अव्यवस्था से भड़के किसानों ने करहिया मंडी गेट पर जड़ा ताला

अव्यवस्था से भड़के किसानों ने करहिया मंडी गेट पर जड़ा ताला

Balmukund Dwivedi | Publish: Apr, 23 2019 02:41:40 AM (IST) | Updated: Apr, 23 2019 02:41:41 AM (IST) Rewa, Rewa, Madhya Pradesh, India

दो दिन से तौल के लिए कर रहे थे इंतजार: समिति प्रबंधक निलंबित] बिहरा समिति प्रबंधक के खिलाफ कार्रवाई पर अड़े रहे किसान, कार्रवाई पर बहाल हुई व्यवस्था

रीवा. करहिया मंडी में बिहरा खरीद केन्द्र पर अव्यवस्था से भड़के किसानों ने गेट पर ताला जड़ दिया। सोमवार दोपहर चिलचिलाती धूप में किसानों का तेवर देख अफसरों के हाथ-पांच फूल गए। अफसरों के मानमनौव्वल के बाद भी किसान समिति प्रबंधक के मनमानी की जांच कर तत्काल कार्रवाई पर अड़े रहे। मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने फौरीतौर पर जांच कर बिरहा समिति प्रबंधक अशोक कुमार द्विवेदी को को निलंबित कर त्योंथर मुख्यालय से अटैच कर दिया गया है। निलंबन की कार्रवाई के बाद तौल की व्यवस्था बहाल हुई।

12 बजे तक केन्द्र पर तौल प्रारंभ नहीं हुई
कृषि उपज मंडी करिया में समर्थन मूल्य पर उपज तौल के लिए तीन केन्द्र बनाए गए हैं। बिहरा केन्द्र पर शनिवार और रविवार से किसान तौल के लिए दर्जनभर किसान ट्रैक्टर पर उपज लेकर खड़े रहे। दो दिन तोल नहीं होने के कारण केन्द्र पर किसान ठहरे हुए थे। केन्द्र पर न तो विश्राम गृह और न ही भोजन-पानी की व्यवस्था की गई थी। जिससे किसानों को परेशानी हुई।सोमवार दोपहर १२ बजे तक केन्द्र पर तौल प्रारंभ नहीं हुई तो किसान प्रबंधक पर मनमानी का अरोप लगाते हुए भड़क गए। नाराज किसानों ने अनिल सिंह पिंटू की अगुवाई में प्रदर्शन शुरू कर दिया। लामबंद किसान करहिया मंडी के मुख्य गेट पर ताला लगा दिया। किसानों की सूचना पर मौके पर जिला नियंत्रक राजेन्द्र सिंह ठाकुर, जेआर पीके सिद्धार्थ, तहसीलदार जितेन्द्र तिवारी सहित अन्य अधिकारी पहुंचे। समझाइश के बाद भी किसान जांच और दोषी के खिलाफ कार्रवाई पर अड़े रहे। बिहरा के किसान जयबहादुर ङ्क्षसह, कौशल सिंह सहित दर्जनों की संख्या में किसानों ने आरोप लगाया कि समर्थन मूल्य पर गेहूं की तौल के लिए समिति प्रबंधक किसानों से ५००-१००० रुपए कमीशन मांग रहे हैं। भीषण गर्मी में किसान तीन दिन से केन्द्र पर खड़े हैं। सोमवार दोपहर तक तौल शुरू नहीं हुई तो किसान भड़क गए। मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने तत्काल जांच की। प्रारंभिक जांच में दोषी पाए जाने पर समिति प्रबंधक को निलंबित कर दिया।

चिलचिलाती धूप में परेशान रहे किसान
करहिया मंडी गेट पर ताला बंद होने के दौरान किसान बेहाल रहे। मंडी परिसर में बिहरा केन्द्र के अलावा चोरहटा और खैरी केन्द भी खोला गया है। गेट पर दोनों छोर में किसानों की बड़ी संख्या में भीड़ रही।

अवैध वसूली का आरोप
किसानों का आरोप है कि तौल के नाम पर समिति प्रबंधक किसानों से १२ रुपए क्विंटल जबरिया तौलाई ले रहे थे। जबकि सरकार की ओर से ९ रुपए प्रति क्विंटल दिया जा रहा है। इसके बाद भी किसानों से पैसे की वसूली की जा रही थी।

कराई गई व्यवस्था
किसानों की सूचना पर बिहरा केन्द्र पर पहुंचे किसान नेता अनिल सिह पिंटू ने व्यवस्था बहाल कराई। किसान नेता और कांग्रेस नेता कुंवर सिंह के हस्तक्षेप पर अधिकारी पहुंचे। कांग्रेस नेता ने कलेक्टर से बात की और केन्द्र पर पानी, गद्दा व भोजन व्यवस्था कई।

खैरा प्रबंधक को प्रभार
करहिया मंडी परिसर में किसानों की सूचना पर पहुंचे जेआर पीके सिद्धार्थ ने जांच के दौरान गड़बड़ी पाए जाने पर समिति प्रबंधक अशोक कुमार द्विवेदी को तत्काल सस्पेंड कर केन्द्र का प्रभार खैरा समिति प्रबंधक वाहिद खान को सौंपा है।

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned