GOOD NEWS : रीवा व शहडोल संभाग में एक भी कोरोना पॉजिटिव नहीं

विंध्य में आइसीएमआर के मापदंडों के तहत एक लाख से अधिक लोगों का मेडिकल चेकअप, कमिश्नर ने जारी किए आंकड़े

By: Mahesh Singh

Updated: 18 Apr 2020, 11:16 PM IST

रीवा. विंध्य में रीवा और शहडोल के आठ जिलों में एक लाख से ज्यादा लोगों की मेडिकल जांच की गई। इण्डियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आइसीएमआर) के निर्धारित मापदण्डों के तहत कोरोना के संदिग्धों की जांच की जा रही है। राहतभरी खबर यह है कि अभी तक रीवा व शहडोल संभाग में एक भी कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला है।

कमिश्नर डॉ अशोक कुमार भार्गव ने बताया कि दोनों संभागों में अब तक एक लाख 7017 व्यक्तियों के नमूनों की जांच की गई है। जिसमें रीवा संभाग में अभी तक 65 हजार 494 व्यक्तियों की जांच की गई है। अभी तक 291 संदिग्ध पाए गए हैं। जांच के लिए सेंपल भेजे गए जिनमें से 254 की रिपोर्ट निगेटिव प्राप्त हुई है। शेष की रिपोर्ट शीघ्र ही प्राप्त होगी। शहडोल संभाग में 41 हजार 527 व्यक्तियों की मेडिकल जांच की गई। जिसमें 118 के सेम्पल भेजे गए। 108 सेम्पल जांच के बाद निगेटिव हैं। 10 सेम्पल की जांच के परिणाम अभी शेष हैं।

रीवा संभाग में 39 हजार से ज्यादा क्वारेंटाइन
कमिश्नर ने बताया कि जो व्यक्ति बाहर से रीवा तथा शहडोल संभाग के किसी भी जिले में आये हैं उन्हें होम क्वारेंटाइन किया गया है। इनकी नियमित चिकित्सा जांच की जाती है। रीवा संभाग में 39 हजार 158 तथा शहडोल संभाग में 25 हजार 832 व्यक्ति होम क्वारेंटाइन किए गए हैं। स्वास्थ्य कर्मियों तथा कोरोना मरीज के सम्पर्क आने वाले सभी व्यक्तियों की भी जांच अनिवार्य रूप से करायी जा रही है। दोनों संभागों में अभी एक भी प्रकरण पॉजिटिव नहीं पाया गया है।

बाहर से आने वालों की हो रही जांच
कमिश्नर ने बताया कि दोनों संभाग में अब तक विदेश यात्रा से वापस लौटे 498 व्यक्तियों की जांच की जा चुकी है। दूसरे राज्यों से आने वाले व्यक्तियों की भी शत-प्रतिशत जांच की जा रही है। दोनों संभागों में हमारे मैदानी स्तर पर कर्मवीर योद्धा सतत अपने दायित्वों का निर्वहन कर रहे हैं। लॉकडाउन का कठोरता से पालन कराने के साथ-साथ आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति भी सुनिश्चित की गई है।

Corona virus
Mahesh Singh Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned