तराई में फिर बड़ी वारदात की फिराक में डकैत धोनी गिरोह

पुलिस को डकैतों के होने की मिली सूचना, रीवा एसपी ललित शाक्यवार सहित भारी पुलिस बल जंगल में उतरा

By: Mahesh Singh

Published: 09 Feb 2018, 12:40 PM IST


रीवा. तराई में फिर डकैत धोनी गिरोह बड़ी वारदात की फिराक में है। सतना-रीवा के सीमावर्ती जंगलों में वह डेरा डाले हुए हैं, पुलिस को इसकी लोकेशन मिली है। जिससे रीवा एसपी ललित शाक्यवार सहित भारी पुलिस बल जंगलों की दो दिन से सर्चिंग करता रहा। हालांकि पुलिस के हाथ अभी तक खाली हैं।


डकैतों के निशाने पर पनवार-सेमरिया क्षेत्र
सूचना है कि तराई में आतंक का पर्याय बन चुके डकैत धोनी सहित अन्य गिरोह जल्द ही किसी बड़ी वारदात को अंजाम दे सकते हैं। पुलिस के हाथ कुछ अहम सूचना लगी है जिस पर पुलिस अलर्ट हो गई है। इस बार डकैतों के निशाने पर पनवार व सेमरिया थाना क्षेत्र है। तराई के डभौरा, पनवार, सेमरिया व अतरैला थाने की पुलिस को सर्चिंग के निर्देश जारी किए गए हैं।


एसपी ने गर्भे, पन्नाघाटी में की सर्चिंग
पुलिस अधीक्षक रीवा ललित शाक्यवार खुद जंगल में उतर गए। तराई के ओवरी, पन्ना की घाटी, गर्भे, बंडे सहित अन्य जंगलों में सर्चिंग की। इस दौरान तराई में लगे एसएएफ पोस्ट का भी एसपी ने निरीक्षण किया और उनको नियमित जंगल में सर्चिंग करने के साथ चरवाहों व ग्रामीणों से जंगल में संदिग्ध बदमाशों की सूचना एकत्र करने के निर्देश दिए हैं।


मुडक़टा के जंगल में थी गिरोह की लोकेशन
पुलिस ने डकैतों का लोकेशन यूपी सीमा से लगे मुडक़टा जंगल में ट्रेस की थी जिसके बाद डकैतों को घेरने के लिए पुलिस ने जंगल में घेराबंदी भी की लेकिन रात में डकैत गिरोह वहां से भाग निकले। जिस पर पुलिस को खाली हाथ लौटना पड़ा। जंगल में धोनी गिरोह के मूवमेंट पुलिस के राडार में आई थी।


एमपी सीमा के जंगलों में डकैतों की मूवमेंट
बबली कोल गिरोह के साथ यूपी पुलिस की हुई मुठभेड़ के बाद अब डकैत गिरोह की मूवमेंट सीमावर्ती जंगलों में मिल रही है। दिन के समय छिपने के लिए गिरोह एमपी सीमा में प्रवेश कर जाता है। यही कारण है कि पुलिस की नींद उड़ी हुई है। डकैत गिरोह में पिछले कुछ दिनों के दौरान सक्रियता भी बड़ी है।

Mahesh Singh Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned