कोरोना से लडऩे पंचायतों को 30 हजार तक खर्च करने की छूट

जिले में 824 ग्राम पंचायतें 14वें वित्त से जरुरततंदों को भोजन, आश्रम, मास्क, सेनेटाइजर सहित अन्य खर्च में उपयोग कर सकेंगे

By: Mahesh Singh

Published: 27 Mar 2020, 09:43 PM IST

रीवा. कोरोना महामारी से निबटने के लिए अब पंचायतें भी खजाने से 30 हजार रुपए खर्च कर सकेंगी। पंचायत एवं ग्रामीण विकास ने कार्यालय खर्च और कोरोनो बचाव के लिए व्यय करने की अनुमति जारी कर दी है। पंचायतों इस पैसे से कार्यालय का खर्च के साथ ही महामारी से बचाव के लिए ग्रामीणों को मॉस्क व सेनेटाइजर आदि वस्तुओं की खरीदारी के लिए आदेश जारी कर दिया है।

शासन ने वित्तीय वर्ष 2019-20 में जिले की 827 ग्राम पंचातयों में 66.09 करोड़ रुपए से ज्यादा का बजट 14वां वित्त योजना के तहत पंचायतों के खाते में जारी किया गया है। कोरोना वायरस को लेकर आगामी 14 अप्रैल तक लॉक डाउन है। शाासन ने 14वें वित्त की राशि से पंचायत की परिसंपत्तियों के संरक्षण एवं कोरोना महामारी से बचाव के लिए उपयोग कर सकेंगी।

पंचायत के अपर मुख्य सचिव ने आदेश दिया है कि पंचायतों में कार्यालयीन व्यय के लिए निर्धारित 7.5 प्रतिशत राशि में से अधिकतम 30 हजार रुपए तक वैश्वविक महामारी (कोविद-19) की रोकथाम में उपयोग कर सकेंगे। पंचायतों में जरूरतमंद लोगों के लिए भोजन, आश्रम की व्यवस्था कर सकेंगे। इस मद से न्यूनतम 2.5 प्रतिशत राशि सेनेटाइजर, मास्क आदि पर व्यय कर सकेंगे।

पंचायतों में साफ-सफाई के आदेश
पंचायत विकास विभाग ने पंचायतों में कार्यालयों को व्यवस्थित रखने के साथ ही साफ-सफाई पर विशेष जोर दिया है। जिससे गांव-गांव में संक्रमित बीमारियों ने हो, इसके लिए साफ-सुथरा रखने के निर्देश दिए गए हैं।

Corona virus
Mahesh Singh Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned