सरकारी कॉलेजों में गांधी स्तंभ बनाए जाएंगे ताकि छात्रों को मिले सीख

30 जनवरी के पहले निर्माण पूरा कराने के बाद लोकार्पण अवसर पर बड़ी संगोष्ठियां भी होंगी आयोजित, विश्वविद्यालय के राजनीति विभाग में गांधी चेयर की होगी स्थापना

रीवा. कालेजों में पढऩे वाले छात्रों को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के विचारों से अवगत कराने के लिए सरकार अब सभी सरकारी कालेजों में गांधी स्तंभ बनाने की तैयारी कर रही है। इसके लिए उच्च शिक्षा विभाग ने अतिरिक्त संचालक के साथ ही कालेजों के प्राचार्यों को भी पत्र भेजकर व्यवस्था बनाने के लिए कहा है। इन सभी कालेजों को अब अपने परिसर में गांधी स्तंभ बनवाना होगा, जिससे कालेज आने वाले छात्र इसे देखें और वजह जानने का प्रयास करें। इससे महात्मा गांधी के विचारों के बारे में भी छात्रों को जानने का अवसर मिलेगा। उच्च शिक्षा विभाग ने आदेश जारी किया है कि महात्मा गांधी की १५०वीं जयंती के अवसर पर दो अक्टूबर को मुख्यमंत्री ने यह घोषणा की थी। इसके निर्माण के लिए कहा गया है कि २६ जनवरी के पहले जनभागीदारी मद से इसका निर्माण पूरा कराएं और 30 जनवरी को एक साथ सभी कालेजों में इनका लोकार्पण किया जाए। जिसमें जनभागीदारी समितियों के अध्यक्षों के साथ ही गांधी दर्शन के विचारकों, शहर के समाज सेवियों, जनप्रतिनिधियों आदि को बुलाकर बड़ी संगोष्ठियां आयोजित कराएं।

ऐसा होगा गांधी स्तंभ का आकार
गांधी स्तंभ सभी कालेजों में एक ही आकार होगा। यह चौकोर आकार के होंगे, जिनकी लंबाईऔर चौड़ाई ढाई-ढाईफिट की होगी। इसकी ऊंचाई चार फिट की होगी। स्तंभ के ऊपर गांधी प्रतिमा रखी जाएगी। इस स्तंभ का चबूतरा दस बाय दस फिट का होगा। इसमें महात्मा गांधी के प्रमुख आंदोलनों के साथ ही मध्यप्रदेश में उनके कार्यों और आंदोलनों का उल्लेख होगा। साथ ही गांधी के संकल्पों को भी लिखा जाएगा।

Balmukund Dwivedi Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned