पुलिसकर्मियों की समस्याओं को लेकर परिवारजनों ने कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

साप्ताहिक अवकाश का पालन करने, ग्रेड पे व भत्तों में बढ़ोत्तरी सहित 12 सूत्रीय मांगे हैं शामिल

रीवा। अनुशासन की जंजीरों में बंधे पुलिसकर्मी भले ही अपने हक की आवाज न उठा पा रहे हो लेकिन अब उनके परिवार के सदस्यों ने इसके लिए आगे आ गए है। परिजनों ने मंगलवार को पुलिस लाइन से रैली निकाली और कलेक्ट्रेट में आकर तहसीलदार को मुख्यमंत्री व गृहमंत्री के नाम संबोधित ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में 12 सूत्रीय मांगे शामिल रही।

ये मांगे रही शामिल
इनमें पुलिसकर्मियों को साप्ताहिक अवकाश प्रदान करने और अवकाश न देने की स्थिति में उसका भुगतान करने, आरक्षकों का ग्रेड पे 1800 से बढ़ाकर 2800 रुपए करने, आवास भत्ता 450 रुपए से बढ़ाकर 5000 रुपए करने, साइकिल भत्ता 18 रुपए से बढ़ाकर 5000 करने, पुलिस अधिनियम 1861 समाप्त कर नया अधिनियम लागू करने, पुलिसकर्मियों को गृह जिले में पदस्थ करने, शिकायत होने पर जांच के बाद पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई करने और झूठी शिकायत करने वालों पर कार्रवाई करने, चार वर्ष से रुकी पदोन्नति प्रक्रिया को शुरू करने सहित अन्य मांगे शामिल रही। काफी समय से पुलिस कर्मचारी समस्याओं से जूझ रहे है। अब उनके हक की आवाज परिवार के लोग उठा रहे है। इस दौरान पुलिस परिवार की किरण सिंह ने कहा कि उनके परिवार के मुखिया पुलिस विभाग में अपनी सेवाएं दे रहे है जिनसे विभाग 18-18 घंटे ड्यूटी ले रहे है।

नहीं मिल रहा साप्ताहिक अवकाश
शासन ने साप्ताहिक अवकाश देने की घोषणा की लेकिन अभी तक पुलिसकर्मियों को साप्ताहिक अवकाश देने की घोषणा की गई लेकिन किसी को भी साप्ताहिक अवकाश नहीं दिया गया। उन्होंने कहा कि पुलिस कर्मचारी तनाव में रहकर ड्यूटी कर रहे है। कोई भी झूठी शिकायत कर देता है तो बिना जांच के मामला दर्ज हो जाता है। तनाव में रहकर ड्यूटी करने के बाद इस तरह का व्यवहार किसी दृष्टि से उचित नहीं है। इस मौके पर प्रियंका तिवारी, मीना प्रजापति, रंजना सिंह, मीनाक्षी तिवारी, राधिका द्विवेदी, आशा सिंह, अनीता पटेल, शकुंतला द्विवेदी, नेहा सिंह, दीपांश सिंह, रुपाली तिवारी सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।

Show More
Shivshankar pandey
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned