scriptGovernment doctor arrested for bribery | लोकायुक्त की बड़ी कार्रवाई, सरकारी डॉक्टर रिश्वतखोरी में गिरफ्तार | Patrika News

लोकायुक्त की बड़ी कार्रवाई, सरकारी डॉक्टर रिश्वतखोरी में गिरफ्तार

-संजय गांधी अस्पताल में तैनात हैं डॉक्टर

रीवा

Published: July 29, 2021 04:58:39 pm

रीवा. भ्रष्टाचार के खिलाफ लोकायुक्त ने बड़ी कार्रवाई करते हुए, सरकारी डॉक्टर को रिश्वतखोरी में रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार डॉक्टर संजय गांधी अस्पताल में कार्यरत हैं। लोकायुक्त की इस कार्रवाई को लेकर पूरे क्षेत्र में हड़कंप मचा है।
रिश्वतखोरी में डॉक्टर गिरफ्तार
रिश्वतखोरी में डॉक्टर गिरफ्तार
लोकायुक्त ने यह कार्रवाई सिरमौर चौराहा स्थित डाक्टर के निजी क्लीनिक में की है। डाक्टर ने एमएलसी रिर्पोट तैयार करने के एवज में शिकायतकर्ता से 20 हजार की रिश्वत मांगी थी। पीड़ित ने तीन किस्तो में यह धनराशि देना स्वीकार किया था। वह 5-5 हजार की दो किस्त पहले ही दे चुका था। अब तीसरी किस्त के 10 हजार रूपये देने आया था, तभी लोकायुक्त ने उसे रंगे हाथों धर दबोचा। बताया जा रहा है कि जिस जगह लोकायुक्त ने कार्रवाई की वहां कई डाक्टरों की क्लीनिक है।
जानकारी के अनुसार संजय गांधी अस्पताल के सीएमओ डॉ अलख प्रकाश को लोकायुक्त पुलिस ने 10 हजार की रिश्वत लेते रंगे हांथों पकड़ा है। बताया तो यह भी जाता है कि सीएमओ ने यह पैसे अपने हाथ में लेने के बजाय अपने क्लीनिक के कंपाउंडर रणजीत अग्निहोत्री के माध्यम से लिए। ऐसे में लोकायुक्त ने डॉ अलख प्रकाश तथा उनके कंपाउंडर रणजीत अग्निहोत्री को गिरफ्तार कर लिया है।
शिकायतकर्ता अमित तिवारी के बताए अनुसार डॉ अलख प्रकाश ने मारपीट के मामले में एमएलसी बनाने के लिए से 20 हजार की मांग की थी। डा अलख प्रकाश को फरियादी अमित तिवारी निवासी गोरगांव रायपुर कर्चुलियान ने 5000-5000 रुपये की दो किस्त दे पहले ही दे चुका था। तीसरी किस्त 10000 रूपये देने के लिए उनकी क्लीनिक में आया था, जहां डाक्टर के कंपाउंडर रणजीत अग्निहोत्री ने पैसे लिए। इसी दौरान लोकायुक्त ने रंगे हांथों उसे गिरफ्तार कर लिया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.