक

COVID-19
Show More
Rajesh Patel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned