पूर्वजों द्वारा जुटाई गई संपत्ति, बेटों के बची बनी खून-खराबे की वजह

पूर्वजों द्वारा जुटाई गई संपत्ति, बेटों के बची बनी खून-खराबे की वजह
Four people injured in dispute

Balmukund Dwivedi | Updated: 04 Jun 2019, 08:16:02 PM (IST) Rewa, Rewa, Madhya Pradesh, India

मनिकवार चौकी के हटवा गांव में हुई घटना, दो गुटों में चले लट्ठ, चार घायल, पुलिस पहुंची

रीवा. जिस संपत्ति के लिए लोग दिन-रात एक कर मेहनत करते हैं, लालच और द्वेष के चले वही संपत्ति जान पर भी बन आती है। भाई-भाई ही एक दूसरे के दुश्मन बन जाते हैं। ऐसा ही एक मामला सामने आया है। जमीनी विवाद को लेकर दो पक्षों में जमकर ल_ चले। इस दौरान एक पक्ष से तीन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए जिनको अस्पताल लाया गया है। घटना से तनाव का वातावरण बना हुआ है। मनगवां थाना अन्तर्गत ग्राम हटवा निवासी अवधराज सिंह का काफी समय से जमीनी विवाद अपने बड़े भाई से चल रहा था। मंगलवार को उनके बीच जमीनी विवाद को लेकर कहासुनी हो गई। इस बात पर दोनों पक्षों के बीच मारपीट शुरू हो गई। दोनों पक्ष लाठियां लेकर एक दूसरे पर टूट पड़े जिसमें एक पक्ष से राजबहादुर सिंह, अवधराज सिंह व उनकी पत्नी राजकुमारी सिंह घायल हो गये। वहीं दूसरी पक्ष से पियूष सिंह को चोटें आई है। घटना से पूरे गांव में हड़कंप मच गया। शोर-शराबा सुनकर स्थानीय लोग पहुंच गए जिन्होंने बीचबचाव कर विवाद को शांत कराया।

तीन लोग गंभीर रूप से घायल
गंभीर रूप से घायल हुए तीन लोगों को संजय गांधी अस्पताल लाया गया जहां उनका इलाज चल रहा है। मंगलवार की सुबह थाना प्रभारी ओंकार तिवारी व मनिकवार चौकी का स्टॉफ अस्पताल पहुंचा और पीडि़तों के बयान दर्ज किए। वहीं दूसरे पक्ष ने मनिकवार चौकी में शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस ने काऊंटर मामला दर्ज कर लिया है। दोनों पक्षों को विवाद न करने की हिदायत दी गई है। उनके बीच पुस्तैनी जमीन के हिस्साबांट को लेकर विवाद चल रहा है। सोमवार को बड़ा भाई बोर करवा रहे थे उसी समय दोनों पक्षों के बीच विवाद शुरू हुआ था जो मारपीट में तब्दील हो गया।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned